2024 की फाइनल तैयारी में BJP, यूपी के दो दिवसीय दौरे पर BL संतोष

लखनऊ ,

नए साल आगाज के साथ ही बीजेपी उत्तर प्रदेश में मिशन-2024 के मंथन में जुट गई है. बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष दो दिवसीय दौरे पर सोमवार को लखनऊ पहुंच रहे हैं, जहां आगामी कार्यक्रमों की रूपरेखा पर चर्चा कर खाका तैयार करेंगे. बीएल संतोष प्रदेश पार्टी के प्रदेश पदाधिकारियों, मोर्चों के अध्यक्षों और जिला अध्यक्षों के साथ अलग-अलग बैठक करेंगे.

बीजेपी के अलग-मोर्चे की होगी बैठक
यूपी में गृहमंत्री अमित शाह और बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे से पहले धार देने की रणनीति है, जिसके तहत बीजेपी के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बीएल संतोष सोमवार और मंगलवार दो दिन लखनऊ में रहेंगे. इस दौरान मैराथन बैठकों का दौर चलेगा. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, यूपी के संगठन महामंत्री धर्मपाल सिंह, प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, तीनों सह प्रभारी सुनिल ओझा, सत्या कुमार, संजीव चौरसिया भी मौजूद रहेंगे. पार्टी की यह बैठक मिशन 2024 के लिए रोड मैप तैयार करने की दिशा में पहला कदम होगा.

बीजेपी के संगठन महामंत्री का दो दिवसीय प्रवास पार्टी के अलग-अलग मोर्चों और जिला टीम के लिए भी अहम है. इसमें आगामी कार्यक्रमों और अभियानों की रूपरेखा तैयार करने की है. मिशन 2024 से पहले अपने किस मोर्चे को किस मिशन की जिम्मेदारी सौंपनी है, इसकी शुरुआती तैयारी सोमवार को बैठक में होगी. साथ ही पिछले कार्यक्रमों और अभियानों की समीक्षा भी की जाएगी.

बीजेपी 2024 के फाइनल तैयारी में जुटी
यूपी में बीजेपी के सामने नगर निकाय चुनाव के रूप में बड़ा लक्ष्य है, लेकिन ओबीसी आरक्षण को लेकर हाईकोर्ट के आदेश के बाद पार्टी के स्टैंड को देखते हुए अभी उसमें समय लगना है. ऐसे में बीजेपी शहरीय निकाय चुनाव पर मंथन के साथ-साथ 2024 के फाइनल परीक्षा की तैयारी में जुट जाना चाहती है. इतना ही नहीं प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी की टीम का गठन भी होना है, जिसकी अगुवाई में 2024 के चुनाव होने हैं. ऐसे में प्रदेश संगठन को लेकर भी मंथन किया जाना है.

बता दें कि जनवरी में ही बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा का यूपी दौरा होना है, लेकिन उससे पहले केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी उत्तर प्रदेश आएंगे. बीजेपी 2024 के लोकसभा के मद्देनजर यूपी में किसी तरह की कोई जोखिम नहीं लेना चाहती, क्योंकि यहीं से जीतकर देश की सत्ता के सिंहासन पर काबिज हुई है. यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से 2014 में बीजेपी गठबंधन ने 73 और 2019 में 64 सीटें जीती थी.

बीजेपी का क्लीन स्वीप का टारगेट
बीजेपी ने 2024 के चुनाव में उत्तर प्रदेश में क्लीन स्वीप का टारगेट रखा है. ऐसे में पार्टी उसकी नजर खासकर उन सीटों पर है, जहां पर 2019 में उसे हार का सामना करना पड़ा था. बीजेपी 16 हारी सीटों में से दो सीटें उपचुनाव में जीत चुकी है और उसकी नजर उन 14 सीटों पर है, जहां पर विपक्षी दलों के सांसद हैं. सीएम योगी आदित्यनाथ अपने भाषणों में सभी 80 सीटें जीतने की बात कह रहे हैं.

पार्टी की योजना 2024 के चुनाव में सभी 80 की 80 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा है. ऐसे में बीजेपी की रणनीति उन 14 सीटों को लेकर तैयार होनी है, जहां पर अभी पार्टी के सांसद नहीं हैं बल्कि विपक्ष का कब्जा है. बीएल संतोष के दौरे में इन सीटों के लिए भी रूपरेखा तैयार हो जाएगी. इन सीटों की जिम्मा पहले से ही केंद्रीय मंत्रियों के हाथों में है और उनकी मानिटरिंग शीर्ष नेतृत्व पर की जा रही है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा भी अपने दौरे पर इसकी समीक्षा करेंगे.

बीएल संतोष सोमवार को 12 बजे से प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक करेंगे. इसके बाद सभी जिला अध्यक्षों और प्रभारियों की बैठक 2 बजे होगी. शाम 4 बजे विभिन्न मोर्चों के अध्यक्षों और महामंत्रियों की बैठक होगी. इसके बाद देर शाम बीजेपी कोर ग्रुप की भी बैठक होगी. माना जा रहा है कि इन बैठकों के जरिए आगामी चुनाव की रणनीति बनेगी और कैसे जमीन पर उसे उतरना है उस पर भी मंथन किया जाएगा? Live TV

About bheldn

Check Also

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को बड़ा झटका, BSP छोड़ने की तैयारी में सभी 10 सांसद?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले देश के सबसे बड़े सियासी सूबे उत्तर प्रदेश में पूर्व …