यूक्रेन के रॉकेट हमले में मारे गए पुतिन के 63 सैनिक, रूस ने किया दावा, 2023 में भी जारी रहेगी तबाही?

मॉस्को

रूस और यूक्रेन का युद्ध पिछले 10 महीनों से चल रहा है और अब 2023 में प्रवेश कर चुका है। भीषण ठंड के बीच भी दोनों ओर से हमले जारी हैं। सोमवार को रूस ने दावा किया कि यूक्रेन की तरफ से किए गए रॉकेट हमले में उसके 63 सैनिकों की मौत हो गई। हालांकि इस तरह के चौंकाने वाले दावे दोनों ओर से कई बार किए जा चुके हैं। दूसरी ओर यूक्रेन के अधिकारियों ने रूस पर ड्रोन हमलों का आरोप लगाया। नए साल पर दोनों देशों ने हमले तेज कर दिए हैं जो इस बात का संकेत देता है कि आने वाले दिनों यह जंग किस तरफ जाएगी। मौजूदा समय में कोई भी पक्ष वार्ता के मूड में नहीं लग रहा है।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को कहा कि पूर्वी डोनेट्स्क क्षेत्र में यूक्रेन के रॉकेट हमले में उसके 63 सैनिक मारे गए हैं। रूस के कब्जे वाले डोनेट्स्क क्षेत्र में उस जगह रॉकेट हमला हुआ, जहां रूसी सैनिक तैनात थे। मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि यूक्रेन की ओर से HIMARS लॉन्च सिस्टम से छह रॉकेट दागे गए, जिनमें से दो को रूसी बलों ने नष्ट कर दिया। अमेरिका की ओर से भेजी गई इस प्रणाली का इस्तेमाल करते हुए हमले कर यूक्रेनी बल प्रमुख लक्ष्यों को निशाना बनाने में सफल हो रहे हैं, जिसे रूस के लिए नया झटका माना जा रहा है।

2023 में भी जारी रहेगी रूस की बमबारी
दूसरी ओर दावा किया गया कि यूक्रेन के कई इलाकों को निशाना बनाने के लिए रूस ने पिछली रात कई ड्रोन भेजे। यूक्रेनी अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि कई हमलावर ड्रोन को मार गिराया गया। इन ड्रोन हमलों के साथ ही क्रेमलिन ने नागरिक बुनियादी ढांचे को टारगेट करने और यूक्रेनी प्रतिरोध को कम करने के उद्देश्य से बमबारी करने की अपनी रणनीति में कोई कमी नहीं होने का संकेत दिया है। ड्रोन हमलों की यह बौछार साल के अंत में लगातार होने वाले हमलों की श्रृंखला में नवीनतम थी।

कीव की ओर बढ़ रहे ड्रोन नष्ट किए गए
इससे पहले नए साल की पूर्व संध्या पर हमलों में तीन नागरिकों की मौत हो गई थी। कीव के मेयर विटाली क्लिट्सको ने सोमवार को सुबह कहा कि वायु रक्षा बलों के अनुसार, 40 विस्फोटक ड्रोन रात में ‘कीव की ओर बढ़े’ और उन सभी को नष्ट कर दिया गया। उन्होंने कहा कि कीव में 22, बाहरी कीव क्षेत्र में तीन और पड़ोसी प्रांतों में 15 ड्रोन नष्ट किए गए। मेयर ने कहा कि राजधानी में एक बुनियादी ढांचा क्षतिग्रस्त हो गया और शहर के एक जिले में विस्फोट भी हुआ। यह तत्काल स्पष्ट नहीं हो सका कि यह ड्रोन से हुआ या अन्य विस्फोटक सामग्री के कारण।

About bheldn

Check Also

गाजा के नुसीरत रिफ्यूजी कैंप पर इजरायल ने की बमबारी, दो दर्जन से ज्यादा फिलिस्तीनियों की मौत

नई दिल्ली, गाजा में उठते धुएं का गुबार. लगातार हो रही बमबारी. बारूद की बौछार …