‘हम नशे में थे, लड़की कार में फंसी थी…’ कंझावला कांड के दो आरोपियों का कबूलनामा

नई दिल्ली,

देश की राजधानी दिल्ली में नए साल के जश्न के बीच 5 लड़कों ने एक लड़की को कार से 4 किलोमीटर तक घसीटा. इससे लड़की की दर्दनाक मौत हो गई. लड़की शनिवार-रविवार की दरमियानी रात स्कूटी से घर जा रही थी, उसी दौरान कार से उसका एक्सीडेंट हो गया. इस मामले में पुलिस ने जो एफआईआर दर्ज की है, उसमें दो आरोपियों ने पुलिस के सामने कहा है कि हम नशे में थे. जब उन्होंने देखा कि कार में लड़की फंसी है तो डरकर भाग गए थे. पुलिस का कहना है कि दोनों आरोपियों का मेडिकल कराया गया था.

एफआईआर में हादसे का समय 2AM दर्ज है. इंडिया टुडे/आजतक का सीसीटीवी घटना से कुछ मिनट पहले का है. एफआईआर में कहा गया है कि किशन विहार पोस्ट पर 1:52 बजे स्कूटी दिखाई दी और इसके बाद 1:58 बजे कार भी नजर आई.

एफआईआर में कहा गया है कि अभियुक्तों को पता था कि उन्होंने स्कूटी सवार लड़की का एक्सीडेंट किया है. इसके बाद उन्होंने मौके से भागने की कोशिश की. हादसे की सूचना के बाद जब पुलिस पहुंची तो वहां दुर्घटनाग्रस्त स्कूटी मिली. स्कूटी फ्रंट राइट साइड में डैमेज थी. मौके पर किसी के घायल होने के बारे में कोई जानकारी नहीं मिली और न ही मौके पर कोई चश्मदीद मिला.

स्कूटी के पास एक काले रंग का जूता पड़ा था. इसके बाद मौके पर क्राइम टीम को बुलाया गया, जिसने निरीक्षण कर घटना को फोटोग्राफ कराए. इसके बाद पुलिस ने स्कूटी को कब्जे में लेकर उसकी ऑनरशिप के बारे में पता किया, इस दौरान पता चला कि स्कूटी करीब 5 साल पहले बेच दी गई थी.

हादसे के बाद इस तरह आरोपियों तक पहुंची पुलिस
पुलिस ने जब कॉल पर घटना की सूचना देने वाले से बात की पता चला कि Car संख्या DLBCAY 6414 से हादसा हुआ है. पुलिस लड़की को लेकर एसजीएम हॉस्पिटल मंगोलपुरी पहुंची, जहां डॉक्टर ने उसे Brought Dead घोषित कर दिया.इसके बाद पुलिस टीम कार के रजिस्टर्ड ऑनर लोकेश पुत्र सुरेश के यहां पहुंची. इस पर लोकेश ने पुलिस को बताया कि कार उसके जीजा आशुतोष पुत्र शंभू दयाल शर्मा के पास है.

इसके बाद पुलिस ने आशुतोष से बात की तो पता चला कि कार को उसका दोस्त दीपक खन्ना पुत्र राजेश खन्ना और अमित खन्ना पुत्र राज कुमार खन्ना 31 दिसंबर की शाम करीब 7 बजे लेकर गए थे. इसके बाद दीपक और अमित कार को सुबह करीब पांच बजे एक्सीडेंटल हालत में खड़ी कर चले गए.

अमित और दीपक ने पुलिस के सामने कहा कि हम नशे में थे. दिल्ली के कृष्ण विहार इलाके में एक स्कूटी सवार लड़की का एक्सीडेंट कर दिया था. इसके बाद दे डरकर कंझावला की तरफ भाग गए. दीपक ने पुलिस को बताया कि वह कार चला रहा था और मनोज पुत्र सुंदर लाल उसके साइड वाली सीट पर आगे बैठा था. वहीं पीछे की सीट पर मिथुन पुत्र शिवकुमार, कृष्ण पुत्र काशी नाथ और मनोज मित्तल और अमित बैठा था.

आरोपियों को पता था- स्कूटी सवार लड़की का किया है एक्सीडेंट
आरोपियों ने बताया कि रास्ते में जब कृष्ण विहार में शनि बाजार रोड पर एक स्कूटी सवार लड़की का एक्सीडेंट कर दिया था, इससे लड़की गिर गई थी. इसके बाद वे डर की वजह से कंझावला की तरफ भाग गए थे.उन्होंने कार कंझावला रोड पर Jonti village के पास रोकी. वहां जब कार के नीचे स्कूटी वाली लड़की दिखाई दी तो सभी लड़की को वहीं छोड़कर अपने दोस्त आशुतोष के यहां पहुंचे. वहां कार खड़ी करके सभी अपने-अपने घर चले गए.

इस घटना को लेकर पुलिस ने अमित और दीपक का मेडिकल कराया है. एफआईआर में कहा गया है कि आरोपी कार को लापरवाही के साथ तेज रफ्तार से चला रहे थे. इस दौरान एक्सीडेंट करके भाग गए.

बीच रोड पर मिली थी लड़की की लाश, शरीर पर नहीं था एक भी कपड़ा
हादसे के बाद जब पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची तो देखा कि लड़की की लाश बेहद खराब हालत में थी. शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं बचा था. रोड पर घसीटने की वजह से लड़की के पैरों की हड्डियां गायब हो गई थीं और ज्यादातर हिस्सा डैमेज था. इसके बाद पुलिस ने औपचारिकताएं पूरी कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा.इस हादसे के बाद डीसीपी ने कहा कि ये कोई सेक्सुअल असॉल्ट नहीं है. उन्होंने कहा था कि घटना की जांच में पता चला है कि ये एक जानलेवा हादसा है.

लड़की के परिवार में मां के अलावा चार बहनें और दो भाई
स्कूटी सवार जिस लड़की की हादसे में मौत हो गई, उसके परिवार में मां और चार बहनें व दो भाई हैं. लड़की का परिवार अमन विहार का रहने वाला है. दो छोटे भाइयों में एक 9 साल का और दूसरा 13 साल का है. लड़की के पिता की पहले ही मौत हो चुकी है. एक बहन की शादी हो चुकी है.

पुलिस को दो बार कॉल पर मिली थी हादसे की जानकारी
पुलिस ने बताया कि कॉल पर सूचना मिली थी कि एक ग्रे कलर की कार कुतुबगढ़ की तरफ जा रही है. उसमें एक लड़की की लाश लटकी हुई दिख रही है. इसके बाद तुरंत तैनात पुलिसकर्मियों को सतर्क कर दिया गया था.सूचना मिलते ही पुलिस ने कार की तलाश करनी शुरू कर दी. इसके कुछ समय बाद पुलिस को पीसीआर कॉल मिली. इस दौरान कॉल करने वाले ने कहा कि थाना कंझावला में सड़क पर एक लड़की का शव पड़ा है. इस पर पुलिस ने टीम के साथ मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया और छानबीन की.

About bheldn

Check Also

UP: मां से अवैध संबंध, 8 साल की बेटी से रेप, लखनऊ में मदरसे का मौलाना गिरफ्तार

लखनऊ , लखनऊ के एक मदरसे में पढ़ने वाली मासूम बच्ची के साथ कुकर्म का …