आगे अंजलि को कुचलने वाली कार, पीछे दिखी PCR वैन… कंझावला कांड का नया CCTV वीडियो

नई दिल्ली,

दिल्ली के कंझावला मामले में रोज नए खुलासे हो रहे हैं. अब एक नया सीसीटीवी फुटेज सामने आया है जिसमें आरोपियों की गाड़ी भी दिखाई दे रही है, एक पीसीआर वैन भी है और अंजलि को घसीटा जा रहा है. इससे पहले भी इस घटना के कई ऐसे ही वीडियो सामने आ चुके हैं.

इस सीसीटीवी फुटेज की बात करें तो इसमें एक्सीडेंट के बाद कार जिस रास्ते से गुजरी उस रास्ते पर दिल्ली पुलिस की पीसीआर वैन दिखी. सीसीटीवी की फुटेज में देखा जा सकता है कि ठीक कार जिस रास्ते से निकली है, उसी के चंद मिनट के बाद पीसीआर वैन गुज़री. अब इस सीसीटीवी फुटेज में बड़ी बात ये है कि पुलिस की गाड़ी भी मौके से निकली थी. यानी कि एक्सीडेंट के बाद एक वक्त ऐसा आया था जब आरोपी की गाड़ी और पुलिस की पीसीआर वैन में दूरी कम रही होगी. लेकिन फिर भी किसी को इस मामले की भनक नहीं लगी और आरोपी भी धड़ल्ले से गाड़ी भगाते रहे.

इस मामले में वैसे भी पुलिस पर ही सबसे ज्यादा सवाल खड़े हुए हैं. सवाल ये है कि 31 दिसंबर की रात को पुलिस की पहरेदारी हादसे वाले इलाके में इतनी कम कैसे थी. सवाल ये भी है कि जिन तीन इलाकों से होकर आरोपियों की गाड़ी निकली थी, वहां पर 9 पुलिस थाने पड़ते थे, फिर भी किसी की नजर कैसे नहीं पड़ी. पुलिस के पास इन सवालों का कोई जवाब नहीं है, उनकी तरफ से सिर्फ आरोपियों से पूछताछ की जा रही है.

वैसे इस मामले में मंगलवार को उस समय भी बड़ा नाटकीय मोड़ आ गया जब अंजलि की दोस्त निधि ने आजतक से खास बातचीत की. उस बातचीत में निधि ने एक नहीं कई बड़े खुलासे किए. दावा किया गया कि आरोपियों को पहले ही पता चल गया था कि अंजलि उनकी गाड़ी के नीचे फंस गई थी, लेकिन फिर भी वे जानबूझकर गाड़ी को भगाते रहे. दूसरा दावा ये किया गया कि अंजलि जिस समय स्कूटी चला रही थी, वो शराब के नशे में थी. तीसरा दावा ये किया गया जिस समय एक्सीडेंट हुआ, गाड़ी में कोई गाना नहीं चल रहा था. ये पुलिस की उस थ्योरी से उलट है जहां पर आरोपियों ने बताया था कि गाने की तेज आवाज की वजह से उन्हें लड़की के नीचे फंसे होने का पता नहीं चला.

इस मामले की बात करें तो 31 की रात को अंजलि और उसकी दोस्त ने अपने दोस्तों के साथ एक होटल में नए साल का जश्न मनाया था. फिर रात करीब दो बजे दोनों लड़कियां स्कूटी से अपने घर के लिए निकल गई थीं. निधि के बयान के मुताबिक पहले उसने स्कूटी चलाई थी, लेकिन फिर अंजलि ने खुद ही ड्राइव करने की जिद्द की. जब उसने स्कूटी चलाना शुरू किया, सामने आ रही एक तेज रफ्तार गाड़ी ने उनके वाहन में टक्कर मार दी. उस हादसे में निधि तो बच गई, लेकिन अंजलि गाड़ी के नीचे जा फंसी. फिर गाड़ी में बैठे युवक कार को भगाते रहे और अंजलि को कई किलोमीटर तक घसीटा. उस वजह से ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई.

About bheldn

Check Also

डॉक्टरों ने बनाई ऐसी दवा दोबारा नहीं होगा कैंसर, जानलेवा साइड इफेक्ट्स करेगी कम

मुंबई, देशभर में हर साल बड़ी संख्या में लोग कैंसर से जान गंवा देते हैं. …