यह कैसी सहेली है? अंजलि के ‘राज’ खोल रही निधि पर ही अब उठने लगीं अंगुलियां

नई दिल्ली

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के सुल्तापुरी स्थित कंझावाला में नए साल के पहले दिन सामने आई खौफनाक वारदात से पूरा देश सदमे में है। इस बीच मृतक अंजलि की सहेली निधि के बयानों से चौतरफा नाराजगी का इजहार हो रहा है। अंजलि के परिजन तो निधि की मंशा पर सवाल उठा ही रहे हैं, दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल से लेकर सोशल मीडिया यूजर्स तक निधि पर नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। लोग यहां तक कह रहे हैं कि भारत की धरती कृष्ण-सुदामा की दोस्ती के लिए जानी जाती है, अब अंजलि-निधि की दोस्ती की दुहाई भी दी जाएगी। जिस तरह निधि ने अंजलि को कार के नीचे घिसटते छोड़कर चुपचाप घर चली गई और तब तक चुप्पी साधे रखा जब तक कि सीसीटीवी देखकर पुलिस ने उसे ढूंढ नहीं निकाला। निधि अब मीडिया कैमरों से घिर रही है। पुलिस ने भी उससे पूछताछ कर ली है। निधि से नाराजगी की सबसे बड़ी वजह है, उसका सहेली को तड़पकर मरते छोड़कर भाग खड़ा होना और फिर उसे ही हादसे का जिम्मेदार ठहराने की कोशिश करना। निधि का कहना है कि अंजलि ने होटल में बहुत पी रखी थी, फिर भी लड़कर स्कूटी की चाभी ली और लाख मना करने के बावजूद खुद ही ड्राइव की। हालांकि, अंजलि के चाचा डॉ. भूपेंद्र चौरसिया का दावा है कि पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट में अंजलि के शराब पिए होने की कोई बात नहीं है।

अंजलि के चाचा ने कहा- झूठ बोल रही है निधि
डॉ. चौरसिया ने कहा, ‘निधि के सारे आरोप बेबुनियाद हैं। एक लड़की 75-76 घंटे तक गायब रही और अचानक वो सामने आकर कहती है कि वो घटना की चश्मदीद है।’ उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में दावा किया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि अंजलि का भेजा (ब्रेन या दिमाग) नहीं मिला है। कुछ किलो मीटर घिसटने के बाद संभव है कि उसका ब्रेन पार्ट खोपड़ी से निकलकर कहीं गिर गया हो। यह सिर्फ हत्या नहीं है बल्कि दर्द देकर हत्या की गई है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक, अंजलि के पूरे शरीर में कुल 40 जख्म हैं। घिसटने की वजह से पैदा हुई गर्मी के कारण शरीर में कम-से-कम 25-26 जगह चमड़ी जल गई। अंजलि के दोनों फेफड़े बाहर आ गए थे। रिपोर्ट के मुताबिक, अंजलि 5-6 किलो मीटर तक घिसटने तक जिंदा थी, उसके बाद उसकी मौत हो गई। उन्होंने ये बातें बताते हुए पूरी पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट भी संवाददाताओं को दिखाई। उन्होंने कहा, ‘पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कहा गया है कि अंजलि के पेट में अल्कोहल नहीं पाया गया है।’

निधि ने कहा- अंजलि ने खूब शराब पीकर की ड्राइविंग
वहीं, निधि का दावा है कि अंजलि का होटल में उसके बॉयफ्रेंड से झगड़ा हुआ था। उसका बॉयफ्रेंड उसे छोड़कर चला गया तो अंजलि ने खूब शराब पी ली। फिर जब जाने की बारी आई तब वो स्कूटी खुद ड्राइव करने पर अड़ गई। लाख समझाने पर भी नहीं मानी तो मैंने उसे चाभी दे दी। निधि ने कहा, ‘पहले हमारा एक बड़े ट्रक से टक्कर होते-होते बचा। फिर स्कूटी रुकवाई, लेकिन वो नहीं मानी और मुझे चाबी नहीं दी। अंजलि ड्रिंग कर रखी थी, लेकिन (बलेनो में सवार) उन लड़कों को भी पता था कि लड़की नीचे दबी हुई है।’ लेकिन अंजलि की मां का कहना है कि निधि ने एक तो उनकी बेटी को मरने के लिए छोड़ दिया और अब मरने के बाद उस पर कीचड़ उछाल रही है। उन्होंने सवाल किया कि जब स्कूटर पर पीछे निधि भी बैठी थी तो उसे हल्की चोट भी क्यों नहीं आई। अंजलि की मां ने कहा, ‘वो लड़की साथ थी तो तीन दिन से सो रही थी? मान लीजिए कि मेरी बेटी के साथ इतना बड़ा हादसा हो गया, चलो एक्सिडेंट ही सही, लेकिन उसे (निधि को) चोट क्यों नहीं आई? दोनों एक गाड़ी पे थे तो उसे थोड़ी भी तो चोट लगती?’

निधि के बयानों पर बिफरीं स्वाति मालीवाल
दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल भी निधि के बयानों की खुलकर आलोचना कर रही हैं। उन्होंने ट्वीट कहा कि घटना को लेकर निधि की भी जांच होनी चाहिए। उन्होंने लिखा, ‘आज जब पुलिस ने अंजलि की ‘दोस्त’ को पकड़ा तो वो टीवी पर आके अंजलि के बारे में ऊलूल-जलूल बकवास कर रही है। जो लड़की अपनी दोस्त को सड़क पर मरता देख उसकी मदद करने की जगह घर जाकर सो गयी, उसपे कैसे विश्वास किया जा सकता है?’ उन्होंने कहा कि अगर निधि ने वक्त रहते हादसे की खबर दी होती तो आज शायद अंजलि की जान बच गई होती। लेकिन दुर्भाग्य से उसने ऐसा नहीं किया और वो भाग खड़ी हुई। आश्चर्यजनक है कि वह अब अंजलि का ही चरित्र हनन करने में जुट गई है।

निधि का घर भागते वीडियो मिला
इस बीच निधि के अपने घर पहुंचने के बाद का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आ गया है। इस फुटेज में साफ दिख रहा है कि निधि गली में तेजी से भागते हुए अपने घर आती है।

निधि ने बताई उस रात की पूरी बात
निधि ने पुलिस से पूछताछ में बताया कि वह अंजलि के साथ नए साल का जश्न मनाने सुल्तानपुरी के ओयो होटल आई थी। दोनों 31 दिसंबर की शाम 7.30 बजे होटल पहुंची थी और पार्टी के बाद रात 1.30 बजे वहां से निकल गई। निधि के मुताबिक, रात करीब 2 बजे हादसा हुआ और सुबह करीब 3.30 बजे कंझावाला में अंजलि का क्षत-विक्षत शव मिला। निधि ने पुलिस को बताया कि होटल से उसने खुद स्कूटी ड्राइव की थी, लेकिन बाद में अंजलि ने स्कूटी रुकवाकर खुद ही स्कूटी ड्राइव करने लगी। हालांकि, मीडिया के सामने उसने उलटा कहा। उसने कहा कि होटल के बाहर से ही अंजलि ने ही स्कूटी ड्राइव की थी। चूंकि उसने बहुत ज्यादा शराब पी रखी थी, इसलिए एक ट्रक के साथ हादसा होते-होते बचा। फिर भी अंजलि ने चाभी नहीं दी और वही ड्राइव करती रही। होटल के बाहर निधि और अंजलि के बीच धक्का-मुक्की का वीडियो भी मिला है। इस वीडियो को लेकर निधि ने कहा, ‘मेरा कोई झगड़ा नहीं हुआ था। मैंने कहा कि मैं ड्राइव करूंगी क्योंकि वो बहुत ज्यादा नशे में थी। हमारी लड़ाई नहीं हो रही थी, हमारी (स्कूटी की) चाभी पर बहस हो रही थी। वो कह रही थी कि मैं ड्राइविंग करूंगी, मैं कह रही थी- मैं ड्राइविंग करूंगी।’

कंझावला एक्सिडेंट केस में ट्विस्ट, सहेली ने कहा- फ्रेंड ने शराब पी हुई थी
निधि ने पुलिस को बताया कि जब वो कृष्णा विहार पहुंची तब उसकी स्कूटी का कार से टक्कर हो गया। वो नीचे गिर गई जबकि अंजलि कार के नीचे किसी चीज में अटक गई। उसने मीडिया के सवालों पर कहा कि वो नहीं जानती है कि कार में बैठे लड़के कौन थे। उसने कहा कि सबकुछ उसके सामने हुए और उसने सबुकछ देखा। उसने कहा, ‘मुझे सब पता था, लड़की नीचे से चिल्ला रही थी। मैं होपलेस हो गई थी बहुत ज्यादा, इसलिए दौड़कर घर चली गई और डर के मारे किसी को नहीं बताया। मैं घर पर जाकर बहुत रोई। उसको बलेनो गाड़ी दो बार आगे, दो बार पीछे लेकर गई, फिर स्पीड में उसे खींचती हुई गई। अंजलि गाड़ी के नीचे किसी चीज में अटक गई थी। अटकने के बाद वो आगे गई, पीछे गई और फिर उसे गाड़ी घसीटते-घसीटते ले गई, वो छूटी ही नहीं होगी। जैसे ही ऐक्सिडेंट हुआ तो मैं पैदल ही अपने घर चली आई।’

आखिर चुप क्यों रही निधि, पूरा देश हैरान!
इतनी जघन्य वारदात पर भी उसने चुप्पी क्यों ठान ली? इस सवाल पर निधि का कहना है कि वो बहुत ज्यादा डर गई थी। उसे सूझ नहीं रहा था कि आखिर इसकी जानकारी दी भी जाए तो किसे। इसलिए वह दौड़कर घर आ गई क्योंकि घटना स्थल से उसका घर पास में ही है। उसने अंजलि का उसके बॉयफ्रेंड के साथ होटल में हुए झगड़े के सवाल पर मीडिया के सामने कहा, ‘उनका पर्सनल मैटर क्या है, मुझे नहीं पता। उनका पर्सनल मैटर क्या है, मुझे क्या पता।’ हालांकि, बाद में उसने दावा किया कि दोनों के बीच झगड़ा हुआ था, इसलिए अंजलि ने ज्यादा शराब पी ली थी। ध्यान रहे कि अंजलि जिस कार से घसीटी गई थी, उसमें सवार सभी पांच युवक गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

About bheldn

Check Also

किसान आंदोलन के बीच चर्चा में हैं पोकलेन मशीनें, इन पर क्यों सख्त है केंद्र-हरियाणा सरकार

नई दिल्ली, सरकार के साथ चार बार की बातचीत बेनतीजा निकलने के बाद एक बार …