वंदे भारत एक्सप्रेस पर पथराव मामले में बड़ी कार्रवाई, किशनगंज पुलिस ने तीन नाबालिग आरोपियों को पकड़ा

किशनगंज

बिहार के किशनगंज में वंदे भारत ट्रेन पर हुई पत्थरबाजी मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में तीन नाबालिगों को पकड़ा है। बता दें कि वंदे भारत एक्सप्रेस पर कुछ लोगों ने तीन जनवरी को पथराव किया था। यह घटना किशनगंज-एनजेपी रेलखंड के किशनगंज जिले के पोठिया थाना क्षेत्र स्थित निमला गांव में हुई थी। इस घटना को रेल प्रशासन ने काफी गंभीरता से लिया था। रेल प्रशासन जल्द से जल्द इस आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश कर रहा था। स्थानीय थाना पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी।

किशनगंज पुलिस के अनुसार, कुछ दिन पहले हुई घटना के मामले में गुरुवार सुबह ही प्राथमिकी दर्ज की गई थी। पुलिस ने बताया गुरुवार सुबह 10 बजकर 30 मिनट पर रेलवे अधिकारियों से सूचना मिली कि तीन जनवरी को अपराह्न करीब 12 बजकर 55 मिनट पर पत्थरबाजों ने वंदेभारत एक्सप्रेस के डिब्बों को नुकसान पहुंचाया है। उन्होंने बताया कि इस सूचना के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई और वीडियो फुटेज की जांच की गई। पुलिस ने बताया कि मामले में पोटिया पुलिस थाना क्षेत्र के निमलगांव के रहने वाले चार लड़कों की पहचान की गई, जिनकी उम्र करीब 14 साल है। इनमें से तीन को पकड़ कर किशोर न्याय बोर्ड के समक्ष पेश किया गया और चौथे की तलाश की जा रही है।

गौरतलब है कि सेमी हाईस्पीड इलेक्ट्रिक ट्रेन वंदे भारत एक्सवप्रेस पश्चिम बंगाल के हावड़ा से न्यू जलपाईगुड़ी के बीच चलती है और इस दौरान यह बिहार से गुजरती है। इस ट्रेन का बिहार से लगे कटिहार जिले के बरसोई में ठहराव है। एसपी डॉ इनामुल हक मेंगनु ने जिले वासियों से अपील किया कि सार्वजनिक या सरकारी संपत्ति को नुकसान नहीं पहुंचाएं। अगर कोई कानून हाथ में लेता है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बृहस्पतिवार को दावा किया था कि वंदे भारत एक्सप्रेस पर पत्थरबाजी पड़ोसी राज्य बिहार में की गई न कि उनके राज्य में। उन्होंने कहा कि वह उन मीडिया घरानों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगी, जिन्होंने घटना के पश्चिम बंगाल में होने की ‘झूठी खबर’ फैलाई।

About bheldn

Check Also

राहुल ने बनारस में शराब को लेकर ऐसा क्या बोला कि मच गया बवाल, विपक्षी नेताओं ने जमकर निकाली भड़ास

नई दिल्ली, कांग्रेस की भारत जोड़ो न्याय यात्रा इस वक्त उत्तर प्रदेश में हैं और …