चिली चिकन ‘विदाउट चिली’ ले आना… जब ममता बनर्जी की फरमाइश पर फंस गए TMC के दिग्गज

कोलकाता

सियासत में ममता बनर्जी अपने जुझारू और आक्रामक तेवरों के लिए चर्चित हैं। लेफ्ट के 34 साल के शासन को 2011 में ममता बनर्जी ने उखाड़ फेंका। ममता बनर्जी की शख्सियत का एक दूसरा पहलू भी है। उनकी जीवनशैली काफी सादगी वाली है। हवाई चप्पल और सूती साड़ी उनका ट्रेडमार्क स्टाइल है। शायद यही वजह है कि जब वह मां, माटी और मानुष की बात करती हैं तो आसानी से लोगों से कनेक्ट करती हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि टीएमसी सुप्रीमो को खाने में क्या पसंद है? अपने खानपान में वह किन चीजों से परहेज करती हैं? आइए जानते हैं उनकी लाइफ स्टाइल के बारे में कुछ अनसुनी बातें।

‘दिल्ली आती हैं तो चाइनीज डिश खाना पसंद’
ममता बनर्जी पर ‘ममता बियॉन्ड-2021’ (हार्पर कॉलिन्स इंडिया) किताब लिखने वाले वरिष्ठ पत्रकार जयंत घोषाल ने उनकी खानपान की आदतों के बारे में कई दिलचस्प जानकारियां एनबीटी ऑनलाइन से साझा कीं। जयंत घोषाल कहते हैं, ‘वह तीखा नहीं खा सकती हैं। बहुत अल्प भोजन करती हैं। चावल बहुत कम खाती हैं। दिनभर में कुछ बार दूध-चाय लेती हैं। शाम के वक्त वो मुरमुरा खाती हैं। अगर ममता बनर्जी चावल खाती भी हैं तो उसके साथ मछली भी खाती हैं लेकिन बहुत कम। चाइनीज फूड खाना वो पसंद करती हैं। हालांकि चाइनीज फूड आइटम वो डेली नहीं खाती हैं। लेकिन जब ममता बनर्जी का दिल्ली जाना होता है तो टीएमसी के सांसद डेरेक ओ ब्रायन कनॉट प्लेस की एक दुकान से चाइनीज फूड लाते हैं। कभी चाउमीन तो कभी चिली चिकन जैसे डिश वह लाते रहते हैं।’

जब डेरेक से कहा- चिली चिकन विदाउट चिली ले लाओ
ममता बनर्जी चाइनीज फूड की शौकीन हैं। इस बारे में जयंत घोषाल ने एक दिलचस्प किस्सा सुनाया। घोषाल बताते हैं, ‘एक बार दिल्ली प्रवास के दौरान ममता बनर्जी ने डेरेक ओ ब्रायन से कहा कि चिली चिकन ले आओ लेकिन एकदम उसमें मिर्च-मसाला नहीं रहेगा। इस पर डेरेक पसोपेश में पड़ गए और उन्होंने दिल्ली के एक वरिष्ठ पत्रकार से पूछा कि चिली चिकन विदाउट चिली कैसे हो सकता है? ममता ने डेरेक से कहा कि चिली चिकन ले आओ लेकिन तीखा नहीं होना चाहिए। अब चूंकि टीएमसी सुप्रीमो की फरमाइश थी तो डेरेक ओ ब्रायन को यह चिली चिकन विदाउट चिली लाना ही था।’

‘दिल्ली के बंगाली मार्केट की रसमलाई भी पसंद’
ममता बनर्जी को मिठाइयां भी पसंद हैं। वरिष्ठ पत्रकार जयंत घोषाल मिठाई के प्रति ममता के प्रेम का जिक्र करते हुए कहते हैं, ‘वो रसमलाई पसंद करती हैं। मंडी हाउस के पास जो बंगाली मार्केट है, वहां की नाथू स्वीट्स की रसमलाई ममता को अच्छी लगती है। इसके अलावा फ्रूट फ्लेवर की आइसक्रीम भी उनकी पसंदीदा है। इसके बारे में डेरेक ने उन्हें सबसे पहले बताया था। ओरिजिनल फ्रूट्स फ्लेवर वाली आइसक्रीम वह खाती हैं। इनमें ग्रेप्स और नारियल वाले फ्लेवर उन्हें पसंद हैं। लेकिन वह खाती बहुत कम हैं, दूसरे लोगों को खिलाती ज्यादा हैं।’

‘घर के खाने में खिचड़ी खाती हैं’
घर में ममता बनर्जी किस तरह का खाना पसंद करती हैं? इस सवाल पर जयंत घोषाल कहते हैं, ‘घर के खाने में दाल खाती हैं। इसके अलावा दिल्ली में पंजाबी लोग खसखस बोलते हैं, वह एक बंगाली डिश होती है, उसे हम लोग बंगाली में आलू पोस्तो बोलते हैं। ममता बनर्जी को ये भी खाने में पसंद है। इसके अलावा वह खिचड़ी खाती हैं। काली पूजा के समय भी वो खुद खिचड़ी बनाती हैं। ममता बनर्जी खाना अच्छा बनाती हैं।’

‘मोदीजी ने ट्रेडमिल से बचने की दी थी सलाह’
इसके अलावा अपनी व्यस्त जीवनशैली के बीच स्वास्थ्य को लेकर ममता बनर्जी काफी जागरूक हैं। जयंत घोषाल कहते हैं, ‘वह पैदल बहुत चलती हैं। ट्रेडमिल पर भी वो काफी चलती हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अभी हाल ही में उनको ज्यादा ट्रेडमिल एक्सरसाइज करने से रोका भी था। उन्होंने सलाह दी थी कि टहलिए लेकिन ट्रेडमिल से थोड़ा बचिए। मोदी जी ने कहा था कि मैं ट्रेडमिल नहीं करता हूं क्योंकि एक उम्र के बाद इस पर ज्यादा तेजी से चलने की वजह से घुटनों पर असर पड़ता है।’

About bheldn

Check Also

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को बड़ा झटका, BSP छोड़ने की तैयारी में सभी 10 सांसद?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले देश के सबसे बड़े सियासी सूबे उत्तर प्रदेश में पूर्व …