कंझावला केस में आरोपियों के पॉलीग्राफी टेस्ट की तैयारी, निधि की मां का दावा, अंजलि को कुचला गया

कंझावला

दिल्ली के कंझावला घटना में अंजलि के दोस्त के अलावा पुलिस भी सवालों के घेरे में हैं। इस घटना पर खराब रेस्पांस को लेकर पुलिस की आलोचना भी हो रही है। इस बीच, पीसीआर वैन यूनिट को पुलिस स्टेशन और जिले के साथ अटैच को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि कम से कम एक पीसीआर वैन ने इस घटना के बारे में जानकारी देने वाले एक कॉल का जवाब तक नहीं दिया।

आरोपियों का होगा पॉलीग्राफी टेस्ट?
इस बीच, दिल्ली पुलिस इस घटना के आरोपियों का पॉलीग्राफी टेस्ट के लिए कोर्ट से इजाजात मांग सकती है। बताया जा रहा है कि इस घटना में इस्तेमाल कार 20 साल पुरानी है। आरोपियों ने बताया कि उन्होंने कार को इसके मालिक को रात में नहीं लौटाया था। हालांकि, पुलिस को आरोपियों के इस बयान पर भरोसा नहीं हो रहा है। जांच में आरोपियों के बयान की बारीकी से जांच की जा रही है। आरोपियों ने बताया है कि उन्हें ये पता नहीं चल पाया कि कार के अंदर कोई फंसा हुआ है। पुलिस सूत्र ने बताया कि आरोपियों की पॉलीग्राफी टेस्ट के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल की जाएगी।

सीसीटीवी फुटेज की टाइमिंग पर भी सवाल
पुलिस को कई सीसीटीवी फुटेज में टाइम मिसमैच भी मिला है। निधि के घर के करीब जो कैमरा लगा है उसके अनुसार निधि रात के 1.36 बजे घर लौटती दिख रही है। लेकिन पुलिस ने बताया कि यहां के सीसीटीवी का डीवीआर 45-50 मिनट स्लो था। इसी तरह होटल के बाहर जो फुटेज रिकॉर्ड हुआ उसमें निधि और अंजलि के होटल छोड़ने का वक्त 1.32 मिनट रिकॉर्ड हुआ है जबकि यहां भी सीसीटीवी का डीवीआर 15 मिनट स्लो था।

निधि की मां का दावा, अंजलि को कुचला गया
इस बीच, निधि की मां ने एक चैनल से बातचीत में दावा किया कि अंजलि को जानबूझकर मारा गया है। उन्होंने दावा किया कि आरोपियों ने जानबूझकर अंजलि को मारा था। उन्होंने बताया कि निधि ने बताया था कि बड़ा दुर्घटना हो गया है। निधि के ऊपर भी गाड़ी चढ़ाने की कोशिश की गई थी। उन्होंने बताया कि अंजलि को गाड़ी आगे-पीछे करके कुचला गया। निधि की मां ने बताया कि आरोपियों ने गाड़ी पर काला शीशा चढ़ा रखा था।

फॉरेंसिक टीम ने कार का किया परीक्षण
फॉरेंसिक जांच में पता चला है कि महिला कार के नीचे फंस गई थी। कार के इसी हिस्से में खून के धब्बे दिखे थे। ऐसा लगता है कि महिला का चेहरा कार की बूट की तरफ था और उसका बेल्ट और पीछे का हिस्सा आगे की तरफ फंस गया था।

ओयो होटल के मैनेजर का बयान दर्ज
उधर, पुलिस ने ओयो होटल के मैनेजर और स्टाफ के बयान को भी दर्ज कर लिया है। पुलिस ने अंजलि के एक पुरुष मित्र से भी पूछताछ की है। होटल ने सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को शेयर किया है। फुटेज में साफ दिख रहा है कि आसपास के कमरे के लोग वहां हंगामा को रोकते दिख रहे हैं। इस हंगामे के बाद ही होटल स्टाफ ने उन्हें बार जाने को कहा। अंजलि की दोस्त निधि ने पुलिस को बताया था कि इसी घटना में उसका फोन डैमेज हो गया था।

निधि के बयान पर भी सवाल
मृतक अंजलि के दोस्त निधि के बयान पर भी सवाल उठ रहे हैं। उनके पुलिस को फोन नहीं करने पर भी सवाल उठ रहे हैं। उनके घटनास्थल से भागकर चुपचाप घर जाने को लेकर भी उनसे सवाल पूछे गए हैं। इस बीच उन्होंने कहा था कि उनका मोबाइल होटल में हंगामे के दौरान डैमेज हो गया था।

कंझावला हादसे पर दिल्ली पुलिस पर आप का हमला
कंझावला हादसे पर दिल्ली पुलिस पर आम आदमी पार्टी ने हमला बोला है। पार्टी ने प्रदर्शन कर अंजलि के गुनहगारों को सख्त से सख्त सजा देने की मांग की है। पुलिस ने कार का फॉरेंसिक टेस्ट कर लिया है। अब आगे की कार्रवाई की जा रही है।

About bheldn

Check Also

‘नीतीश का दर्द न जाने कोय’, मुख्यमंत्री पर आंखें तरेर रहे एनडीए के साथी और जेडीयू नेता, जानिए

पटना भाजपा के साथ जाकर नीतीश कुमार फंस गए लगते हैं। अधिकारी उनकी बात नहीं …