भारत जोड़ो यात्रा की आज से पंजाब में एंट्री, राहुल ने गोल्डन टेंपल में टेका माथा, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

नई दिल्ली,

राहुल गांधी हरियाणा के बाद पंजाब से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत करेंगे लेकिन इससे पहले उन्होंने दोपहर करीब 2 बजे अमृतसर पहुंचकर स्वर्ण मंदिर में माथा टेका. यहां से वह वापस लौटेंगे और उसके बाद शंभु बॉर्डर से पंजाब में अपनी भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत करेंगे. इसके बाद राहुल गांधी की यात्रा जालंधर से आदमपुर होते हुए पठानकोट की तरफ से जम्मू कश्मीर में प्रवेश करेगी.

राहुल की यात्रा में रहेगी कड़ी सुरक्षा
पंजाब और जम्मू कश्मीर में भारत जोड़ो यात्रा को लेकर केंद्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने जरूरी इंतजाम कर दिए हैं. राहुल गांधी को जेड प्लस सुरक्षा मिली हुई है, इसलिए सूत्रों के मुताबिक एजेंसियों ने पंजाब और जम्मू कश्मीर पुलिस से संपर्क साधा है. जिन जगहों से यात्रा गुजरेगी, वहां की जानकारी साझा कर पुख्ता सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं. दरअसल पिछले कुछ महीनों में इन राज्यों में जो घटनाएं हुई हैं, उसको लेकर सुरक्षा एजेंसी सतर्क हैं. हर लोकेशन की रेकी की जा चुकी है.

मालूम हो कि कांग्रेस ने चिट्ठी लिखकर दिसंबर में यात्रा के दौरान उच्च सुरक्षा व्यवस्था की मांग उठाई थी. इसके जवाब में सीआरपीएफ का कहना था कि यात्रा संचालकों की ओर से सुरक्षा नियमों का पालन नहीं किया गया. यात्रा में हिस्सा लेने वाले जेड प्लस सिक्योरिटी के साथ ASL(एडवांस सेक्युरिटी लायजन) वीआईपी हैं. लिहाजा इन संवेदनशील राज्य में सुरक्षा के इंतजाम भी उसी स्तर पर किए जाएंगे.

सुरक्षा में 58 कमांडो रहेंगे तैनात
सेक्युरिटी एजेंसी की येलो बुक के मुताबिक राहुल गांधी को जेड प्लस कैटेगरी की सुरक्षा मिली है. सूत्रों के मुताबिक उनकी सुरक्षा में एडवांस सिक्योरिटी लायजन, 58 कमांडो, 10 आर्म्ड स्टैटिक गॉर्ड, 6 पीएसओ एक समय में राउंड द क्लॉक, 24 जवान 2 एस्कॉर्ट में राउंड द क्लॉक,5 वाचर्स दो शिफ्ट में रहते हैं. इसके अलावा एक इंस्पेक्टर या सब इंस्पेक्टर इंचार्ज के तौर पर तैनात रहता है.

सूत्रों के मुताबिक वीआईपी जहां ठहरेंगे, वहां आने जाने वाले लोगों के लिए 6 फ्रीस्किंग और स्क्रीनिंग करने वाले जवान तैनात रहते हैं. इसके साथ ही राउंड द क्लॉक ट्रेंड 6 ड्राइवर होते हैं लेकिन राहुल गांधी इस समय पैदल यात्रा कर रहे हैं तो भी उनके साथ गाड़ियों का काफिला रहता है.

सूत्रों के मुताबिक पंजाब और जम्मू कश्मीर सीमावर्ती इलाके के राज्य हैं. हाल में जम्मू में टारगेट किलिंग की घटनाएं हुई हैं. इसके साथ ही ड्रोन एक्टिविटी इन इलाकों में देखी गई हैं. यही वजह है कि यहां वीआईपी को आईबी की थ्रेट परसेप्शन रिपोर्ट के आधार पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम रखे जा रहे हैं.

राहुल गांधी के नेतृत्व में 7 सितंबर को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से शुरू हुई भारत जोड़ो यात्रा हरियाणा में है, जो शाम तक पंजाब पहुंच जाएगी. यह यात्रा 30 जनवरी को जम्मू कश्मीर के श्रीनगर पहुंचेगी जहां राहुल गांधी तिरंगा फहराएंगे और इसके साथ ही भारत जोड़ो यात्रा संपन्न हो जाएगी. राहुल गांधी की ये यात्रा तमिलनाडु से शुरू होकर केरल, कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान, दिल्ली और उत्तर प्रदेश से होकर गुजरी है.

About bheldn

Check Also

राहुल और अखिलेश के साथ से यूपी में बनेगी बात, न्याय यात्रा में शामिल होने का मतलब समझिए

आगरा आखिर वो घड़ी आ ही गई, जिस घड़ी को सपा-कांग्रेस को बेसब्री से इंतजार …