हर नेता अपना अगला चुनाव सोचता है, हम कोई साधु संन्यासी नहीं: नितिन गडकरी

नई दिल्ली,

बजट आज तक के कॉन्क्लेव शुरू हो गया है. सबसे पहले केंद्रीय रोड, ट्रांसपोर्ट और हाइवे मंत्री नितिन गडकरी ने बातचीत की. उन्होंने बजट आजतक के मंच पर इलेक्ट्रिक वाहन, एक्सप्रेव-वे से लेकर विभाग के बजट तक पर भी बातचीत की. इसके साथ ही गडकरी ने 2024 के चुनावी हाइवे के प्लान पर भी बात की.

2024 के चुनाव से पहले मुफ्त अनाज, टैक्स में छूट, अलग-अलग आवंटन के सवाल पर गडकरी ने कहा कि प्रत्येक नेता चुनाव को ध्यान में रखता है. राजनीति में हम लोग आए हैं. हम कोई साधु-संन्यासी नहीं हैं. पूजा अर्चना करने नहीं आए. हम चुनाव जीतने के लिए आए हैं. हम अच्छा काम करेंगे तो आगे जीतेंगे. जो काम अच्छा होगा, जनता फिर चुनेगी. हर पार्टी ऐसी है. इसलिए काम करते हैं, क्योंकि हम चुनकर आए हैं. साउथ के स्टेट में मुफ्त बिजली देते हैं. जबकि लोस कितना है. ये नहीं देखा जाता है.

‘हर राज्य में रोड बन रहे हैं…’
इस साल 9 राज्यों में चुनाव हो रहे हैं. विपक्ष का कहना है कि चुनाव आते ही प्रोजेक्ट शुरू हो जाते हैं. इस पर गडकरी ने कहा कि कौन-सा ऐसा राज्य है, जहां रोड नहीं बन रहे हैं. पंजाब से लेकर हर जगह रोड बन रहे हैं. हर राज्य में रोड बन रहे हैं. एक भी रोड का नाम बताईए, जहां रोड नहीं बन रहा हो. दिल्ली-चंडीगढ़ रूट पर फ्लाइ ओवर बन रहा है.

‘मैं कमिटमेंट नहीं, टारगेट तय करता हूं’
चुनाव को लेकर इस साल क्या टारगेट और कमिटमेंट के सवाल पर नितिन गडकरी ने कहा कि मैं चुनाव के हिसाब से सोचता नहीं हूं और बताता भी नहीं हूं. काम करता रहता हूं और काम करते रहना चाहिए. ये हमारा मानना है. फिर कह देना चाहता हूं कि ये मेरा कमिटमेंट नहीं, टारगेट है. टारगेट ये है 2024 समाप्त होने से पहले हिंदुस्तान का रोड इन्फ्रास्ट्रक्चर यूएसए स्टैंडर्ड का होगा. बिहार-यूपी से लेकर मेघालय-त्रिपुरा तक.

गडकरी ने कहा कि आज वाहनों की संख्या बढ़ती जा रही है. हर घर में 3 लोग और पांच गाड़ियां हो गई हैं. इलेक्ट्रिक व्हीकल पचास लाख है. स्पीड से बढ़ रहे हैं. इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर भी आ रहे हैं. 2 साल में पेट्रोल और इलेक्ट्रिक व्हीकल की कीमत समान हो जाएंगी.

बुंदेलखंड की गरीबी हटाएगा केन-बेतवा प्रोजेक्ट
किसानों को लेकर कोई ऐलान नहीं किए जाने पर कहा कि केन-बेतवा का एक प्रोजेक्ट बुंदेलखंड की गरीबी को हटाएगा. किसानों की आय दोगुनी हो गई है. नई तकनीक की वजह से यूरिया के बैग कम खर्च हो रहे हैं.

राजमार्ग मंत्रालय का विजन क्या होगा?
गडकरी ने बताया कि हम लोग ग्रीन एक्सप्रेस वे हाईवे बना रहे हैं. दिल्ली-मुंबई रोड बना रहे हैं. 12 तारीख को प्रधानमंत्री उदघाटन करेंगे. दिल्ली से मुंबई 12 घंटे में पहुंच जाएंगे. दिल्ली से जयपुर की दूरी 2 घंटे की होगा. दिल्ली-देहरादून 2 घंटे में जाएंगे. दिल्ली हरिद्वार 2 घंटे, दिल्ली-चंडीगढ़ ढाई घंटे में, दिल्ली-श्रीनगर 8 घंटे में, कटरा 6 घंटे में, अमृतसर 4 घंटे में पहुंच जाएंगे. चेन्नई से बेंगलुरु 2 घंटे में पहुंच जाएंगे. बेंगलुरु से मैसूर एक घंटे का सफर होगा. नागपुर से पुणे 5 घंटे में पहुंचेंगे. औरंगाबाद से हाइवे बना रहे हैं.

इन रूट पर लगभग बंद हो जाएंगी फ्लाइट?
हवाई जहाज-ट्रेन से भी कम समय लगने के सवाल पर गडकरी ने कहा कि जब मैंने मुंबई-पुणे हाईवे बनाया था, तब वहां जेटएयरवेज की 8 फ्लाइट चलती थीं. अब इस रूट पर 2000 के बाद एक भी फ्लाइट नहीं चलती है. बंद हो गई हैं. इस साल के अंत तक दिल्ली-जयपुर, दिल्ली-देहरादून, दिल्ली-चंडीगढ़ के बीच चलने वाली लगभग ये फ्लाइट बंद हो जाएंगी. फ्लाइट बंद होने के सवाल पर कहा कि ऐसा नहीं है. हम और एयरपोर्ट डेवलप कर रहे हैं. चंडीगढ़ से मुंबई, चेन्नई और हैदराबाद फ्लाइट जाएगी. चंडीगढ़ से दिल्ली की फ्लाइट उतनी नहीं रह जाएंगी. चार डेस्टिनेशन नए बनेंगे. एविएशन में हर साल 22 प्रतिशत ग्रोथ है.

सड़क पर लैंड होंगे हवाई जहाज…
जब मैं शिपिंग विभाग में मंत्री था. तब sea प्लेन लाया था. यानी एयरस्टिप से उड़कर पानी पर उतरने वाले हवाई जहाज लाए थे. ये पॉलिसी सरकार ने फाइनल की है. लेक, डैम वाटरपोर्ट बनेंगे. 26 ऐसे रोड बना रहे हैं, जहां प्लेन लैंड होंगे. यानी जब कभी ट्रैफिक कम है तब पहले रेलवे फाटक की तरह रोड बंद होगा और हवाई जहाज उतरेगा, एयरपोर्ट चला जाएगा. फिर रोड शुरू होगा. इसी तरह आवागमन होता रहेगा.

About bheldn

Check Also

‘बिभव कुमार केजरीवाल की कठपुतली, AAP मतलब एंटी औरत पार्टी’, बीजेपी क्यों लगा रही ये आरोप

नई दिल्ली बीजेपी ने शनिवार को आम आदमी पार्टी (आप) पर स्वाति मालीवाल हमला मामले …