कब थमेगा हिंडनबर्ग का कहर?…आज भी 4 शेयरों में लोअर सर्किट, अमीरों की लिस्ट में 22वें नंबर पर पहुंचे गौतम अडानी

नई दिल्ली,

भारतीय उद्योगपति गौतम अडानी की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही हैं. अमेरिकी रिसर्च फर्म हिंडनबर्ग की रिसर्च रिपोर्ट का कहर अब भी जारी है. शेयर बाजार में सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार को भी अडानी ग्रुप के चार शेयरों में लोअर सर्किट लगा, जबकि शेयरों में जारी गिरावट से दुनिया के अरबपतियों की लिस्ट में वे लगातार नीचे खिसकते जा रहे हैं. खबर लिखे जाने तक गौतम अडानी फोर्ब्स की रियल टाइम बिलेनियर्स लिस्ट में खिसककर 22वें पायदान पर पहुंच गए थे.

सोमवार को इन Stocks में लोअर सर्किट
बीते 24 जनवरी 2023 को हिंडनबर्ग की अडानी ग्रुप को लेकर रिसर्च रिपोर्ट पब्लिश होने के बाद से कंपनियों की शेयरों में जो सुनामी आई, वो अब तक जारी है. शेयर बाजार में आज भी अडानी के 4 शेयरों में लोअर सर्किट लगा है और अडानी एंटरप्राइजेज के स्टॉक 5.12 फीसदी फिसलकर 1,505.55 रुपये के लेवल पर ट्रेड कर रहे हैं.

जिन शेयरों में सोमवार को लोअर सर्किट लगा, उनमें Adani Power Ltd 5% गिरकर 182.35 रुपये, Adani Wilmar Ltd 5% टूटकर 379.95 रुपये, Adani Green Energy Ltd 5% फिसलकर 889.10, Adani Total Gas Ltd 5% की गिरावट के साथ 1,541.25 रुपये पर थे. इसके अलावा Ambuja Cements Ltd के शेयर 3.24 फीसदी टूटकर 361.50 रुपये और ACC Ltd स्टॉक्स 1.03 फीसदी फिसलकर 1,907.00 रुपये पर थे.

13 दिनों में 117 अरब का MCap साफ
गौतम अडानी को हिंडनबर्ग की रिपोर्ट पब्लिश होने के बाद अब तक का सबसे बड़ा नुकसान उठाना पड़ा है. बीते साल 2022 में कमाई के मामले में उन्होंने दुनिया के तमाम अमीरों को पीछे छोड़ दिया था, लेकिन जितना उन्होंने 2022 में सालभर के भीतर कमाया था उससे कहीं ज्यादा 13 दिनों में ही गवां दिया है. अडानी की कंपनियों के शेयरों में जारी गिरावट के चलते अब Adani Group का मार्केट कैप घटकर आधा रह गया है. 24 जनवरी से अब तक ग्रुप का लगभग 117 अरब डॉलर एमकैप साफ हो गया है.

अमीरों की लिस्ट में बहुत नीचे खिसके
Adani Group की कंपनियों के शेयरों में जारी गिरावट के सिलसिले के चलते गौतम अडानी की संपत्ति में भी उसी तेजी से गिरावट आती जा रही है. इसका असर दुनिया के शीर्ष अरबपतियों की लिस्ट में देखने को मिल रहा है. जहां साल 2023 की शुरुआत में गौतम अडानी Top-10 Billionaires की लिस्ट में चौथे पायदान पर दबदबा जमाए हुए थे, वहीं अब कुछ ही दिनों में वे इस लिस्ट में खिसककर 22में नंबर पर पहुंच गए हैं. Forbe’s Real Time Billionaires Index के मुताबिक, सोमवार को खबर लिखे जाने तक गौतम अडानी की नेटवर्थ गिरकर 58.4 अरब डॉलर रह गई थी.

हिंडनबर्ग रिपोर्ट में लगाए गए ये आरोप
नाथन एंडरसन के नेतृत्व वाले हिंडनबर्ग की रिपोर्ट में अडानी ग्रुप पर कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं. इनमें स्टॉक की कीमतों में छेड़छाड़ और अकाउंटिंग फ्रॉड भी शामिल है. हालांकि, इस रिपोर्ट के पब्लिश होने के बाद अडानी ग्रुप ने स्टेटमेंट जारी कर इसे निराधार बताया था, लेकिन निवेशकों के सेंटिमेंट पर इसका इतना विपरीत असर पड़ा कि अडानी का विशान साम्राज्य हिल गया. हिंडनबर्ग ने अपनी रिपोर्ट में अडानी ग्रुप को लेकर कुल 88 सवाल उठाए हैं.

गिरावट के साथ खुला शेयर बाजार
घरेलू शेयर बाजार में हफ्ते के पहले कारोबारी दिन लाल निशान पर खुला. बीएसई का सेंसेक्स 60,350 अंकों के स्तर पर खुला, जबकि एनएसई के निफ्टी ने निफ्टी 17,812 के लेवल पर कारोबार की शुरुआत की थी. दिन बढ़ने के साथ ही ये गिरावट भी और तेज होती जा रही है. खबर लिखे जाने तक सुबह 10.26 बजे तक Sensex इंडेक्स 413.92 अंक या 0.68% फिसलकर 60,427.96 के लेवल पर ट्रेड कर रहा था. वहीं Nifty इंडेक्स भी 129.95 फीसदी या 0.73% गिरकर 17,724.10 के लेवल पर था. आईटी और मेटल शेयरों में सबसे ज्यादा गिरावट देखने को मिल रही है.

 

About bheldn

Check Also

टेस्‍ला ने साध ली है चुप्‍पी, आखिर भारत की अपनी योजनाओं के बारे में कुछ बताती क्‍यों नहीं?

नई दिल्ली अमेरिकी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला ‘चुप’ है। उसने अभी तक नई ईवी …