गांधी परिवार को नेहरू सरनेम रखने में क्या शर्मिंदगी है – पीएम ने किया ऐसा सवाल, लोगो ने क्लास लगा दी

नई दिल्ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार (9 फरवरी, 2023) को राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने देश के पहले पीएम जवाहर लाला नेहरू का नाम लेते हुए कांग्रेस से कई तरह के सवाल किये। उन्होंने संसद में पूछा कि नेहरू सरनेम रखने से क्या शर्मिंदगी है? पीएम मोदी इस सवाल पर लोग तरह-तरह के जवाब दे रहे हैं। कुछ लोगों ने पीएम मोदी पर तंज कसा है।

पीएम मोदी ने गांधी परिवार पर बोला हमला
पीएम मोदी ने गांधी परिवार पर कटाक्ष हुए कहा,”मैंने किसी अखबार में पढ़ा था, हाालंकि मैंने इसे वेरिफाई नहीं किया. अखबार की वह रिपोर्ट कह रही थी कि देश में करीब 600 योजनाएं सिर्फ गांधी-नेहरू परिवार के नाम पर है। किसी कार्यक्रम में अगर नेहरू जी के नाम का उल्लेख नहीं हुआ था कुछ लोगों के बाल खड़े हो जाते हैं… उनका लहू एकदम गरम हो जाता है कि नेहरू जी का नाम क्यों नहीं लिया गया?”

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने कहा कि बहुत आश्चर्य होता है कि चलो भाई हमसे कभी छूट जाता होगा नेहरू जी का नाम… तो इसे हम ठीक भी कर लेंगे क्योंकि वह देश के पहले प्रधानमंत्री थे। मुझे एक बात पर आश्चर्य होता है कि उनकी पीढ़ी का कोई व्यक्ति नेहरू सरनेम रखने से डरता क्यों है? नेहरू सरनेम रखने से क्या शर्मिंदगी है? इतना बड़ा महान व्यक्ति आपको मंजूर नहीं परिवार को मंजूर नहीं और हमारा हिसाब मांगते रहते हो।

कांग्रेस नेता ने दिया ऐसा जवाब
पीएम मोदी के इस सवाल पर कांग्रेस नेता सुरेंद्र राजपूत ने लिखा,”मोदी जी हम सनातन धर्म (हिंदू धर्म) को मानने वाले तो अपने पिता का सरनेम लगाते है। मोदी जी या भाजपा वाले अपनी माता जी के यहां का सरनेम लगाते होंगे तो बताइये। नेहरू गांधी में अंतर समझ आया मोदी जी? या कुछ और।”

लोगों के रिएक्शन
फिल्ममेकर विनोद कापड़ी ने पीएम का वीडियो शेयर कर लिखा,”ये परम आदरणीय भारत के प्रधानमंत्री हैं और इनके भाषण का स्तर तो ब्रह्मांड स्तरीय है। इन्हें बार बार नमन।” पत्रकार स्वाति मिश्रा ने कमेंट किया – संसद में प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि गांधी परिवार को नेहरू सरनेम रखने में क्या शर्मिंदगी है? पान की टपरी पर होने वाली बहस का स्तर इससे अच्छा होता है।

पत्रकार आदेश रवाल ने कमेंट किया कि सनातन हिन्दू परम्परा में बाप – दादा का उपनाम इस्तेमाल किया जाता है। राहुल गांधी ने राजीव गांधी का उपनाम इस्तेमाल किया और राजीव गांधी ने अपने पिता फ़िरोज़ गांधी का उपनाम लिया। जवाहरलाल नेहरू राहुल गांधी के नाना थे। सनद रहे कि भारतीय परम्परा में परनाना का उपनाम नही लगाया जाता।

About bheldn

Check Also

पुणे सड़क हादसे का नया CCTV आया सामने, नशे में नाबालिग ने ली दो इंजीनियरों की जान

पुणे, महाराष्ट्र के पुणे सड़क हादसे का वीडियो सामने आया है. जिसमें दिख रहा है …