कोई नहीं है टक्कर में, अडानी पर कुछ छिपा नहीं रहे… शाह ने मिशन 2024 के लिए बता दिया BJP का प्लान

नई दिल्ली

गृह मंत्री अमित शाह ने आज मिशन 2024 के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की तैयारी से लेकर हिंडनबर्ग रिपोर्ट पर खुलकर बोले। शाह ने कहा कि 2024 में कोई स्पर्धा नहीं है, देश एकतरफा पीएम नरेंद्र मोदी के साथ आगे बढ़ रहा है। देश की जनता को तय करना है, अभी तक तो लोकसभा में मुख्य विपक्षी पार्टी का लेबल जनता ने किसी को नहीं दिया है। शाह ने अडानी मुद्दे पर कहा कि इस मामले में बीजेपी के लिए कुछ छिपाने को नहीं है और न ही किसी बात से डरने की जरूरत है। शाह ने न्यूज एजेंसी ANI को दिए इंटरव्यू में पिछले 8 साल के मोदी सरकार की उपलब्धियों को भी गिना दिया।

2024 में मोदी के सामने कोई नहीं
शाह ने कहा कि 2024 लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के सामने कोई नहीं है। उन्होंने कहा कि देश पीएम मोदी के साथ है। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने अपने 8 साल में बहुत काम किए हैं। इसलिए आज लोकसभा में मुख्य विपक्षी दल का लेबल भी जनता ने किसी को नहीं दिया है।
Amit Shah: गृह मंत्री अमित शाह की दो टूक, अडानी मामले पर न तो कुछ छिपा रहे.. न कोई डर

अडानी मुद्दे पर भी बोले
गृह मंत्री अमित शाह ने हिंडनबर्ग रिपोर्ट और अडानी के मुद्दे पर भी खुलकर बोले। उन्होंने कहा कि इस मामले का सुप्रीम कोर्ट ने मामले का संज्ञान लिया है। कैबिनेट का सदस्य होने के नाते इस समय इस मुद्दे पर मेरा कुछ भी बोलना सही नहीं होगा, परन्तु इसमें भाजपा के लिए कुछ छुपाने के लिए नहीं है और न ही किसी बात से डरने की जरूरत है।

मोदी सरकार 8 साल की उपलब्धियां भी गिना दी
गृह मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले 8 साल के कार्यकाल में रेलवे में आमूल-चूल परिवर्तन किया है। उन्होंने कहा कि अंतरिक्ष के क्षेत्र में हम दुनिया का लीडर बनने की कोशिश कर रहे हैं। ड्रोन बनाने का अभियान छेड़ा है, वैश्विक ड्रोन बाजार का बड़ा खिलाड़ी भारत बनेगा, खदान क्षेत्र में सुधारों को लागू कर रहे हैं, मेक इन इंडिया को बूस्ट देने के लिए इंडस्ट्रियल डेवलेपमेंट पर फोकस कर रहे हैं ताकि भारत को मैन्युफैक्चरिंग हब बनाया जा सके, डिफेंस सेक्टर में भारत की विदेशों पर निर्भरता 30 प्रतिशत घटाई, वामपंथी उग्रवाद पर लगाम लगी है, जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों पर नकेल कसी है, पूर्वोत्तर राज्यों के 8 हजार उग्रवादियों को मेन स्ट्रीम में लाया है, देश के कोने-कोने में कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाया है।

नक्सलवाद का खात्मा
अमित शाह ने किया बिहार और झारखंड में नक्सवादी उग्रवाद लगभग समाप्त हो चुका है। मुझे विश्वास है कि छत्तीसगढ़ में भी कुछ ही समय में शांति बहाल करने में हम सफल होंगे। जम्मू-कश्मीर में भी आतंकवाद से संबंधित सभी प्रकार के आंकड़े सबसे अच्छी स्थिति में हैं। बीजेपी के कई शहरों के नाम बदलने के सवाल पर शाह ने कहा कि एक भी शहर ऐसा नहीं है जिसका पुराना नाम न हो और बदला है। इसपर बहुत सोच समझकर हमारी सरकारों ने फैसले लिए हैं और हर सरकार का ये विधायी अधिकार है।

PFI पर क्यों लगाया बैन, शाह ने बताया
शाह ने कहा कि PFI कैडर पर कई मामले थे उन्हें समाप्त करने का काम कांग्रेस ने किया। जिसे कोर्ट ने रोका…हमने PFI को सफलतापूर्वक बैन किया। PFI देश में धर्मांधता और कट्टरता बढ़ाने वाला संगठन था। आतंकवाद का एक प्रकार से सामग्री तैयार करने का काम वे लोग कर रहे थे।

संसद में विपक्षी नेताओं के बयान हटाने पर भी दिया जवाब
लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही में राहुल गांधी और मल्लिकार्जुन खरगे के बयान को कार्यवाही से हटाने के सवाल पर अमित शाह ने कहा कि संसद की कार्यवाही एक्सपंज शब्दों से भरी पड़ी है। संसद में नियमों के हिसाब से काम करना होता है। यहां संसदीय भाषा का इस्तेमाल करना होता है।

About bheldn

Check Also

मोदी ने 22 खास लोगों का 16 लाख करोड़ रुपये कर्ज माफ किया, हिमाचल को नहीं दिए पैसे, राहुल गांधी का PM पर बड़ा हमला

शिमला: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले 10 …