बिहार: बाबा ब्रह्मेश्वर धाम में जलाभिषेक की होड़ में भगदड़, कई लोग हुए घायल, 4 गंभीर

बक्सर

महाशिवरात्रि के महापर्व पर बाबा ब्रह्मेश्वर धाम ब्रह्मपुर में भक्तों का जनसैलाब उमड़ा। यहां शुक्रवार रात 12 बजे से भक्तों की भीड़ जलाभिषेक करने के लिए जुटने लगे। शनिवार सुबह होते ही बाबा ब्रह्मेश्वर धाम में जलाभिषेक शुरू हो गया। जलाभिषेक के लिए ब्रह्मेश्वर धाम में एंट्री करने के लिए लोगों में होड़ सी मच गई। तभी अचानक भगदड़ मच गई। इस भगदड़ में कई लोग चोटिल हो गए। घायलों में 4 लोगों की हालत गंभीर है। चारों को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।

बाबा ब्रह्मेश्वर धाम मन्दिर प्रबंधन समिति ने आरोप लगाते हुए कहा कि भगदड़ मचना दुर्भाग्यपूर्ण हैं। ये घटना प्रशासन की लापरवाही के कारण हुई है। भीड़ को काबू करने में जिला प्रशासन ने सुस्ती दिखाई। इस वजह से मंदिर में अचानक अफरातफरी मच गई और भगदड़ शुरू हो गई। भक्तों का सैलाब देख पुजारी समाज के लोगों ने मंदिर परिसर में व्यवस्था की कमान संभाली और स्थिति को नियंत्रित किया।

4 लोगों को इलाज के लिए सीएससी अस्पताल भेजा गया: SDM
इधर डुमराव एसडीएम कुमार पंकज ने मंदिर समति के आरोपों को खारिज कर दिया। उन्होंने बताया कि तमाम व्यवस्थाएं की गई थी। आभूषण और मोबाइल लेकर जाने मंदिर में जाने पर रोक लगाई गई थी। मुख्य गेट के पास शरारती तत्वों की वजह से भगदड़ हुई। इसमें कुछ लोग जख्मी हुए, जिनमें 4 लोगों को इलाज के लिए एंबुलेंस से सीएससी अस्पताल भेजा गया है। वहीं सुरक्षा व्यवस्था कड़ी करते हुए दर्शनार्थियों से धीरे-धीरे दर्शन करने का अनुरोध किया जा रहा है।

घटना के बाद स्थिति नियंत्रण में: एसपी
डुमराव की एसपी श्रीराज ने बताया कि घटना के बाद स्थिति नियंत्रण में है। मंदिर के आसपास के इलाके में ट्रैफिक व्यवस्था सुदृढ़ की गई है। मंदिर परिषद में भी चप्पे-चप्पे सिविल और वर्दी में सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। सभी स्थितियों पर नजर रखी जा रही है।

About bheldn

Check Also

मुगलों के ताजमहल से लड़ने को तैयार है आगरा की ये सफेद इमारत, 104 साल में हुई तैयार, अब यहां का भी लगेगा टिकट

आगरा का नाम आते ही, जहन में सबसे पहला नाम ताजमहल का आता है, और …