कथावाचक देवकीनंदन का विवादित बयान, बोले- ‘जब तक जनसंख्या कानून न बने, 5-5 बच्चे गोद में खिलाओ’

छिंदवाड़ा

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में देवकीनंदन ठाकुर के कथा का आयोजन किया गया. यहां कथा वाचक देवकीनंदन ठाकुर विवादित बयान दे दिया. छिंदवाड़ा की शिव महापुराण कथा पंडाल में एक बार फिर से उन्होंने जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर बयान दिया. उन्होंने कहा कि देश में जब तक जनसंख्या नियंत्रण कानून ना बन जाए, तब तक हर हिंदू अपनी गोद में पांच-पांच बच्चे खिलाएं. उनके कहने का मतलब था कि पांच-पांच बच्चे पैदा करें.

देवकीनंदन ठाकुर हिंदू राष्ट्र की मांग कर रहे हैं. वहीं उन्होंने आज कथा पंडाल से कहा कि कुछ लोगों को खुला सांड की तरह छोड़ दिया गया है और हमें सिर्फ दो बच्चों तक सीमित कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि जब तक देश में सनातनी धर्म वाले बहुसंख्यक हैं तब तक यहां सेकुलर वाद है, जिस दिन हम अल्पसंख्यक हो जाएंगें उस दिन हमारे देश में हालत अलग होगी. देवकीनंदन ठाकुर के कथा का आयोजन छिंदवाड़ा के दशहरे मैदान में आयोजित की गई है. कथा पंडाल में देवकीनंदन ठाकुर के द्वारा लगातार हिंदू राष्ट्र और सनातन धर्म को लेकर बयान दिए जा रहे हैं.

रामायण सबके चरित्र को संवारने के लिये है
इस दौरान कथा वाचक देवकीनंदन ठाकुर ने रामायण को लेकर बयान दिया. इस दौरान उन्होंने हाथ जोड़कर भगवान से मांगा कि जो लोग रामायण जला रहे हैं, उन्हें कोई दंड मत देना, बल्कि उनकी बुद्धि सुधार देना. उनको सदविचार देना, जिससे उन्हें भी समझ में आये कि रामायण किसी के अपमान के लिये नहीं है. रामायण सबके चरित्र को संवारने के लिये है. छिंदवाड़ा के भानादेही गांव में उन्होंने कहा कि हम सनातनी हैं, हम सनातनी थे और हम सनातनी ही मरेंगे.

उन्होंने कहा चाहे हमें जाने देनी पड़ जाये हम अपने देश के कभी गद्दारी नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि सभी सनातनियों के लिए सनातन यात्रा बहुत जरूरी है. कुछ लोग सनातन को तोड़ना चाहते हैं, सनातनियों को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं, सनातनियों को आपस में लड़ाना चाहते हैं.

About bheldn

Check Also

केदारनाथ धाम जा रही बस में लगी भीषण आग… धुआं उठता देख सामान छोड़कर कूदे यात्री

शिवपुरी, मध्य प्रदेश के शिवपुरी में कोलारस थाना क्षेत्र के गुना-शिवपुरी फोरलेन हाइवे पर एक …