‘जुनैद-नसीर शहीद हैं…’, ओवैसी का राजस्थान में नारा, भिवानी कांड के पीड़ित परिवारों से करेंगे मुलाकात

नई दिल्ली,

AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने जुनैद और नासिर हत्याकांड के मामले में बीजेपी सरकार पर निशाना साधा है. ओवैसी ने कहा कि जुनैद और नासिर की हत्या कर दी गई. राजस्थान की जमीं से उन्हें हरियाणा ले गए, लेकिन राजस्थान पुलिस ने क्या किया? ओवैसी ने सवाल उठाते हुए कहा कि मैं पूछता हूं कि राजस्थान की सरकार ने क्या किया? इसके साथ ही ओवैसी ने नारा लगाया… जुनैद और नसीर शहीद हैं.

इस दौरान ओवैसी ने कहा कि यह जुनैद और नासिर का नहीं, बल्कि इंसानियत का कत्ल है. जुनैद और नासिर की हत्या कर दी गई. उनको जलाकर लाया गया. मैं गहलोत सरकार से पूछना चाहता हूं कि आपने क्या किया. उन्हें यहां से किडनैप करके ले गए. जिन्होंने जुनैद और नासिर को मारा, उनको मैं बोलता हूं कि तुम्हारी नस्लों को अल्लाह देखेगा. तुमने इंसानियत का कत्ल किया है.

ओवैसी ने पीएम मोदी और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी कब तक चुप रहेंगे, कब इनको रोकेंगे. उन्होंने कहा कि जुनैद और नासिर मरे नहीं हैं, बल्कि शहीद हुए हैं. ओवैसी ने कहा कि बीजेपी की सरकार ऐसे लोगों को क्यों इजाजत देती है कि वह बंदूक लेकर घूमें. क्योंकि ये लोग गौरक्षक के नाम पर रक्षा नहीं, बल्कि इंसानियत का कत्ल कर रहे हैं. हरियाणा सरकार ऐसे लोगों का साथ दे रही है.

ओवैसी ने कहा कि हम आगे बढ़ेंगे. मुझ पर आरोप लगता है कि ओवैसी मिला हुआ है. लेकिन ओवैसी किसी से नहीं मिला है. न मोदी का न गहलोत का न बीजेपी का. ओवैसी किसी को अपना आका नहीं मानता. मैं सिर्फ आपका हूं, हम बराबरी चाहते हैं. वो लोग गौ रक्षक के नाम पर इंसानियत का कत्ल करते हैं, हथियार लेकर घूमते हैं. अगर मुसलमान निकाह में तलवार लेकर डांस कर लें तो उनसे पूछताछ होती है, लेकिन ऐसे लोगों से हथियार लेकर घूमने पर भी कोई कुछ नहीं कहता.

मोनू मानेसर को लेकर ओवैसी ने कहा कि गोलियां चलाने वाले लोग बहादुर क्यों बनते हैं. बीजेपी और आरएसएस का संरक्षण है, लेकिन ये कब तक रहेगा. आपको एक सियासी ताकत बनना है. आपको टारगेट बनाया जाता है. राजस्थान में गहलोत सरकार है. देश में बीजेपी की सरकार है. मैं आपसे गुजारिश करता हूं कि कानून का इस्तेमाल करिए. इन जालिमों को जेल में डालकर रखो. हम अल्लाह से डरते हैं, गोलियों से और तुम्हारी ताकत से नहीं. ओवैसी ने कहा कि कभी पहलू, कभी अखलाक तो कभी जुनैद. इसे रोकने की जिमेदारी उनकी है, जो हमारी वोट पर सत्ता में बैठते हैं, लेकिन ये कुछ नहीं करते. उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि मेरी ताकत बनिए.

इस दौरान ओवैसी ने कहा कि कांग्रेस में बहुत लड़ाई चल रही कोई किसी को जादूगर कहता है कोई किसी को गद्दार. लेकिन मैं लोगों से कहता हूं कि अगर आप शिक्षा चाहते हैं आप ताकत चाहते हैं तो अपनी ताकत पहचानो. कोई कहे कि ओवैसी वोट काटने आया है तो कहना बीजेपी के 300 सांसद हैं. आपके राहुल गांधी जो भारत जोड़ने निकले थे, वो खुद अमेठी से हार गए. लेकिन जहां से 30 परसेंट मुसलमान थे, वहां से जीत गए. जब सबको इज्जत और हक़ मिल सकता है तो भारत का मुसलमान क्यों पीछे हैं.

क्या है मामला?
दरअसल, हरियाणा के भिवानी के लोहारू में 16 फरवरी यानी गुरुवार को जली हुई एक बोलेरो कार में दो कंकाल मिले थे. मृतकों की पहचान नासिर (25) और जुनैद (35) के तौर पर हुई है. दोनों राजस्थान के भरतपुर के रहने वाले थे.

About bheldn

Check Also

लालू ने सारण में बढ़ाया सियासी सस्पेंस, राजीव प्रताप रूडी के ‘MM’ पर भारी पड़ रहा KDB फैक्टर, जानें पूरी बात

छपरा बिहार की हॉट सीटों में सारण संसदीय क्षेत्र भी इस बार शामिल हो गया …