दो गगनचुंबी छक्के और फिर रन आउट, पुजारा के लिए खुद का विकेट कुर्बान कर गए कप्तान रोहित

नई दिल्ली

कोई भी बल्लेबाज कभी रन आउट होकर अपना विकेट नहीं गंवाना चाहता। खासतौर पर टेस्ट क्रिकेट में रन आउट होना तो अखर जाता है, लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट की दूसरी पारी में कप्तान रोहित शर्मा बदकिस्मत रहे। जब चेतेश्वर पुजारा के साथ खराब सामंजस्य के चलते उन्हें पवेलियन लौटना पड़ा। 105 रन के लक्ष्य के जवाब में रोहित शर्मा ने भारत को शानदार शुरुआत दिलाई। भले ही केएल राहुल फिर फेल हुए, लेकिन हिटमैन की अटैकिंग बैटिंग जारी रही। वह पहली गेंद से काफी आत्मविश्वास से लबरेज नजर आए।

यह घटना भारत की दूसरी पारी के 7वें ओवर में हुई, जब मैथ्यू कुहनमैन गेंदबाजी कर रहे थे। रोहित शर्मा ने गेंद को ऑन-साइड पर पुश करने के बाद पहला रन लिया, फिर दूसरे रन के लिए वापस मुड़े लेकिन फिर बीच में ही रुक गए। दोनों बल्लेबाज कन्फ्यूज थे, लेकिन क्योंकि ये कॉल रोहित का था इसलिए उन्होंने अपने विकेट की कुर्बानी दी और निराशा में मैदान छोड़ दिया। आउट होने से पहले टर्निंग ट्रैक पर 20 गेंदों में 31 रन बनाए।

अब चार टेस्ट मैच की सीरीज का तीसरा और निर्णायक मुकाबला 1 मार्च से इंदौर के होलकर स्टेडियम में खेला जाएगा, जो पहले धर्मशाला में होने वाला था। अगर भारतीय टीम इंदौर के किले को भी फतह कर लेती है तो बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी पर अपना कब्जा बरकरार रखेगी। यह सीरीज भारत के लिए वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिहाज से बेहद अहम है, जिसका फाइनल 8 जून को लंदन के ओवल में होना है।

About bheldn

Check Also

इलेक्ट्रिक स्कूटी में लगी आग तो जल गए पार्किंग में खड़े 12 वाहन, 40 लोगों की जिंदगी तक खतरा में पड़ी

जयपुर मुहाना थाना इलाके में स्थित एक बहुमंजिला आवासीय इमारत के ग्राउंड फ्लोर पर शनिवार …