कब लगेगा अडानी की मुश्किलों पर ब्रेक, अब भाई विनोद अडानी को लेकर फोर्ब्स ने किया बड़ा खुलासा

नई दिल्ली

अडानी समूह से चेयरमैन गौतम अडानी की मुश्किलें खत्म नहीं हो रही है। शॉर्ट सेलर कंपनी हिंडनबर्ग की निगेटिव रिपोर्ट के कारण अडानी समूह को बड़ा झटका लगा है।कंपनी के शेयरों में भारी बिकवाली हावी हो गई है। खुद गौतम अडानी का नेटवर्थ जो जनवरी के शुरूआत में 127 अरब डॉलर था, गिरकर 50 अरब डॉलर से भी नीचे खिसक गया है। अडानी की मुश्किलें मानों थमने का नाम नहीं ले रही है। अब दिग्गज बिजनस मैगजीन फोर्ब्स ने गौतम अडानी के भाई विनोद अडानी को लेकर बड़ा खुलासा किया है।

गौतम अडानी के लिए मुश्किलें
गौतम अडानी के भाई विनोद अडानी उनके काफी करीबी है। अब फोर्ब्स ने विनोद अडानी पर गंभीर आरोप लगाए हैं। फोर्ब्स ने अपनी ताजा रिपोर्ट में बड़ा खुलासा करते हुए लिखा कि विनोद अडानी ने सिंगापुर स्थित अपनी कंपनी के लिए एक रूसी बैंक से 240 करोड़ डॉलर का कर्ज लिया है। इस कर्ज के लिए उन्होंने गौतम अडानी की कंपनी के बेनामी स्टेक को गिरवी रखा। इतना ही नहीं उन्होंने इसकी जानकारी भारतीय बैंकों को भी नहीं दी गई। फोर्ब्स की रिपोर्ट में दावा किया गया कि प्रमोटर की हिस्सेदारी को बिना बैंकों को बताए गिरवी रखा है। इस रिपोर्ट को हिंडनबर्ग ने भी ट्वीट किया है।

आपको बता दें कि गौतम अडानी के भाई विनोद अडानी प्रवासी भारतीय हैं। विनोद अडानी अडानी समूह से जुड़ी ऑफशोर कंपनियों की जिम्मेदारी संभालते हैं। वो सिंगापुर और जकार्ता में अडानी समूह के बिजनस को संभालते हैं। हिंडनबर्ग ने भी अपनी रिपोर्ट में विनोद अडानी पर सवाल उठाए। उनपर आरोप लगा कि वो कई फर्जी कंपनी चलाते हैं। हिंडनबर्ग ने अपनी रिपोर्ट में अडानी समूह में हेराफेरी का आरोप लगया है। इस रिपोर्ट के बाद से सड़क से लर संसद तक खूब हंगामा हो रहा है। निवेशकों की चिंता बढ़ रही है। वहीं गौतम अडानी बार-बार ये दावा कर रहे हैं कि उनकी कंपनी का बैलेंस शीट मजबूत है।

About bheldn

Check Also

मोदी जी की प्रोपेगैंडा मशीनरी दुनिया में अव्वल, लेकिन अब जनता जागरूकः प्रियंका गांधी

नई दिल्ली, लोकसभा चुनाव के चार चरणों का मतदान संपन्न हो गया है. पांचवें चरण …