पूर्वी लद्दाख विवाद : भारत, चीन ने संघर्ष के शेष इलाकों से पीछे हटने के प्रस्तावों पर चर्चा की

नई दिल्ली

भारत और चीन ने पूर्वी लद्दाख में लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर टकराव वाले बाकी के इलाकों से पीछे हटने के प्रस्तावों पर ‘खुले और रचनात्मक’ तरीके से चर्चा की और जल्द ही किसी तीरीख पर अगले दौर की सैन्य स्तर की बातचीत करने पर सहमति जताई। विदेश मंत्रालय के अनुसार, दोनों पक्षों ने बीजिंग में भारत-चीन सीमा मामलों पर विचार-विमर्श और समन्वय के कार्यकारी तंत्र (डब्ल्यूएमसीसी) की आमने-सामने की बैठक में इन प्रस्तावों पर चर्चा की।

मंत्रालय ने कहा, ‘दोनों पक्षों ने पश्चिमी सेक्टर में भारत-चीन सीमा क्षेत्रों वास्तविक नियंत्रण रेखा पर स्थिति की समीक्षा की और शेष क्षेत्रों से पीछे हटने के प्रस्तावों पर खुले और रचनात्मक तरीके से चर्चा की जिससे इस सेक्टर में एलएसी पर शांति एवं अमन बहाल किया जा सके और द्विपक्षीय संबंधों को सामान्य बनाने के लिए माहौल कायम किया जा सके।’बयान के अनुसार, वर्तमान समझौते और प्रोटोकॉल के तहत इस उद्देश्य को हासिल करने के लिए दोनों पक्षों ने जल्द ही किसी तिथि को अगले (18वें) चरण की वरिष्ठ सैन्य कमांडर स्तर की वार्ता आयोजित करने पर सहमति जाहिर की।

विदेश मंत्रालय ने कहा कि दोनों पक्षों ने सैन्य और राजनयिक माध्यमों से चर्चा जारी रखने पर सहमति जताई। इसमें कहा गया है कि 26वें चरण की भारत चीन-सीमा मामलों पर विचार-विमर्श और समन्वय के कार्यकारी तंत्र की बैठक बीजिंग में 22 फरवरी 2023 को आमने सामने बैठकर हुई।इसमें भारतीय पक्ष का नेतृत्व विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव (पूर्वी एशिया) ने किया। चीनी पक्ष का नेतृत्व चीनी विदेश मंत्रालय में सीमा और समुद्री मामलों के विभाग के महानिदेशक ने किया।

About bheldn

Check Also

मॉनसून पर IMD ने दी गुड न्यूज, जानिए आपके राज्य में कब तक होगी मॉनसून की पहली बारिश

नई दिल्ली पिछले कुछ दिनों से दिल्ली एनसीआर समेत आसपास के राज्यों में प्रचंड गर्मी …