ब्रिटेन में सब्जियों पर लगा ‘कोटा’, एक ग्राहक खरीद सकता है सिर्फ दो टमाटर और दो खीरा, माजरा क्या है

लंदन

ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था इन दिनों मंदी के दौर से गुजर रही है। इस कारण यह देश वर्तमान में रहने के लिए अच्छा नहीं है। ब्रिटिश लोगों को जीवन यापन के लिए संकट का सामना करना पड़ रहा है। इस बीच अब खाद्यान्न संकट भी खड़ा हो गया है। ऐसे में ब्रिटेन ने फलों और सब्जियों की राशनिंग शुरू कर दी है। इस राशनिंग को यूके में दो सबसे बड़े सुपरमार्केट – मॉरिसन और एस्डा ने लागू किया है। इसके तहत टमाटर, आलू, खीरा, मिर्च, सलाद पत्ता और ब्रोकली जैसी जल्दी खराब होने वाली चीजों की खरीद प्रतिबंधित कर दी गई है। प्रत्येक ग्राहक इनमें से केवल दो या तीन वस्तुएं ही खरीद सकता है, अधिक नहीं। सोशल मीडिया पर भी ब्रिटेन के सुपरमार्केट में सब्जियों के खाली पड़े रैक की तस्वीरें शेयर की जा रही हैं।

ब्रिटेन के कई सुपरमार्केट ने लगाया प्रतिबंध
ब्रिटेन का तीसरा सबसे बड़ा किराना स्टोर एस्डा ने सबसे पहले प्रतिबंध लगाया। इसके बाद बुधवार को मॉरिसन ने भी अपने ग्राहकों के लिए ऐसा ही नियम लागू कर दिया। पूर्वी लंदन, लिवरपूल और ब्रिटेन के अन्य हिस्सों में सब्जियों की भारी किल्लत है। एस्डा के खरीदार टमाटर, मिर्च, खीरा, लेट्यूस, सलाद बैग, ब्रोकली, फूलगोभी, और रास्पबेरी में से प्रत्येक में केवल तीन आइटम खरीद सकते हैं। टेलीग्राफ यूके की एक रिपोर्ट के मुताबिक, बुधवार से मॉरिसन ने ग्राहकों को केवल अधिकतम दो टमाटर, खीरा, सलाद और मिर्च खरीदने की अनुमति देने का फैसला किया है। अन्य सुपरमार्केट भी इसी तरह के उपायों पर विचार कर रहे हैं।

ब्रिटेन में सब्जियों की कमी क्यों हुई
ब्रिटेन में भीषण ठंड के कारण घरेलू कृषि संकट से गुजर रही है। इसका असर फसलों के उत्पादन पर दिखा है। इस बीच विदेशों से फसलों की कम खरीदारी करने से ब्रिचेन में अनाज का संकट बढ़ गया है। यूनाइटेड किंगडम हर साल सर्दियों में खीरे और टमाटर जैसी लगभग 90 प्रतिशत फसलों का आयात करता है। सर्दियों और वसंत के दौरान सुपरमार्केट को स्टॉक रखना महत्वपूर्ण है। ब्रिटेन इन महीनों के दौरान केवल पांच प्रतिशत टमाटर और 10 प्रतिशत सलाद का उत्पादन करता है और बाकी को विदेशों से खरीदता है।

मौसम की मार से तबाह हुई फसल
हालांकि, दक्षिणी यूरोप और उत्तरी अफ्रीका में खराब मौसम ने कई फसलों की कटाई को बाधित किया है। मोरक्को और स्पेन, जो सर्दियों के दौरान ब्रिटेन के प्रमुख आपूर्तिकर्ताओं में से हैं, असाधारण खराब मौसम का सामना कर रहे हैं। मोरक्को से फलों के उत्पादन की मात्रा प्रभावित हुई है क्योंकि उत्पादक पिछले तीन से चार हफ्तों में ठंडे तापमान, भारी बारिश और बाढ़ से जूझ रहे हैं। अत्यधिक और असामान्य रात की ठंड ने टमाटर के पकने को प्रभावित किया, जिसकी आपूर्ति विशेष रूप से प्रभावित हुई है। वहीं खराब मौसम ने इन वस्तुओं को ब्रिटेन तक पहुंचाने वाली फेरी को भी अपनी यात्रा रद्द करने के लिए मजबूर किया है। इस कारण पूरी सप्लाई चेन ही प्रभावित हो गई है।

कई देशों ने उत्पादन कम होने से निर्यात रोका
मोरक्को ने कम उत्पादन को देखते हुए टमाटर, प्याज और आलू के निर्यात पर कुछ हद तक अंकुश लगाया है। वहीं, स्पेन से आयात पर मौसम का असर पड़ा है। देश के अल्मेरिया क्षेत्र से टमाटर की बिक्री पिछले साल फरवरी की तुलना में 22 फीसदी कम है। एसोसिएशन ऑफ फ्रूट एंड वेजिटेबल प्रोड्यूसर्स ऑर्गनाइजेशन ऑफ अल्मेरिया, कोएक्सफाल ने एक बयान में कहा कि स्थिति चिंताजनक होने लगी है, क्योंकि कुछ कंपनियों को अपने ग्राहकों के शेड्यूल को पूरा करने में समस्या होने लगी है। ब्रिटेन की स्थानीय आपूर्ति भी प्रभावित हुई है। ब्रिटिश बागवानी उत्पादन आम तौर पर केवल मार्च या अप्रैल के अंत में शुरू होता है, लेकिन घरेलू उत्पादन श्रम की कमी और ऊर्जा और उर्वरक की बढ़ती लागत से प्रभावित हुआ है। बढ़ते ऊर्जा बिलों ने ब्रिटिश किसानों को ग्रीनहाउस बंद करने के लिए मजबूर कर दिया है, क्योंकि वे खर्चों को पूरा करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं।

कमी कब तक रहेगी?
आशंका जताई जा रही है कि ब्रिटेन में फलों और सब्जियों की कमी की समस्या और ज्यादा बढ़ने वाली है। देश के नेशनल फ्रैमर्स यूनियन (एनएफयू) के अध्यक्ष मिनेट बैटर्स ने कहा कि हर कोई प्रभावी ढंग से राशनिंग से बचना चाहता है, जैसा कि हमने दिसंबर में अंडे के साथ देखा था, लेकिन मुझे लगता है कि कुछ खाद्य पदार्थों की उपलब्धता पर चुनौतियां आने वाली हैं। संघ के अनुसार, 1985 में रिकॉर्ड शुरू होने के बाद से टमाटर और खीरे जैसी सलाद सामग्री की आपूर्ति सबसे निचले स्तर तक गिरने की उम्मीद है। द डेली मेल की एक रिपोर्ट में बैटर्स के हवाले से कहा गया है कि मिर्च और अन्य सलाद सब्जियां जो घर के अंदर उगाई जाती हैं, उनकी आपूर्ति सबसे ज्यादा प्रभावित हुई हैं। जबकि, आलू, फूलगोभी और बैंगनी अंकुरित ब्रोकली के उत्पादन को लेकर भी चिंताएं हैं।

About bheldn

Check Also

2040 तक अमेरिका में जन्म दर से ज्यादा होगी मृत्यु दर, यूएस कांग्रेस को अलग ही टेंशन

वॉशिंगटन अमेरिका में अगले 15 साल में मृत्यु दर के जन्म दर से आगे निकलने …