‘एक नाम बता दो, जिसने…’, राहुल के सपोर्ट में आलोचकों पर भड़के गंभीर

नई दिल्ली,

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 4 मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम ने शुरुआती दो मुकाबले जीत लिए हैं. इन दोनों मुकाबलों में ओपनर केएल राहुल का बल्ला खामोश रहा है. उन्होंने तीन पारियों में कुल 38 रन बनाए हैं. राहुल पिछली 11 टेस्ट पारियों में 200 रन भी नहीं बना सके हैं. यही कारण है कि केएल राहुल की लगातार आलोचना हो रही है. कुछ दिग्गजों ने राहुल का सपोर्ट किया है, तो कुछ ने उन्हें बाहर करने की बात भी कही है. केएल राहुल को लेकर पूर्व क्रिकेटर वेंकटेश प्रसाद और आकाश चोपड़ा भी आपस में भिड़े हैं.

खराब फॉर्म में ज्यादा सपोर्ट की जरूरत होती है
केएल राहुल का सपोर्ट भारतीय कप्तान रोहित शर्मा और कोच राहुल द्रविड़ ने भी किया है. इसी बीच अब पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर का भी अहम बयान सामने आया है. उन्होंने भी राहुल का सपोर्ट किया है. बता दें कि IPL में केएल राहुल लखनऊ सुपर जायंट्स टीम की कप्तानी कर रहे हैं. इसी टीम के मेंटर गंभीर हैं.

गंभीर ने कहा, ‘जो लोग केएल राहुल के बारे में बोल रहे हैं, वो नहीं जानते कि इंटरनेशनल क्रिकेट कितना मुश्किल है. मुझे यकीन है कि जब एक प्लेयर परफॉर्म नहीं कर पा रहा हो, तब उसे बेहतरीन फॉर्म की तुलना में उस वक्त काफी ज्यादा सपोर्ट की जरूरत होती है.’

गंभीर ने दिया रोहित शर्मा का उदाहरण
गौतम गंभीर ने कहा, ‘एक खिलाड़ी का नाम बताइए, जिसने करियर के शुरुआत से आखिर तक ताबड़तोड़ रन बनाए हों. हर किसी के जीवन में ऐसा समय आता है और आपको टैलेंट को सपोर्ट करना चाहिए. जब रोहित शर्मा ने करियर शुरू किया था, तब उनकी परफॉर्मेंस (खराब फॉर्म) देखिए. अब वह पूरी तरह बदल गए हैं. हर खिलाड़ी अपना मूल्यांकन करता है. उसे अकेला छोड़ देना चाहिए, क्योंकि हम सभी जानते हैं कि वह टैलेंटेड प्लेयर है.’

पिछली 11 टेस्ट पारियों में सिर्फ 175 रन बनाए
30 साल के राहुल का यह बेहद खराब फॉर्म जनवरी 2022 से ही जारी है. तब से अब तक राहुल ने 6 टेस्ट मैच खेले, जिसकी 11 पारियों में सिर्फ 175 रन बनाए हैं. जबकि अक्षर पटेल ने पिछली तीन पारियों में ही 158 रन जमा दिए हैं. ऐसे में राहुल की फॉर्म को आप समझ सकते हैं.

इन 11 पारियों के दौरान केएल राहुल का औसत सिर्फ 15.90 का रहा है. उन्होंने इस दौरान सिर्फ एक अर्धशतक जमाया है. राहुल ने रोहित शर्मा की अनुपस्थिति में बांग्लादेश के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की सीरीज में कप्तानी भी की थी. राहुल का टेस्ट में ओवरऑल औसत भी अच्छा नहीं है. उन्होंने अब तक कुल 47 टेस्ट मैच खेले, पर उनका टेस्ट करियर में औसत सिर्फ 33.44 का ही रहा है.

About bheldn

Check Also

IPL में कोहली की धाक… ऑरेंज कैप जीतकर रचा इतिहास, इस खिलाड़ी के सिर सजा पर्पल कैप

चेन्नई, इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 17वें सीजन का फाइनल मुकाबला 26 मई (रविवार) को …