दिल्ली में मंदिर और मस्जिद पर चला बुलडोजर, सरकार के ऐक्शन पर भड़के लोग

दिल्ली

दिल्ली के आईटीओ क्षेत्र के पास पीडब्ल्यूडी का अतिक्रमण अभियान जारी है। आईटीओ स्थित लुटियन जोन के पास पीडब्ल्यूडी विभाग ने अतिक्रमण विरोधी अभियान चला रखा है। इसी अभियान के क्रम में पीडब्ल्यूडी ने आईटीओ के पास एक मंदिर और मस्जिद को ध्वस्त कर दिया। शनिवार को आईटीओ के पास मंदिर और मस्जिद ध्वस्त किए जाने के बाद माहौल गरमा गया और लोगों ने इसका विरोध किया।

मामला धार्मिक आस्था से जुड़ा होने के कारण पब्लिक में भारी आक्रोश दिखा पब्लिक ने इसका विरोध किया। अभी कुछ दिन पहले ही दिल्ली के महरौली में डीडीए का अतिक्रमण विरोधी अभियान चला था। जिसमें डीडीए को पब्लिक का भारी विरोध झेलना पड़ा।

लोगों के भारी विरोध के बावजूद भी पीडब्ल्यूडी का अतिक्रमण विरोधी अभियान जारी है। इस अतिक्रमण विरोधी अभियान में कानून व्यवस्था के मद्देनजर भारी सुरक्षा बल भी मौजूद है। दिल्ली के महरौली में डीडीए के अतिक्रमण विरोधी अभियान के बाद आज यानी शनिवार को आईटीओ के पास अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई जारी है। इस बार अतिक्रमण के खिलाफ डीडीए नहीं बल्कि केंद्रीय लोक निर्माण विभाग है।

सुप्रीम कोर्ट ने दिए थे सख्त निर्देश
29 सितंबर 2009 के एक आदेश में सर्वोच्च न्यायालय ने निर्देश दिया था कि संबंधित राज्य और केंद्र शासित प्रदेश की सरकारें सड़कों व पार्कों जैसे सार्वजनिक स्थानों पर अनधिकृत धार्मिक संरचनाओं की समीक्षा करके तेजी से उचित कदम उठाएं। दिल्ली उच्च न्यायालय ने 14 मार्च, 2022 को एक आदेश में कहा था कि संबंधित सरकार सार्वजनिक भूमि पर मौजूद सभी अनधिकृत निर्माणों को हटाने के लिए ‘कर्तव्यबद्ध’ थी।

कोर्ट के आदेश पर सख्त ऐक्शन
लोक निर्माण विभाग के एक अधिकारी ने कहा, ‘फुटपाथ पर बने धार्मिक ढांचों को हटाने के लिए अभियान चलाया गया है। अदालत के आदेश पर ऐसा किया जा रहा है।’ दिल्ली सरकार के लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) ने शनिवार को कड़ी पुलिस सुरक्षा के बीच मध्य दिल्ली में फुटपाथ पर बने धार्मिक ढांचों को तोड़ने का अभियान चलाया।

About bheldn

Check Also

जमानत याचिका पर सुनवाई से पहले हो गई गिरफ्तारी, पुलिस ने ऐसे बिगाड़ा विभव कुमार का खेल

नई दिल्ली, आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल से मारपीट करने के मामले …