जम्मू कश्मीर में अगर आतंकवाद समाप्त हो गया है तो कश्मीरी पंडित को किसने मारा : महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को कहा कि कश्मीरी मुसलमान एक कश्मीरी पंडित की हत्या पर शर्मसार हैं। मुफ्ती ने इसके साथ ही जम्मू कश्मीर में सामान्य स्थिति बहाल होने के दावे को लेकर सरकार पर निशाना साधा। एटीएम गार्ड के रूप में काम करने वाले संजय शर्मा (40) को रविवार को करीब 11 बजे पुलवामा जिले के अचन इलाके में उनके घर से बमुश्किल 100 मीटर की दूरी पर आतंकवादियों ने गोली मार दी थी। शर्मा को राहगीरों की मदद से अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्होंने दम तोड़ दिया।

हत्या पर कश्मीरी मुसलमान शर्मसार: महबूबा
पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने पुलवामा में संजय शर्मा के घर का दौरा करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में सवाल किया कि सरकार आतंकवाद समाप्त करने का दावा करती है। अगर ऐसा है तो उन्हें (शर्मा को) किसने मारा? सरकार क्या कर रही है? जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री मुफ्ती ने कहा कि शर्मा की हत्या पर कश्मीरी मुसलमान शर्मसार हैं। उन्होंने कहा कि हम वही लोग हैं जिन्होंने 1947 में घाटी में रहने वाले कश्मीरी पंडितों, हिंदुओं और सिखों की रक्षा के लिए सब कुछ दांव पर लगा दिया था, जब उपमहाद्वीप सांप्रदायिक दंगों से जूझ रहा था।

कश्मीरी मुसलमान आज बेबस हैं
पीडीपी प्रमुख ने कहा कि कश्मीरी मुसलमान आज बेबस हैं। उन्होंने कहा कि आज, कश्मीरी मुसलमान फंस गए हैं। एक तरफ सरकार की ज्यादतियां हैं और आतंकवाद को खत्म करने के नाम पर हजारों युवाओं को जेलों में डाल दिया गया है। दूसरी तरफ, घरों को सील कर दिया गया है, एनआईए और ईडी की छापेमारी हो रही है। मुफ्ती ने कहा कि शर्मा के परिवार में उनकी पत्नी और तीन बच्चे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार को उनकी पत्नी को नौकरी देनी चाहिए।

महबूबा ने पुकश्मीरी पंडित के परिवार से मुलाकात की
जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को आतंकवादियों द्वारा मारे गए स्थानीय पंडित संजय शर्मा के परिवार से मुलाकात की। महबूबा मुफ्ती ने पुलवामा जिले के अचन गांव में उनके शोक संतप्त परिवार से मुलाकात की और उनके साथ संवेदना और एकजुटता व्यक्त की। मुफ्ती ने परिवार को इस दुखद घड़ी में हर संभव मदद का आश्वासन दिया। संजय पंडित एक बैंक में सिक्योरिटी गार्ड के पद पर कार्यरत था। उसके पैतृक गांव में आतंकियों ने उसकी हत्या कर दी थी।

About bheldn

Check Also

सीएम योगी से हुई राजा भैया की मुलाकात? BJP प्रदेश अध्यक्ष से मीटिंग के बीच गरमाई यूपी की सियासत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजनीति में बदलाव होता दिख रहा है। लोकसभा चुनाव 2024 के …