योगी के साथ खाने की मेज पर नहीं दिखे केशव प्रसाद मौर्य, सपा बोली- साइड में एक स्टूल ही लगा देते

लखनऊ

उत्तर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना ने रविवार (26 फरवरी, 2023) को अपने आवास पर विधानसभा और विधान परिषद के सभी सदस्यों को लंच पर बुलाया था। इस दौरान की कई तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हुईं। वहीं, यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ खाने के बीच पर यूपी डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य नजर नहीं आए तो सपा ने तंज कसा।

योगी आदित्यनाथ के साथ नहीं नजर आए यूपी डिप्टी सीएम
समाजवादी पार्टी द्वारा साझा की गई तस्वीर में योगी आदित्यनाथ विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना, यूपी डिप्टी सीएम बृजेश पाठक, मंत्री स्वतंत्र देव सिंह और कई अन्य नेताओं के साथ डिनर टेबल पर दिखाई दे रहे हैं। वहीं, इस तस्वीर में राज्य के दूसरे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य दिखाई नहीं दे रहे। इसी तस्वीर को शेयर करते हुए सपा ने केशव प्रसाद मौर्य पर कटाक्ष किया है।

सपा ने केशव प्रसाद मौर्य पर कसा तंज
सपा ने यूपी डिप्टी सीएम पर तंज कसते हुए लिखा, “साइड में एक स्टूल केशव प्रसाद मौर्य के लिए भी लगा देते, वो भी सबके साथ भोजन कर लेते। गंगा जल से नहला कर ही ले आते। अगर मौर्या जी के पिछड़ेपन के कारण उनसे कोई अछूत वाला व्यवहार है तो ये गलत है और इसकी कड़ी निन्दा हम करते हैं। बेचारे इस भोज से दूर क्यों रखे गए? बुलाए नहीं गए या वे आए नहीं?”

सोशल मीडिया यूज़र्स के रिएक्शन
सपा द्वारा शेयर की गयी तस्वीर कुछ लोगों ने कटाक्ष करते हुए रिएक्शन दिए हैं, वहीं यूज़र्स ने यूपी डिप्टी सीएम पर चुटकी लिए हुए कमेंट्स किये हैं। @avirald36 नाम के एक यूजर ने अखिलेश यादव के साथ खाना खाते कुछ सपा विधायकों की फोटो शेयर करते हुए लिखा,”यहां पर भी मौर्य जी नहीं हैं, मतलब स्वामी प्रसाद मौर्य।”

@randheer_final नाम के एक यूजर ने सपा कटाक्ष कर लिखा- यह सब विधानसभा के लोग हैं और स्वंत्रदेव भी ओबीसी हैं। जातिवाद में मूर्खता पूर्ण बातें न करो भाई। @Ramjirajpoot नाम के एक ट्विटर हैंडल से कमेंट आया, ‘जातिवाद से समाजवादी पार्टी समाप्त हो जायेगी, जातिवाद का खेल ज्यादा दिन नहीं चलता।

@GunjanPandita1 नाम के एक ट्विटर हैंडल से लिखा गया कि जाति टटोलकर भोजन पर बुलाने की प्रथा सपा में ही है। अपना इतिहास क्यों नहीं याद कर लेते। @RamPalKaushal7 नाम के एक यूजर लिखते हैं- अखिलेश जी आप मौर्य के इतने ही हितैषी हैं तो स्वामी प्रसाद को एक स्टूल दे देते लेकिन आपने भी राजनीति की है। @SaurabhT2001 नाम के एक यूजर ने कमेंट किया कि बिल्कुल ही मूर्खता का परिचय, वहीं पर स्वतंत्र देव जी भी बैठे हैं। कहां जातिवाद हो रहा है। सपा मे ही एक जाति और मजहब की प्रधानता रहती है।

About bheldn

Check Also

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को बड़ा झटका, BSP छोड़ने की तैयारी में सभी 10 सांसद?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले देश के सबसे बड़े सियासी सूबे उत्तर प्रदेश में पूर्व …