‘अतीक अहमद की गाड़ी पलट जाए तो कोई आश्चर्य नहीं…’, उमेश पाल हत्याकांड पर बोले बीजेपी सांसद

लखनऊ,

प्रयागराज के उमेश पाल हत्याकांड का कनेक्शन बाहुबली अतीक अहमद से जुड़ रहा है. पुलिस प्रशासन ने अतीक के परिवार और करीबियों पर कार्रवाई भी शुरू कर दी है. इन सबके बीच कन्नौज से बीजेपी सांसद सुब्रत पाठक ने बिकरू कांड के विकास दुबे की याद दिलाते हुए अतीक अहमद की गाड़ी पलटने की आशंका जताई है.

सांसद सुब्रत पाठक ने ट्वीट किया, उत्तर प्रदेश पुलिस की सुरक्षा में उमेश पाल समेत पुलिस सुरक्षाकर्मी की हत्या सीधे उत्तर प्रदेश की सरकार पर हमला है. याद रखो जब विकास दुबे नहीं बचा तो इन दुर्दांतों का क्या होगा, ये बताने की आवश्यकता नहीं है और अब यदि गाड़ी अतीक की भी पलट जाए तो मुझे कोई आश्चर्य नहीं होगा.

क्या है उमेश पाल हत्याकांड?
प्रयागराज में शुक्रवार को उमेश पाल और उसके गनर की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी. उमेश पाल राजूपाल हत्याकांड में गवाह थे. उमेश के गाड़ी से उतरते ही बदमाशों ने उनकी पर फायरिंग कर दी थी. इस दौरान उनकी और उनके गनर की गोली लगने से मौत हो गई. बदमाशों ने इस हत्याकांड को 44 सेकेंड में अजाम दिया. उमेश की हत्या का आरोप अतीक अहमद पर लग रहा है.

पुलिस ने उमेश पाल की पत्नी जया पाल की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया है. पुलिस ने अतीक अहमद के साथ ही अतीक के भाई, पत्नी शाइस्ता परवीन, अतीक अहमद के दो बेटों और अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. प्रयागराज पुलिस ने अतीक अहमद के दोनों बेटों के साथ करीब 14 संदिग्ध हिरासत में लिए हैं. कौशांबी और प्रतापगढ़ में प्रॉपर्टी डीलिंग विवाद से जुड़े चार युवकों को भी हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

एक आरोपी का हुआ एनकाउंटर
इससे पहले सोमवार को उमेश पाल हत्याकांड में एक आरोपी का एनकाउंटर हुआ था. पुलिस ने धूमनगंज इलाके में स्थित नेहरू पार्क के जंगल में अरबाज को ढेर कर दिया था. उमेश पाल की हत्या में जिस क्रेटा कार का इस्तेमाल किया गया था, उसे अरबाज ही चला रहा था. मारे गए बदमाश अरबाज को पूर्व सांसद अतीक अहमद का करीबी बताया जा रहा है.

अतीक अहमद से होगी पूछताछ
अतीक अभी साबरमती जेल में बंद है. अतीक पर 100 क्रिमनल केस दर्ज हैं. इनमें हत्या, लूट, अपहरण, वसूली और अवैध हथियारों की डील समेत कई गंभीर आरोप लगे हैं. उमेश पाल और गनर की हत्या के मामले में यूपी पुलिस बाहुबली अतीक अहमद से पूछताछ करेगी.

अतीक अहमद के करीबियों पर कार्रवाई शुरू
उधर, यूपी प्रशासन ने अतीक अहमद के करीबियों पर एक्शन शुरू कर दिया. प्रयागराज में अतीक अहमद के करीबी बिल्डर खालिद जफर के घर पर बुलडोजर चलाया गया. आरोप है कि इस इसी दो मंजिला इमारत में ही उमेश पाल हत्याकांड के बाद शूटर, अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता से मिलने आए थे और मिलने के बाद फरार हो गए थे. प्रयागराज विकास प्राधिकरण के मुताबिक, ये अवैध संपत्ति है. उधर, लखनऊ में भी अतीक अहमद के करीबियों के यहां छापेमारी की गई.

About bheldn

Check Also

UP: मां से अवैध संबंध, 8 साल की बेटी से रेप, लखनऊ में मदरसे का मौलाना गिरफ्तार

लखनऊ , लखनऊ के एक मदरसे में पढ़ने वाली मासूम बच्ची के साथ कुकर्म का …