नीतीश के मन में का बा? RJD कोटे के मंत्रियों के बारे में खुलकर बात, ‘खेला’ के लिए तैयार कर रहे मैदान!

पटना

बिहार में सात पार्टियों के महागठबंधन की सरकार चल रही है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इन दिनों अपने मंत्रिमंडल के आरजेडी कोटे के मंत्रियों को ही नसीहत दे रहे हैं, ऐसे में कई तरह के कयास भी लगाए जाने लगे हैं। नीतीश कुमार शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर के रामचरितमानस को लेकर दिए गए बयानों से पहले से ही नाराज है। इसके बाद मंत्री ने कैबिनेट की बैठक के पूर्व ही शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर सोशल मीडिया पर जानकारी शेयर कर दी, जो मुख्यमंत्री को नागवार गुजरी। मंत्री ने सातवें चरण की शिक्षक नियुक्ति नियमावली का ब्योरा कैबिनेट में जाने के पहले ही उनके स्तर पर लीक हो गया। इसके बाद नीतीश कुमार ने विधानसभा में ही उन्हें नसीहत दे दी।

नीतीश की नसीहत या…
नीतीश कुमार ने राज्यपाल के अभिभाषण पर सदन में बोलते हुए मंत्री की ओर इशारा करते हुए नसीहत देने के अंदाज में कहा कि कैबिनेट की बात पहले ही ये मीडिया में बता देते हैं। उन्होंने कहा कि कैबिनेट में भेजे जाने की बात सार्वजनिक नहीं किया जाता है। उन्होंने कहा कि जब कैबिनेट में पास हो जाएगी तो घोषणा होती ही है। उन्होंने कहा कि हम अखबार में देखे कि शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर के हवाले से खबर छपी थी। शिक्षा मंत्री पर तंज कसते हुए कहा कि कैबिनेट में भेजे जाने की बात को सार्वजनिक नहीं किया जाता है। संविधान में प्रावधान है, लेकिन अखबार में छपने लगा कि कैबिनेट में प्रस्ताव भेज दिया गया है तो यह गलत है।

प्रेशर पॉलिटिक्स या खेला की तैयारी?
दूसरी तरफ, बिहार के मुजफ्फरपुर के कांटी में एक युवक की हत्या के मामले में मंत्री इसराइल अंसारी पर आरोप लगाए जाने के बाद भी मुख्यमंत्री की किरकिरी हो रही है। भाजपा द्वारा इस मामले को सदन में उठाए जाने के बाद नीतीश ने मंत्री को नसीहत दी है। ऐसा नही कि नीतीश की नाराजगी राजद के मंत्रियों सर ऐसे ही हुई है। कहा जा रहा है कि नीतीश के खिलाफ आरजेडी के नेता बयान दे रहे हैं और आरजेडी कारवाई तक नहीं कर पा रही है। ऐसे में माना जा रहा है कि नीतीश भी मौका मिलते मंत्री को नसीहत देने से नहीं चूक रहे हैं।

नीतीश के मन में का बा?
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जिस तरह आरजेडी कोटे के मंत्रियों को लेकर बयान दे रहे हैं, उससे कयासों का बाजार गरम है। सियासी पंडितों के मन में कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। हर कोई ये जानना चाहता है कि नीतीश कुमार के मन में क्या चल रहा है? क्या नीतीश कुमार आरजेडी कोटे के मंत्रियों के खिलाफ बोलकर ‘सियासी खेला’ के लिए मैदान तैयार कर रहे हैं या फिर सिर्फ नसीहत दे रहे हैं?

About bheldn

Check Also

‘नीतीश का NDA में लौटना नुकसानदेह’, दीपांकर भट्टाचार्य ने JDU-BJP दोस्ती को लेकर किया बड़ा खुलासा, सियासी हलचल तय

पटना भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) लिबरेशन के नेता दीपांकर भट्टाचार्य ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश …