घटती जनसंख्या को लेकर माहेश्वरी समाज चिंतित, तीसरी संतान पैदा करने पर देगा 50 हजार की FD

पुष्कर,

माहेश्वरी समाज के लोगों की घटती जनसंख्या को लेकर समाज के लोग चिंतित हैं. उन्होंने अब अपने समाज में तीन बच्चों की पॉलिसी को बढ़ावा देने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने की योजना बनाई है. सेवा सदन की साधारण सभा के दौरान इसे लेकर कई फैसले भी लिए गए हैं. जैसे माहेश्वरी समाज अब तीसरी संतान पैदा करने पर अपने समाज के लोगों को पचास हजार रुपए की एफडी कराकर देगा.

पुष्कर में आयोजित बैठक में इस बात पर चर्चा हुई कि समाज में शादियां करने के लिए लड़के-लड़कियां नहीं हैं. ऐसे में समाज को भारी परेशानी उठानी पड़ रही है. इसलिए तीसरी संतान पैदा करने वाले परिवार को सम्मान देने का फैसला किया गया है. इसके अलावा बैठक में नासिक, जगन्नाथपुरी एवं अयोध्या में शीघ्र भवन निर्माण प्रारम्भ करवाने का निर्णय भी लिया गया.. वार्षिक साधारण सभा रामकुमारजी भूतड़ा की अध्यक्षता में पुष्कर में सम्पन्न हुई. इसमें सुदूर प्रदेशों सहित राजस्थान के लगभग सभी जिलों से समाज के सैंकड़ों लोग उपस्थित रहे.

साधारण सभा की शुरुआत में रामकुमारजी भूतड़ा ने अपने उपस्थित सभी मंचासीन अतिथियों, पदाधिकारियों एवं सदस्यों का अभिनन्दन करते हुए सेवा-सदन के सभी प्रकल्पों पर संक्षिप्त में प्रकाश डाला. अपने उद्बोधन में उन्होंने समाज की घटती जनसंख्या पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि वर्तमान परिवेश में समाज की जनसंख्या में वृद्धि होना आवश्यक है.

इसके लिये सेवा-सदन ने पहले तृतीय कन्या के जन्म होने पर 50,000 रुपये की एफडीआर प्रदान कर मातृशक्ति का सम्मान किये जाने की योजना को विस्तारित करके हुए तीसरी संतान के जन्म पर ही प्रोत्साहन दिये जाने का प्रस्ताव रखा. इस पर सभी ने करतल-ध्वनि से समाज प्रस्ताव का समर्थन किया.

राजकुमारजी ने नवीन अयोध्या प्रकल्प सहित नासिक एवं जगन्नाथपुरी में जल्द निर्माण करवाने का आश्वासन दिया. उन्होंने अयोध्या प्रकल्प के लिए भूमि सहयोगदाता राधाकिशन दामाणी (डी-मार्ट), बजरंगलालजी तापड़िया (सुप्रीम इण्डस्ट्रीज), बंशीलालजी राठी चैन्नई, रामावतारजी जाजू, इन्दौर, भंवरलालजी सोनी जोधपुर सहित अलग अलग भामाशाहों ने नामों का उल्लेख करते हुए साधुवाद प्रकट किया

About bheldn

Check Also

लोकसभा चुनाव से पहले मायावती को बड़ा झटका, BSP छोड़ने की तैयारी में सभी 10 सांसद?

लखनऊ: लोकसभा चुनाव से पहले देश के सबसे बड़े सियासी सूबे उत्तर प्रदेश में पूर्व …