बहन को प्रेमी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देखा था, 1 माह बाद मिली भाई की लाश

हरिद्वार ,

हरिद्वार के लक्सर से हैरान कर देने वाली वारदात सामने आई है. जहां एक नाबालिग बहन ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर अपने सगे भाई को मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद शव को गड्ढा खोदकर उसमें दफना दिया. घटना का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस मामले में पुलिस ने कई हैरान कर देने वाले खुलासे भी किए. जिसे सुनकर हर किसी के होश उड़ गए.

लक्सर के ढाढेकी गांव में उस वक्त हड़कंप मच गया जब भारी संख्या में पुलिस पहुंची और जमीन में गढ़े शव को बाहर निकाला. मर्डर मिस्ट्री का खुलासा करते हुए एसपी देहात रेखा यादव ने बताया है कि मृतक युवक की बहन के प्रेमी ने ही अपने दोस्त के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया. इसके बाद शव को अपने ही घर में दफना दिया था.

दूध में नींद की गोलियां पिलाकर परिवार को सुलाया
पुलिस ने बताया कि 6 फरवरी की रात पूरा परिवार अचानक गहरी नींद में सो गया था और 17 साल का कुलवीर उर्फ शेर सिंह संदिग्ध परिस्थितियों में गायब हो गया था. घंटों बाद जब परिवार के सदस्यों की नींद खुली, तो देखा कि कुलवीर गायब है.आस-पास उसे काफी ढूंढा गया, लेकिन उसका कहीं कुछ पता नहीं चल सका. इसके बाद थान में तहरीर दी गई और पुलिस ने गायब कुलबीर की तलाश शुरू की. हर कोई इस बात से हैरान था कि आखिरी पूरा परिवार इतनी देर तक कैसे सोता रहा.

पुलिस को मुखबिर से मिली अहम जानकारी
कुलवीर को तलाशने के लिए पुलिस ने एक टीम का गठन किया. इस बीच पुलिस को मुखबिर के जरिए एक अहम जानकारी हासिल हुई. पुलिस को पता चला कि कुलवीर की बहन के पड़ोस में रहने वाले राहुल के साथ प्रेम प्रसंग हैं. इसकी वजह से कई बार तीनों का आपस में विवाद भी हुआ था.

इस महत्वपूर्ण लीड पर पुलिस ने काम करना शुरू किया और हत्या की गुत्थी सुलझती चली गई. पुलिस ने जब मृतक कुलवीर की नाबालिक बहन से पूछताछ की तो उसने बताया कि पड़ोस में रहने वाला युवक राहुल से उसका प्रेम प्रसंग चल रहा था.

भाई कुलवीर ने उसे राहुल के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया था. इसके बाद राहुल और भाई के बीच झगड़ा भी हुआ था. भाई ने उसके साथ भी मारपीट की थी. फिर उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर भाई कुलवीर को रास्ते से हटाने का प्लान तैयार किया. भाई को रास्ते से हटाने के लिए प्रेमी राहुल ने उसे नींद की गोलियां दीं.

हत्या के बाद अपने ही घर में लाश को दफना दिया
इसके बाद 6 फरवरी की रात करीब 8 बजे पूरे परिवार को नाबालिग ने दूध में नींद की गोलियां मिलाकर सभी को पिला दिया. दूध पीने के बाद जब पूरा परिवार बेहोश हो गया, तब रात में राहुल अपने दोस्त कृष्णा के साथ उसके घर आया और रस्सी के कुलवीर का गला घोंट दिया.फिर शव को अपने घर में गड्ढा खोदकर दबा दिया. भाई की हत्या की साजिश में शामिल बहन ने भी नींद की गोलियां खा लीं, जिससे सभी को गुमराह कर सके.

पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया
ब्लाइंड केस का खुलासा करने वाले लक्सर कोतवाली पुलिस की एसएसपी अजय सिंह और एसपी क्राइम रेखा यादव ने हौसला अफजाई की. वहीं, पुलिस यह भी जानकारी जुटा रही है कि आरोपी नींद की गोली किस मेडिकल से लाई गईं थीं. तीनों आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

About bheldn

Check Also

लोन देने में संकोच न करें बैंक, लाभार्थी को प्रशिक्षण दिलाएगी सरकारः योगी आदित्यनाथ

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में बैंकों का सीडी रेशियो (ऋण …