UP: मोबाइल के शौक में लड़के बने हैवान, 20 हजार में लड़की को बेचा फिर तीन ने किया रेप

गाजीपुर,

उत्तर प्रदेश के गाज़ीपुर में हैवानियत के एक मामले में सैदपुर पुलिस ने चार नाबालिगों समेत पांच आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में पुलिस अधीक्षक ओमवीर सिंह ने जो घटना बताई वो दिल को दहला देने वाली है और महंगे मोबाइल के शौक में आज कल के युवा किस स्तर तक गिर सकते हैं इसकी नजीर भी सामने आई है.

एसपी गाज़ीपुर के अनुसार, सैदपुर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम रस्तीपुर के निर्माणाधीन मकान में काम कर रहे मजदूर के बीमार पड़ जाने पर अपने पिता की जगह काम पर आए एक नाबालिक लड़के ने मकान मालकिन के पोती (नाबालिग लड़की) को बहला-फुसला लिया और दूसरे नाबालिक आरोपी के साथ मिलकर उसे कोचिंग जाते समय अपनी मोटर साईकिल पर बैठा लिया.

दोनों नाबालिग आरोपी, लड़की को चौबेपुर ले गये जहां इनके तीन दोस्त दो मोटर साईकिलों से मिले. लड़की को ले जाने वाले दो नाबालिग आऱोपियों ने बच्ची को अपने दोस्तों को सौंप दिया. फिर इन तीनों ने नाबालिग बालिका को वाराणसी में ही हाईवे के किनारे एक गेंहूं के खेत में ले जाकर उसके साथ बलात्कार किया और दिन भर उसे वाराणसी घूमाते रहे.

पकड़े जाने से बचने के लिए उसे विश्व सुन्दरी पुल, वाराणसी पर ले जाकर पुल से गंगा नदी में नीचे फेंक दिये. नदी में मछली पकड़ रहे मल्लाहों ने उसे बचाकर स्थानीय पुलिस चौकी नगवां को सूचित किया, जहां से उसे बीएचयू ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया. बालिका के होश में आने पर उसके द्वारा फोन नम्बर बताने पर उसके घर सूचना दी गयी.

इसके बाद पुलिस ने बच्ची की निशानदेही पर पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया. गिरफ्तारी के बाद आरोपियों से पूछताछ में नाबालिग ने बताया कि उसे मोबाईल फोन खरीदने के लिए रुपये की जरुरत पड़ी, इस वजह से अपने तीनों दोस्तो से 20 हजार रुपये मिलने की लालच में नाबालिग को उन्हें सौपा था. पुलिस ने पांचों को हिरासत में ले लिया है.

About bheldn

Check Also

डॉक्टर ने नाम बदलकर रचाई शादी, फिर महिला का जबरन कराया धर्म परिवर्तन

सहारनपुर , सहारनपुर के थाना देवबंद पुलिस ने एक डॉक्टर को नाम बदल कर दूसरे …