‘राहुल गांधी संसद में नहीं तो मेरा क्या काम?’, कांग्रेस MP ने दिए इस्तीफे के संकेत

नई दिल्ली,

राहुल गांधी की सांसदी जाने से कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता बेहद दुखी हैं. नाराज कार्यकर्ता देशभर में सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं. इन सबके बीच अब कांग्रेस के एक सांसद ने तो अपनी सांसदी से इस्तीफा देने का संकेत दे दिया है. इनका नाम मणिकम टैगोर है और यह तमिलनाडु से कांग्रेस पार्टी के सांसद हैं.

मणिकम टैगोर ने कहा है कि जब राहुल गांधी संसद में नहीं रहेंगे तो फिर वह रहकर क्या करेंगे. उन्होंने कहा है कि लोकसभा अध्यक्ष ने उनके नेता राहुल गांधी को संसद से अयोग्य घोषित कर दिया है. यह घटनाक्रम देखने के बाद अब वह भी संसद में नहीं बने रहना चाहते हैं.

मणिकम ने आगे कहा कि राहुल गांधी ने उन्हें 2009 में लोकसभा में पहुंचने का मौका दिया. लेकिन अब वह खुद वहां (संसद में) पर नहीं होंगे. उन्होंने कहा,’जब राहुल गांधी ही संसद में नहीं होंगे तो फिर मैं रहकर क्या करूंगा. उनके साथ हुए अन्याय से मैं आहत हूं’

क्यों गई राहुल की सांसदी?
दरअसल, राहुल गांधी ने कर्नाटक के कोलार में 13 अप्रैल 2019 को चुनावी रैली में कहा था कि नीरव मोदी, ललित मोदी, नरेंद्र मोदी का सरनेम कॉमन क्यों है? सभी चोरों का सरनेम मोदी क्यों होता है? राहुल के इस बयान को लेकर बीजेपी विधायक और पूर्व मंत्री पूर्णेश मोदी ने उनके खिलाफ धारा 499, 500 के तहत आपराधिक मानहानि का केस दर्ज कराया था.

रैली में दिया था संबोधन
अपनी शिकायत में बीजेपी विधायक ने आरोप लगाया था कि राहुल ने 2019 में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए पूरे मोदी समुदाय को कथित रूप से यह कहकर बदनाम किया कि सभी चोरों का सरनेम मोदी क्यों होता है? पूर्णेश भूपेंद्र पटेल सरकार के पहले कार्यकाल में मंत्री थे. वे दिसंबर में सूरत से फिर विधायक चुने गए.

About bheldn

Check Also

पिता ने बदला पाला तो पार्टी ने छीना बेटे का पद, मुंबई यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष पद से विधायक जीशान सिद्धिकी को हटाया

मुंबई कांग्रेस नेता बाबा सिद्धिकी ने कांग्रेस छोड़ी तो कांग्रेस ने उनके विधायक बेटे जीशान …