‘अमृतपाल के साथियों को 24 घंटे में रिहा करो’, SGPC की सरकार को चेतावनी

चंडीगढ़,

पंजाब पुलिस के एक्शन के बाद से अब तक खालिस्तान समर्थक और भगोड़े अमृतपाल का कुछ पता नहीं चला है. पुलिस अब तक उसके कई साथियों को गिरफ्तार कर चुकी है. लेकिन अब अमृतपाल के समर्थकों को जेल से रिहा कराने की कोशिशें शुरू हो गई हैं. सिखों के संगठन शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (SGPC) ने अमृतपाल के साथियों को 24 घंटे के अंदर रिहा करने का अल्टीमेटम दिया है.

SGPC के प्रमुख हरजिन्दर सिंह धामी ने सोमवार को कहा है कि सरकार 24 घंटे में अमृतापाल के साथियों को रिहा करे. अगर ऐसा न किया गया तो SGPC संगठन गांव-गांव जाकर लोगों को जागरुक करेगा. धामी ने ऐसे लोगों से उन्हें संपर्क करने के लिए कहा है, जिनके परिवार के किसी भी सदस्य को अब तक पंजाब पुलिस ने इस मामले में पकड़ा है. SGPC ने कहा है कि उन परिवारों से संपर्क के बाद अदालत में याचिका दाखिल की जाएगी.

अमृतपाल के खिलाफ अब तक हुए एक्शन पर किए गए मीडिया कवरेज को हरजिन्दर सिंह धामी ने सिखों को बदनाम करने की साजिश करार दिया है. धामी ने कहा है कि वह नेशनल मीडिया के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे.बता दें कि सुरक्षा एजेंसियों को आशंका है कि अमृतपाल यूपी के रास्ते नेपाल भाग सकता है. यही वजह है कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और उत्तराखंड के बाद अब नेपाल में उसकी तलाश शुरू की गई है.

इंटेलिजेंस ब्यूरो (IB), पंजाब पुलिस और दिल्ली पुलिस की टीमें उसको नेपाल में तलाश रही हैं. 20 मार्च को हरियाणा के बाद अमृतपाल आगे कहां गया, इसको लेकर कोई पुख्ता सुराग पंजाब पुलिस के हाथ नहीं लगा है. मगर, ये जानकारी सामने आई कि 23 मार्च को अमृतपाल यूपी के लखीमपुर खीरी में था. यहां से नेपाल बॉर्डर की दूरी कुछ घंटों की है.

ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि वो नेपाल ना भाग गया हो. लिहाजा, नेपाल में भी उसकी तलाश शुरू कर दी गई है. उधर, अमृतपाल के साथियों को आज अजनाला कोर्ट में पेश किया गया. यहां उनका मेडिकल करवाया गया, जिसकी रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ कि उसके दो साथी एचआईवी पॉजिटिव हैं.

यह जानकारी ‘वारिस पंजाब दे’ की ओर से केस लड़ रहे एडवोकेट बरिंदर सिंह ने दी है. वहीं, अकाल तख्त के जत्थेदार हरप्रीत सिंह ने भगोड़े अमृतपाल सिंह से पुलिस के सामने सरेंडर करने और जांच में सहयोग करने की अपील की है.

About bheldn

Check Also

हद हो गई…. किसानों को रोकने सिंघु बॉर्डर पर लगाई गई LRAD डिवाइस, आदमी को बना सकती है बहरा

चंडीगढ़ किसानों के विरोध प्रदर्शन के बीच दिल्ली की उत्तरी और पश्चिमी बॉर्डर पर पुलिस …