माफिया अतीक अहमद के भाई अशरफ के वकीलों का रायबरेली पुलिस ने क्यों काट दिया चालान?

रायबरेली

प्रयागराज कांड उमेश पाल हत्याकांड में शामिल माफिया अतीक अहमद के भाई अशरफ अहमद के वकीलों का यूपी पुलिस ने चालान काट दिया है। बताया जा रहा है कि काफिले में चल रहे अशरफ के वकील की गाड़ी पर काली फिल्म चढ़ी थी। रायबरेली में गाड़ी को रोककर उनकी तलाशी ली गई। साथ ही गाड़ी के अंदर रखे सभी कागजात और सामान भी देखे गए। गाड़ी के अंदर बैठे सभी अधिवक्ता से पूछताछ भी की गई। इसके बाद शीशे पर चढ़ी काली फिल्म उतार ली गई और ई-चालान कर गाड़ी को छोड़ा गया।

वकीलों का कहना है कि पुलिस बरेली से रायबरेली तक तीन जगह उन्हें रोका गया। उन्होंने कहाकि आखिरी में रायबरेली की सीमा में पहुंचने पर उनकी गाड़ी को फिर रोका गया। पूरी तरह से उनकी गाड़ी की तलाशी लेने के बाद उसका ई-चालान कर दिया गया। अधिवक्ता हिमांशु त्रिपाठी ने बताया माननीय उच्च न्यायालय के कार्य को लेकर वह बरेली से प्रयागराज जा रहे थे। वह काफिले में चल रहे थे।रायबरेली में उनकी गाड़ी को पुलिस ने किनारे करने के लिए गाड़ी से सटाकर रुकवाने की कोशिश की। पुलिस ने बताया कि काली फिल्म चढ़ी होने की वजह से अंदर का कुछ दिखाई नहीं दे रहा था।

अतीक के भाई के वकीलों का कटा चालान
रायबरेली अपर पुलिस अधीक्षक नवीन कुमार सिंह ने बताया माफिया डॉन अतीक अहमद के भाई अशरफ के काफिले में वकीलों की गाड़ी की चेकिंग की गई।उन्होंने अशरफ के साथ होने की बात कही और बताया कि वह कागज लेकर बरेली से प्रयागराज जा रहे है। गाड़ी में काली फिल्म शीशे पर चढ़ी थी. उसको उतारा गया। साथ ही उनका e-challan करके छोड़ दिया गया।

About bheldn

Check Also

व्यास जी तहखाने में पूजा जारी रहेगी या बंद होगी, सोमवार को हाई कोर्ट ज्ञानवापी पर सुनाएगा फैसला

वाराणसी इलाहाबाद हाईकोर्ट सोमवार को ज्ञानवापी परिसर में व्यास तहखाने में पूजा करने की अनुमति …