दिल्ली में एक हफ्ते में कोरोना के तीन गुना केस, देश में डेली मरीज 3000 पार…

नई दिल्ली,

कोरोना ने देश में एक बार फिर पैर पसारने शुरू कर दिए हैं. भारत में जहां 6 महीने बाद एक दिन में 3000 से ज्यादा केस मिले. तो वहीं दिल्ली में भी कोरोना के आंकड़े चौंकाने वाले हैं. यहां सितंबर के बाद पहली बार कोरोना के 300 केस मिले हैं. बड़ी बात ये है कि पॉजिटिविटी रेट 13.89% है. राजधानी में पिछले 24 घंटे में 2 लोगों की मौत भी महामारी से हुई है. एक्सपर्ट के मुताबिक, कोरोना के नए XBB.1.16 वेरिएंट के चलते मामलों में इजाफा हुआ है.

देश में बढ़ रहे कोरोना के केस
भारत में 24 घंटे में कोरोना के 3,016 मामले मिल हैं.एक्टिव केस भी बढ़कर 13,509 हो गए हैं. इससे पहले देश में 2 अक्टूबर को 3,375 केस मिले थे. सबसे ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि देश में पिछले 24 घंटे में 14 लोगों ने अपनी जान गंवाई है. भारत में पॉजिटिविटी रेट 2.73% हो गया है. अब तक देश में कोरोना के 4.47 करोड़ केस सामने आ चुके हैं.

24 घंटे में कहां कितनी मौतें ?
राज्य मौतें
केरल 8
महाराष्ट्र 3
दिल्ली 2
हिमाचल 1

दिल्ली में सितंबर के बाद पहली बार 300 केस
दिल्ली में सितंबर के बाद पहली बार कोरोना के 300 केस मिले हैं. पॉजिटिविटी रेट बढ़कर 13.89% हो गया है. राजधानी में एक्टिव केस 806 हो गए हैं. दिल्ली में पिछले 1 हफ्ते में 3 गुना केस बढ़े हैं. राजधानी में एक हफ्ते पहले हर रोज 100 के करीब केस मिल रहे थे. बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सौरभ भारद्वाज ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई. इस बैठक में स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारियों और विशेषज्ञ डॉक्टर्स को बुलाया गया है.

हालांकि, सौरभ भारद्वाज ने कहा कि यह वेरिएंट सीरियस नहीं है. इसलिए दिल्ली में कोरोना संक्रमण दर में बढ़ोतरी की तुलना पिछली लहर से नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि केंद्र की एडवाइजरी में 6 राज्यों का जिक्र है, लेकिन इसमें दिल्ली नहीं है. उन्होंने कहा कि जब जब कोरोना की लहर आती है, दिल्ली में केस बढ़ते हैं.

भारद्वाज ने बताया कि अस्पतालों को कहा गया है कि ऑक्सीजन सप्लाई, वेंटिलेटर आदि को पूरी तरह से ऑप्रेशनल रखा जाए. इसे लेकर मॉक ड्रिल भी कराई गई. सभी जगह नोडल ऑफिसर तैनात कर दिए गए. दिल्ली सरकार स्थिति पर नजर बनाए हुए है.

हिमाचल में एक्टिव केस 540 हुए
हिमाचल में भी कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. यहां एक्टिव मामले बढ़कर 540 हो गए हैं. स्वास्थ्य विभाग को टेस्टिंग बढ़ाने के निर्देश दिए गए हैं. हिमाचल के सीएम सुखविंदर सिंह सुक्खू ने लोगों से कोविड नियमों का पालन करने की अपील की है. उन्होंने कहा, डरने वाली कोई बात नहीं है, लेकिन सभी लोग सावधानी बरतें. हिमाचल मे स्थिति नियंत्रण में है.

क्या कहते हैं एक्सपर्ट?
हाल के दिनों में COVID-19 मामलों में वृद्धि के बीच, कुछ एक्सपर्ट का कहना है कि नया XBB.1.16 वेरिएंट कोरोना के मामलों में वृद्धि कर सकता है. हालांकि, एक्सपर्ट का कहना है कि घबराने की जरूरत नहीं है. लोगों को कोरोना नियमों का पालन करना चाहिए और बूस्टर डोज लगवानी चाहिए. इतना ही नहीं एक्सपर्ट ने कहा कि लोग एहतियात के तौर पर इन्फ्लूएंजा वायरस से संक्रमित होने और बुखार संबंधित बीमारियों के दौरान भी कोरोना टेस्टिंग करा रहे हैं. यह भी कोरोना केस बढ़ने की एक वजह है.

उधर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने कहा, देश में ओमिक्रॉन के नए सब वेरिएंट की वजह से केस बढ़े हैं. हमें सतर्क रहने की जरूरत है. लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है. हर नए वेरिएंट को आइसोलेट किया जाता है और इसका परीक्षण किया जाता है कि हमारा वैक्सीन इस पर प्रभावी है, या नहीं. अभी तक सामने आए सभी वेरिएंट पर वैक्सीन प्रभावी पाई गई है.

About bheldn

Check Also

संयुक्त किसान मोर्चा ने किया ‘WTO क्विट डे’ का ऐलान, कल नेशनल और स्टेट हाईवे पर ट्रैक्टर लेकर करेंगे प्रदर्शन

नई दिल्ली, MSP समेत कई मांगों को लेकर किसान आंदोलनरत हैं. अन्नदाता पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर …