राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पोते अरुण गांधी का 89 साल की उम्र में कोल्हापुर में निधन

नई दिल्ली

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पोते अरुण गांधी का 89 साल की उम्र में निधन हो गया है। वह पिछले काफी समय से बीमार चल रहे थे। कोल्हापुर में आज उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। अरुण गांधी के बेटे तुषार गांधी ने बताया कि पिता का अंतिम संस्कार आज कोल्हापुर में किया जाएगा।

कौन थे अरुण गांधी?
अरुण मणिलाल गांधी महात्मा गांधी के दूसरे बेटे मणिलाल के बेटे थे। उनका जन्म 14 अप्रैल 1934 को दक्षिण अफ्रीका के डरबन में हुआ था। अरुण गांधी के पिता अखबार इंडियन ओपिनियन के संपादक रहे। वहीं उनकी मां सुशीला इसी अखबार की पब्लिशर थीं। अरुण गांधी के परिवार में अब उनके बेटे तुषार, बेटी अर्चना, चार पोते और पांच परपोते हैं। अरुण गांधी 1987 में अपने परिवार के साथ अमेरिका में बस गए थे। यहां उन्होंने अपने जीवन के कई साल टेनेसी राज्य के मेम्फिस में गुजारे।

कई किताबें भी लिखीं
अरुण गांधी सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर अपने विचार रखते थे। उन्होंने कुछ किताबें भी लिखी हैं। इनमें द गिफ्ट ऑफ एंगर: एंड अदर लेसन्स फ्रॉम माई ग्रैंडफादर महात्मा गांधी प्रमुख हैं।

 

About bheldn

Check Also

महाराष्ट्र: BJP ने स्टार प्रचारकों की लिस्ट से हटाया एकनाथ शिंदे और अजित पवार का नाम

नई दिल्ली, भाजपा ने शुक्रवार को महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार …