‘जरूरत पड़ी तो दिल्ली का घेराव करेंगे पहलवान, बोले ‘दंगल गर्ल’ के पिता महावीर फोगाट

चरखी दादरी,

कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ दिल्ली में 10 दिन से पहलवान धरना दे रहे हैं. बृजभूषण पर यौन उत्पीड़न के आरोप में एफआईआर हो गई है. अब पहलवान उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं. वहीं, विपक्षी दल भी पहलवानों के समर्थन में उतर आए हैं और बृजभूषण का इस्तीफा मांग रहे हैं. इस बीच, आजतक ने भारतीय कुश्ती टीम का हिस्सा रहे महावीर फोगाट से पहलवानों के धरने को लेकर खास बातचीत की है.

महावीर ने कहा कि पहलवानों ने सबसे पहले जनवरी में धरना दिया था. इस मुद्दे में कोई राजनीति नहीं है. यह आरोप झूठा है कि एक (मेरा) परिवार सत्ता हड़पने की कोशिश कर रहा है. हमारा परिवार साथ है. हम भारत के विश्व संघ में कोई पद नहीं लेंगे. महावीर ने आगे कहा- हम चाहते थे कि खेल मंत्री अनुराग ठाकुर, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह स्थिति से वाकिफ हों. वे मसला सुलझा लें. गठित कमेटी ने न्याय नहीं किया और ना ही रिपोर्ट आई है.

‘हम 2014 में कुछ आरोपों के बारे में जानते थे’
बता दें कि आमिर खान स्टारर फिल्म ‘दंगल’ महावीर फोगाट और उनकी बेटियों गीता-बबीता पर बनी थी. महावीर ने आगे कहा- हम 2014 में कुछ आरोपों के बारे में जानते थे. हम कुछ भी नहीं कहना चाहते थे, क्योंकि मेरी तीन बेटियां कॉमनवेल्थ में खेल रही थीं और अगर हम बोलते तो वह अनुशासनहीनता का हवाला देते हुए उन्हें हिस्सा लेने की अनुमति नहीं देते.

‘न्याय ना मिलने तक धरने पर बैठेंगे’
उन्होंने कहा- सुमन कुंडू और अन्य ने भी आरोप लगाए. यह करो या मरो की लड़ाई है. न्याय मिलने तक हम धरने पर बैठेंगे. हम इस लड़ाई में एकजुट हैं. बबीता भी इस लड़ाई का हिस्सा हैं. पीटी उषा और मैरी कॉम महिला खिलाड़ी होने के नाते बेहतर जानती हैं. क्या मैं अपने बच्चों के साथ नहीं रहूंगा?

‘जरूरत पड़ी तो दिल्ली का घेराव करेंगे’
फोगाट ने आगे कहा- हमें भरपूर समर्थन मिल रहा है. जरूरत पड़ी तो हम दिल्ली का घेराव करेंगे. हम सरकार के खिलाफ नहीं हैं, बृजभूषण के खिलाफ हैं. आमिर खान को लेकर कहा- मुझे किसी स्टार्स से उम्मीद नहीं है, लेकिन अगर वो सपोर्ट में ट्वीट करते हैं तो हम इसे पसंद करेंगे.

‘दीपेंद्र हुड्डा नहीं, सभी पार्टियों का समर्थन’
महावीर का कहना था कि धरना हमारे पहलवानों को प्रैक्टिस से दूर कर रहा है. वे बेहतर ट्रेनिंग ले सकते थे और बेहतर खा सकते थे. आगामी प्रतियोगिताओं में बेहतर प्रदर्शन किया. सिर्फ दीपेंद्र हुड्डा को ही नहीं, सभी पार्टियों का समर्थन है. परिवार में कोई मतभेद नहीं है.

‘क्या उनकी ही बेटी ऐसे झूठे आरोप लगाएगी?’
उन्होंने कहा- बृजभूषण पॉलिसी पर इशू बना रहे हैं. लेकिन कौन-सी महिलाएं अपनी ही हैवानियत का तमाशा बनाएंगी. क्या उनकी ही बेटी लगाएगी झूठे आरोप? इन महिलाओं ने बाहर निकलकर हिम्मत दिखाई है. उन्होंने बृजभूषण और खेल मंत्री से मिलने की कोशिश की लेकिन दोनों लोग खिलाड़ियों से नहीं मिले.

 

About bheldn

Check Also

BPSC पेपर लीक मामले में एक महिला समेत 5 गिरफ्तार, आरोपी उज्जैन से लाए गए पटना

पटना, बिहार पब्लिक सर्विस कमीशन (BPSC) द्वारा ली गई शिक्षक भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले …