इस्तीफा वापस लेंगे शरद पवार? 2-3 दिन में करेंगे विचार… अजित पवार ने समर्थकों को दिया संदेश

मुंबई

महाराष्ट्र की राजनीति में इस समय एनसीपी प्रमुख शरद पवार की वजह से सियासी हलचल तेज हो गई है। पवार ने ऐलान किया है कि वे अध्यक्ष पद छोड़ने वाले हैं। उनके इस एक ऐलान ने एनसीपी कार्यकर्ताओं को परेशान कर दिया है, जमकर इसका विरोध किया रहा है। अब इस बीच अजित पवार ने सभी कार्यकर्ताओं को बताया है कि शरद पवार ने सोचने के लिए अभी दो-तीन दिन का वक्त मांगा है।

क्या फैसला बदलेंगे शरद पवार?
असल में जब कार्यकर्ताओं का विरोध प्रदर्शन शांत नहीं हुआ तो अजित ने अपने चाचा शरद पवार का एक संदेश उनके साथ साझा किया। उस संदेश में पवार ने कहा कि मैंने एक फैसला लिया, लेकिन आप सभी की वजह से मैं इस बारे में एक बार फिर सोचने वाला हूं। मुझे दो से तीन दिनों का वक्त चाहिए, कार्यकर्ता अपने घर जाएं। जो इस्तीफे भी हो रहे हैं, वो तुरंत रुकने चाहिए।

पवार ने कौन सा सियासी बम फोड़ा था?
अब जानकारी के लिए बता दें कि मंगलवार को शरद पवार ने अपने इस्तीफे को लेकर बड़ा ऐलान किया था। उन्होंने कहा कि राज्यसभा में मेरा तीन साल का कार्यकाल बाकी है। मैं आगे चुनाव नहीं लड़ूंगा। मैंने अपना राजनीतिक जीवन 1 मई, 1960 को शुरू किया था। कल हमने मई दिवस मनाया। इतने लंबे राजनीतिक करियर के बाद कहीं रुकने के बारे में सोचना चाहिए। किसी को लालची नहीं होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि आगे की रणनीति तय करने के लिए एनसीपी के वरिष्ठ नेताओं की एक समिति बनाई जाए। समिति में प्रफुल्ल पटेल, सुनील तटकरे, पीसी चाको, नरहरि जिरवाल, अजीत पवार, सुप्रिया सुले, जयंत पाटिल, छगन भुजबल, दिलीप वलसे-पाटिल, अनिल देशमुख, राजेश टोपे, जितेंद्र अवध, हसन मुश्रीफ, जयदेव गायकवाड़, धनंजय मुंडे और पार्टी फ्रंटल सेल के प्रमुख शामिल होंगे।

क्या सुप्रिया सुले बनेंगी नई अध्यक्ष?
इसी ऐलान के बाद से एनसीपी में हलचल तेज हो गई, तरह-तरह के कयास जाने लगे। इस समय सूत्रों के हवाले कहा जा रहा है कि एनसीपी की कमान सुप्रिया सुले को दी जा सकती है, वहीं अजित को महाराष्ट्र का जिम्मा सौंपा जा सकता है। इसे लेकर कोई औपचारिक ऐलान तो नहीं किया गया है, लेकिन इस समय पार्टी के अंदर ही ऐसी अटकलें चल रही हैं।

शरद पवार के परिवार में कौन-कौन?
शरद पवार की बात करें तो वे महाराष्ट्र के चार बार मुख्यमंत्री रह चुके हैं, केंद्र में मंत्री भी रहे हैं और पिछले 24 सालों से एनसीपी की कमान संभाले हुए हैं। भारतीय राजनीति में उनकी सक्रियता पिछले कई दशकों से देखी जा रही है। उनके परिवार के भी कई सदस्य सक्रिय राजनीति का हिस्सा हैं। शरद पवार कुल पांच भाई-बहन हैं। अजित, शरद पवार के दूसरे नंबर के भाई अनंतराव पवार के बेटे हैं। वहीं अनंतराव के सबसे बड़े बेटे का नाम श्रीनिवास है जिनका ऑटोमोबाइल का बिजनेस है। उनकी एक बेटी भी है जो मीडिया में काम करती हैं। वहीं अजित पवार ने सुनेत्रा पवार से विवाह है जिससे उन्हें दो बेटे हैं- पार्थ और जय। वहीं खुद शरद पवार ने प्रतिभा शक्ति से शादी की थी। दोनों की एक बेटी हैं सुप्रिया सुले जो वर्तमान में लोकसभा की सांसद हैं। सुले ने बिजनेसमैन सदानंद सुले से शादी की है।

 

About bheldn

Check Also

राजनाथ सिंह के बाद अब “परिवार” को मोर्चे पर उतारेगी BJP, क्षत्रिय मतदाताओं को लामबंद करने की तैयारी!

गाजियाबाद गाजियाबाद लोकसभा से बीजेपी प्रत्याशी अतुल गर्ग को रेकॉर्ड वोटों से जिताने के लिए …