आप हमारे भगवान, फैसले को बदल दें… शरद पवार के इस्तीफे पर पुणे में कार्यकर्ता ने खून से लिखा लेटर

पुणे

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) अध्यक्ष शरद पवार ने मंगलवार को पार्टी अध्यक्ष पद से र‍िटायर होने की घोषणा की। इस ऐलान के बाद एनसीपी के पदाधिकारियों के साथ-साथ राज्य भर के नेता और कार्यकर्ता भावुक हो गए और वे सभी कार्यकर्ताओं की ओर से शरद पवार से फैसला वापस लेने का अनुरोध कर रहे हैं। साथ ही शरद पवार पर पार्टी पदाधिकारियों और नेताओं का दबाव भी बन रहा है। अब सबकी निगाह इस बात पर है कि पवार इस पर क्या फैसला लेते हैं? इस बीच पुणे के एक कार्यकर्ता ने अपने खून से शरद पवार को पत्र लिखा और उनसे अपना फैसला बदलने को कहा।

एनसीपी कार्यकर्ता संदीप काले ने पार्टी अध्यक्ष शरद पवार को अपने खून से पत्र लिखा है ‘सर, आपकी ओर से लिया गया यह फैसला किसी को भी स्वीकार्य नहीं है। हम आपके फैसले से बच्चे बन गए हैं। आप हमारे भगवान हैं और आपको इस फैसले को बदलना चाहिए।’

दरअसल शरद पवार के संन्यास की घोषणा के बाद राजनीतिक गलियारों में गहमागहमी थी। इसके बाद नया अध्यक्ष कौन होगा इस पर चर्चा शुरू हो गई है। एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार की पुस्तक ‘लोक माझे सांगाती’ के दूसरे भाग का आज विमोचन किया गया। इस किताब में शरद पवार ने कई सनसनीखेज खुलासे किए हैं। इस समारोह में शरद पवार के रिटायरमेंट की घोषणा से कार्यकर्ताओं में हड़कंप मच गया है।

तो वहीं अजित पवार ने शरद पवार के फैसले का विरोध करने वाले कार्यकर्ताओं और नेताओं की बात सुनते हुए कहा क‍ि अगर आपकी नजर में राष्ट्रपति तैयार है तो आप क्यों नहीं चाहते? साहेब देश भर में घूम रहे हैं, महाराष्ट्र हमारे पास है। उनका मार्गदर्शन लेने के लिए। पवार साहब अध्यक्ष नहीं हैं, इसका मतलब है कि वह पार्टी में नहीं हैं। ऐसा नहीं है। शरद पवार ने फैसला लिया है। भावुक न हों। हम नए अध्यक्ष के साथ खड़े रहेंगे। अजीत पवार ने ऐसी अपील की।

About bheldn

Check Also

J-K: कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, पुंछ में एक जवान शहीद

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर में पिछले कुछ समय से आतंकी घटनाएं तेज हो गई हैं. इस कड़ी …