बुलंदशहर में बंदरों का आतंक, छत पर कपड़ा डालने गए लोगों पर झुंड का हमला, 2 लोगों की हुई मौत

बुलंदशहर

उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में बंदरों के आतंक से दो लोगों की अलग-अलग इलाके में मौत मामला सामने आया है। एक जगह कपड़ा सुखाने के लिए छत पर गई महिला पर बंदरो के झुंड ने हमला कर दिया, जिसकी गिरने से मौत हो गई। वहीं, दूसरे केस में बंदरों से बचने के चक्कर में हाईटेंशन लाइन से टच होकर व्यक्ति की मौत हो गई। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पंचनामा पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

बुलंदशहर के स्याना के मौहल्ला कैतवाला निवासी 68 वर्षीय महिला मकान की छत पर कपड़े सुखाने गई थी। इसी दौरान महिला पर बंदरों के झुंड ने हमला कर दिया। हमले से बचने के प्रयास में महिला छत से गिरकर घायल हो गई। उसकी चीखपुकार सुनकर मौके पर पहुंचे परिजन ने उन्हें इलाज के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया, जहां इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई। स्थानीय लोगों की तरफ से पुलिस को सूचना दे दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पंचनामा कर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

वहीं, दूसरा मामला बुलंदशहर के फिरोजपुर गांव का है। जहां राजपाल नाम का 45 वर्षीय व्यक्ति घर की छत पर बंदरों को भगाने के लिए गया था। उसी दौरान बंदरों ने राजपाल पर हमला कर दिया। जैसे ही बचाव किया छत के ऊपर से जा रही 11 हजार की लाइन से टच होते ही व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई। परिवार के लोगों में कोहराम मच गया

आनन-फानन में पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पंचनामा पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। वहीं परिवार वालों का कहना है। कि कई बार हम लोग बंदरों के आतंक को लेकर शिकायत कर चुके हैं। मगर कोई भी अधिकारी सुनने के लिए तैयार नहीं है। उधर इस मामले में खुर्जा थाना प्रभारी ने जानकारी देते हुए बताया कि बंदर बचने के चलते। करंट लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई है। शव कब्जे में लेकर पंचनामा पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

About bheldn

Check Also

संपत्ति के बंटवारे पर हुआ मंथन तो सुप्रीम कोर्ट बोला- हम मार्क्सवादी व्याख्या का पालन नहीं कर सकते

नई दिल्ली संपत्ति के फिर से बंटवारे पर बढ़ते राजनीतिक विवाद के बीच सुप्रीम कोर्ट …