‘आबकारी नीति मामले में मनीष सिसोदिया मास्टरमाइंड’, चार्जशीट में ईडी ने किया दावा

नई दिल्ली

आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और दिल्ली के पूर्व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया की मुसीबतें बढ़ती जा रही हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को दिल्ली आबकारी नीति मामले में दिल्ली के पूर्व उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के खिलाफ तीसरी सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की है। यह पहली बार है जब ईडी ने मामले में अपनी चार्जशीट में सिसोदिया का नाम लिया है। इससे पहले आबकारी नीति मामले की जांच कर रही सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में सिसोदिया का नाम लिया था। ईडी ने आरोप लगाया है कि पूरे आबकारी नीति मामले के पीछे सिसोदिया मास्टरमाइंड थे और उन्होंने जानबूझकर वित्तीय रिश्वत उत्पन्न करने के लिए नीति को सह-अभियुक्तों को लीक कर दिया था। सिसोदिया फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) के वरिष्ठ नेता सिसोदिया (51) को सबसे पहले केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) ने गिरफ्तार किया था जो आबकारी नीति से जुड़े कथित घोटाले की जांच कर रही है। ईडी की ओर से दिल्ली की विशेष पीएमएलए (धन शोधन रोकथाम कानून) अदालत में यह पांचवां आरोपपत्र या अभियोजन पक्ष का शिकायतपत्र दाखिल किया गया है। एजेंसी ने इस मामले में सिसोदिया को ‘मुख्य षड्यंत्रकारी’ बताया है। संघीय जांच एजेंसी ने इस मामले में अभी तक सिसोदिया एवं 11 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है और उसका कहना है कि जांच अभी जारी है।

About bheldn

Check Also

‘इजरायल और ईरान की यात्रा से बचें भारतीय’, मिडिल ईस्ट में टेंशन के बीच केंद्र की एडवाइजरी

नई दिल्ली, विदेश मंत्रालय ने ईरान और इजरायल के लिए ट्रैवल एडवाइजरी जारी की है …