बीएचईएल की एक यूनियन के दफ्तर का हो गया कांग्रेसीकरण

भोपाल

बीएचईएल में इन दिनों नेताओं की बल्ले बल्ले है। भेल प्रबंधन ने अलग-अलग यूनियनों को बंगलानुमा आफिस यूनियन की गतिविधियां चलाने के लिए आवंटन किया। इन आफिसों में एयरकंडीशनर, कूलर, कंप्यूटर सिस्टम, फ्रिजर, मुफ्त की बिजली, मुफ्त का पानी भी मुहैया कराया है। इसके बाद भी सीटू यूनियन ने अपने उद्देश्यों से भटक कर राजनीतिक दलों की राजनीति का काम शुरू कर दिया है।

जब से यह यूनियन प्रतिनिधि यूनियन बनी तब से यूनियन का काम छोड़ यहां के कुछ पदाधिकारी कांग्रेस पार्टी का काम शुरू कर चुके है। साथ ही भोजन का भी आयोजन खुलेआम कर रहे हैं। सब मिलाकर कम्युनिस्ट पार्टी की विचारधारा के नेता कांग्रेसी विचारधारा के बनते जा रहे है। शुक्रवार को एक कांग्रेस नेता को मप्र श्रमिक कांग्रेस का पदाधिकारी बनाए जाने पर यूूूनियन के कम और कांग्रेस के नेता एक कार्यक्रम में शामिल हुए।

यह वो नेता है जिनको भले ही कांगे्रस का पदाधिकारी बना दिया हो लेकिन उन पर कई आपराधिक मामले गोविंदपुरा व पिपलानी थाने में दर्ज हैं। प्रबंधन ने सीटू यूनियन को अवैध गतिविधियों के चलते नोटिस भी थमा दिया है। फिर भी शुक्रवार को यूनियन कार्यक्रम की जगह कांग्रेस के कार्यक्रम आयोजित कर डाले।

एक नेता को पदाधिकारी बनाने के लिए सीटू कार्यालय में आयोजित स्वागत समारोह में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जेपी धनोपिया, बीडी गौतम, के के नेमा, दीपक गुप्ता, जे के पाठक, महेश दुबे, अशोक शर्मा, संजीव गोस्वामी, कौशल बामने, नितिन अकोडिया, नरेंद्र तिवारी सहित कई कांगे्रस और यूनियन नेता मौजूद थे। भेल प्रवक्ता का कहना है कि इस मामले के लिए एचआर विभाग जांच कर रहा है। जांच में सही पाए जाने के बाद यूनियन के ऑफिस को खाली करने की कार्रवाई की जाएगी।

About bheldn

Check Also

भेल में एक शाम श्रमिकों के नाम होगा कार्यक्रम, श्रमिक होंगे सम्मानित

– ऐबू कार्यालय में कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर हुई बैठक भोपाल भेल की मान्यता …