‘तुष्टिकरण की गुलाम हो चुकी कांग्रेस, बजरंग बलि की जय बोलने में तकलीफ’, कर्नाटक में बोले PM मोदी

बेंगलुरु

कर्नाटक चुनाव में इस समय बजरंग बलि का मुद्दा गरमा गया है। कांग्रेस ने जब से अपने घोषणा पत्र में बजरंग दल जैसे संगठनों पर बैन लगाने की बात की है, बीजेपी ने इस मुद्दे को सीधे-सीधे भगवान हनुमान से जोड़ दिया है। अब प्रधानमंत्री मोदी ने तुमकुर रैली में एक बार फिर ये मुद्दा उठाया है। उनकी तरफ से जोर देकर कहा गया है कि कांग्रेस को बजरंग बलि की जय बोलने में भी आपत्ति होने लगी है।

बजरंग बलि को लेकर कांग्रेस पर बरसे पीएम
तुमकुर रैली में पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी तुष्टिकरण की गुलाम हो चुकी है। वो अब वोटबैंक की गुलाम है। ऐसी पार्टी कर्नाटक का विकास कभी नहीं कर सकती है। भाषण के दौरान पीएम ने इस बात पर भी जोर दिया कि कर्नाटक में एक बार फिर बीजेपी की सरकार बनने वाली है, वो भी प्रचंड बहुमत के साथ।

अब ये कोई पहली बार नहीं है जब पीएम मोदी ने अपनी चुनावी रैली में बजरंग बलि का मुद्दा उठाया हो। इससे पहले एक और रैली में ही पीएम ने तंज कसते हुए कहा था कि कांग्रेस ने अब बजरंग बलि को भी ताले में बंद करने का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा था कि वे एक तरफ भगवान हनुमान की धरती पर आ धन्य महसूस कर रहे हैं तो दूसरी तरफ कांग्रेस अपने घोषणा पत्र में बजरंग बलि को ताले में बंद करने की बात कर रही है।

कांग्रेस ने क्या ऐलान किया था?
जानकारी के लिए बता दें कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में ऐलान किया है कि पीएफआई और बजरंग दल जैसे नफरत फैलाने वाले संगठनों पर वो बैन लगा देगी। अब चुनावी मौसम में बीजेपी ने बड़ी ही चालाकी से बजरंग दल को बजरंग बलि से जोड़ दिया है और जमीन पर हिंदू वोटरों को एकमुश्त करने की कवायद है।

कर्नाटक की वर्तमान विधानसभा की क्या स्थिति?
कर्नाटक चुनाव की बात करें तो 10 मई को वोटिंग होने वाली है और 13 मई को नतीजे आएंगे। वर्तमान में राज्य में बीजेपी की सरकार है और बसवराज बोम्मई मुख्यमंत्री हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में राज्य में किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला था. उस समय बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी और उसके खाते में 104 सीटें गई थीं, कांग्रेस की बात करें तो उसका आंकड़ा 80 पहुंच पाया था और जेडीएस को 37 सीटों के साथ संतुष्ट करना पड़ा था।

 

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …