दाऊद इब्राहिम के सवाल पर कन्नी काट गए बिलावल भुट्टो, यू अलापने लगे कश्मीर का राग

इस्लामाबाद

पाकिस्तानी विदेश मंत्री बिलावल भुट्टो जरदारी एससीओ देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक में शामिल हुए। पाकिस्तान के विदेश मंत्री ने शुक्रवार को एक इंटरव्यू दिया, जिसमें उनसे मुंबई आतंकी धमाकों के मास्टरमाइंड दाऊद इब्राहिम से जुड़ा सवाल पूछा गया। इस सवाल को सुनने के बाद वह असहज हो गए। उनसे पूछा गया कि क्या अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम को भारत को सौंपने से दोनों पड़ोसियों के बीच तनाव कम हो जाएगा? उन्होंने सीधे तौर पर इस सवाल पर भारत की कश्मीर पॉलिसी को शांति न होने का कारण बताया।

वरिष्ठ पत्रकार राजदीप सरदेसाई से बातचीत में बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा, ‘दोनों के बीच कोई बातचीत न होना 5 अगस्त 2019 की कार्रवाई का परिणाम है, जब भारत ने अंतर्राष्ट्रीय कानून, संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों और भारत-पाकिस्तान के द्विपक्षीय समझौतों का एकतरफा उल्लंघन किया।’ दाऊद इब्राहिम जो वसूली और अवैध कारोबार करता था वह 1993 में मुबई बम धमाकों के बाद मोस्ट वांटेड आतंकी बनकर उभरा। 2003 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की ओर से उस पर 2.5 करोड़ डॉलर का इनाम रखा गया।

मोस्ट वांटेड है दाऊद
दाऊद इब्राहिम लश्कर-ए-तैयबा प्रमुख हाफिज सईद, जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मौलाना मसूद अजहर, हिजबुल मुजाहिदीन के संस्थापक सैयद सलाहुद्दीन और उसके करीबी सहयोगी अब्दुल रऊफ असगर के साथ सबसे वांटेड लोगों में से एक है। भारत ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को रद्द कर दिया था। इससे भारत और पाकिस्तान के संबंधों में खटास आ गई। पाकिस्तान से इसी के बाद व्यापार बेहद कम हो चुका है।

पाकिस्तान में भारत के खिलाफ बयान
भारत लगातार कहता रहा है कि वह पाकिस्तान से अच्छे संबंध चाहता है, लेकिन सुरक्षित वातावरण बनाने की जिम्मेदारी पाकिस्तान की है। शुक्रवार को अनुच्छेद 370 पर विदेश मंत्री एस जयशंकर से सवाल पूछा गया, जिस पर उन्होंने कहा था कि यह इतिहास की बात हो चुकी है। बिलावल भुट्टो ने पाकिस्तान जाने के बाद भारत के खिलाफ जहर उगला। उन्होंने कहा कि मीटिंग में शामिल होकर हम भारत और खासकर बीजेपी के उस प्रोपोगेंडा को जवाब दे रहे हैं, जिसके मुताबिक हर मुसलमान आतंकी है।

About bheldn

Check Also

केजरीवाल की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई, जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच के सामने चलेंगी दलीलें

नई दिल्ली दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट सोमवार को सुनवाई …