गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के कुछ नेता बना रहे हैं गौर बंगले से दूरी

भोपाल,

राजनीति भी अजीब चीज है एक समय पूर्व मुख्यमंत्री व विधायक रहे स्व. बाबूलाल गौर के भरोसेमंद रहे कुछ नेता धीरे-धीरे उनके बंगले से दूरी बनाते जा रहे है यानी कही न कहीं उनकी पुत्र वधू से नाराजगी दिखाई दे रही है। कारण जो भी रहा हो लेकिन चुनावी साल में इन नेताओं की दूरी किसी के गले नहीं उतर रही है। हां यह अटकलें जरूर लगाई जा रही है कि इस क्षेत्र के कुछ नेता दूसरे खेमे में जगह बनाने की कोशिश कर रहे है। साफ जाहिर है कि चुनाव का समय करीब है और टिकट के दावेदार भी इन नेताओं को लुभावने सपने दिखाकर अपने करीब लाने की कोशिश कर रहे है। जब तक स्व. गौर रहे तब तक इन नेताओं की जरा सी नाराजगी दिखने के बाद मनाने की कोशिश जरूर करते थे लेकिन वर्तमान समय में गौर बंगले से मनाने की कोशिश दिखाई नहीं दे रही है। या फिर बंगले से इन नेताओं के प्रति कोई नाराजगी जरूर रही होगी। खैर गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के वरिष्ठ नेता नगर निगम पूर्व एमआईसी मेंबर और पार्षद केवल मिश्रा, पूर्व पार्षद तुलसा वर्मा, पूर्व पार्षद किशन चुरेन्द्र, भाजपा साकेत मंडल के महामंत्री सुनील उपाध्याय, भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष शैतान सिंह लोधी, विनय तिवारी, अजय सोनी और सरदार कैथोरिया के नाम प्रमुखता से लिए जा रहे हैं। वैसे भी इन नेताओं ने वर्तमान विधायक से दूरी बना ली है। इस क्षेत्र में इन नेताओं की दूरी बनाना पार्टी में चर्चा का केंद्र बना हुआ है। ये किसका दामन थामेंगे ये आने वाले समय में पता चल जाएगा।

ऐसे भी नेता जिन्होंने पहले दूरी बनाई अब करीब
इस विधानसभा क्षेत्र में कुछ नेता ऐसे भी हैं कि पिछले विधानसभा चुनाव में स्व. गौर के रहते भाजपा के टिकट वितरण के समय उनका काफी विरोध किया था। परिवारवाद को लेकर धरना-प्रदर्शन, सुंदरकांड, हनुमान चालीसा के पाठ भी कराए लेकिन फिर भी श्री गौर अपनी पुत्र वधू को टिकट दिलाने में कामयाब हो गए थे। आज उनके जाने के बाद इनमें से कुछ नेता फिर से वर्तमान विधायक के खेमे में आकर कोई विधायक प्रतिनिधि बन गया है तो कोई चुनाव प्रभारी।

क्षेत्र के भाजपा के नेता हो सकते हैं आप पार्टी में शामिल
सूत्रों का कहना है कि करीब गोविंदपुरा विधानसभा क्षेत्र के 40 पदाधिकारी-कार्यकर्ता आप पार्टी में शामिल होने का प्लान बना रहे हैं। चुनाव का समय करीब है ऐसे में यदि पार्टी तबज्जो नहीं देती हैं तो यह आप पार्टी का दामन थाम सकते हैं।


भवानीधाम में 12 फीट का नाला सिमटकर हो गया ढाई फीट
भेल क्षेत्र के इंद्रपुरी-नरेला शंकरी मार्ग पर स्थित भवानीधाम फेस-2 के रहवासी अतिक्रमण से काफी परेशान हैं। यहां पर सीवेज के निकासी के लिए नगर निगम ने एक नाला बनाया था। आज इस नाले पर कुछ मकान मालिकों ने अवैध निर्माण कर लिया है। इसके चलते 12 फीट का नाला ढाई फीट का हो गया है। इससे सीवेज के पानी निकलने में काफी परेशानी हो रही है। बारिश में इस नाले का पानी लोगों के घरों में भर जाता है। स्थानीय लोगों की मांग है कि नगर निगम की महापौर सिर्फ अपने क्षेत्र का अतिक्रमण तो हटाएं लेकिन भवानीधाम फेस-2 की हालत का भी जायजा लें।

About bheldn

Check Also

महावीर जयंती पर उद्योग नगरी में निकलेगी पालकी और शोभायात्रा

भोपाल भगवान महावीर की जयंती 21 अप्रैल को धार्मिक अनुष्ठानों के बीच मनेगी। भोपाल शहर …