विपक्षी एकता की मुहिम में अब नवीन पटनायक को साधने चले नीतीश कुमार!

पटना,

साल 2024 के आम चुनाव में अभी करीब एक साल का समय बाकी है लेकिन सियासी जाल अभी से ही बिछाए जाने लगे हैं. बिहार के मुख्यमंत्री जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) के नीतीश कुमार ने विपक्ष को एकजुट करने की कवायद तेज कर दी है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पिछले दिनों कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे और राहुल गांधी के साथ ही सीताराम येचुरी, अरविंद केजरीवाल, ममता बनर्जी और अखिलेश यादव से मुलाकात की थी.

नीतीश कुमार फिर से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को चुनावी शिकस्त देने के लिए एकजुट विपक्ष के मिशन पर हैं. नीतीश कुमार आज ओडिशा के मुख्यमंत्री और बीजू जनता दल के प्रमुख नवीन पटनायक से मुलाकात करेंगे. नीतीश कुमार के लिए विपक्ष को एकजुट करने के मिशन में नवीन पटनायक से मुलाकात को महत्वपूर्ण और सबसे बड़े टेस्ट वाला दिन माना जा रहा है.

जानकारी के मुताबिक नीतीश कुमार पटना से ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर जाएंगे जहां उनकी नवीन पटनायक से मुलाकात होनी है. बताया जाता है कि नवीन पटनायक से मुलाकात के दौरान नीतीश 2024 चुनाव को लेकर विपक्षी एकजुटता पर चर्चा करेंगे और उनको भी विपक्ष की एक बड़ी छतरी के नीचे आने के लिए राजी करने की कोशिश करेंगे.

गौरतलब है कि नवीन पटनायक बीजेपी के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में शामिल नहीं हैं. नवीन पटनायक ने किसी विपक्षी मंच पर भी अपनी मौजूदगी दर्ज नहीं कराई है. हालांकि, कई बार वे केंद्र सरकार के साथ भी खड़े नजर आए हैं. ऐसे में नीतीश कुमार के लिए नवीन पटनायक को विपक्षी दलों के साथ एक मंच पर ला पाना आसान नहीं रहने वाला. यह काम चुनौती भरा होगा.

पटनायक राजी हुए तो नीतीश की बड़ी उपलब्धि
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अगर आज मिशन ओडिशा में सफलता मिलती है, नवीन पटनायक विपक्ष के साथ आने को तैयार हो जाते हैं तो ये नीतीश कुमार के लिए विपक्षी एकजुटता की कवायद में बड़ी जीत की तरह होगी. अगर ऐसा हुआ तो ये बीजेपी के लिए बहुत बड़ा झटका होगा. नवीन पटनायक ने अब तक इसे लेकर अपने पत्ते नहीं खोले हैं. नीतीश से मुलाकात के बाद नवीन पटनायक क्या कुछ कहते हैं, इस पर भी सबकी नजर होगी.

ओडिशा के बाद महाराष्ट्र जाएंगे नीतीश
नवीन पटनायक के साथ मुलाकात के बाद जो सियासी तस्वीर सामने आएगी, वह 2024 के लिहाज से बेहद खास होगी. लेकिन नीतीश का मिशन यहीं नहीं रुकने वाला. नीतीश ओडिशा के बाद महाराष्ट्र का रुख करने वाले हैं. नीतीश कुमार मुंबई पहुंचकर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के प्रमुख शरद पवार और पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से भी मुलाकात करेंगे. गौरतलब है कि नीतीश कुमार ने हाल ही में शरद पवार और उद्धव ठाकरे से फोन पर बातचीत की थी.

 

About bheldn

Check Also

गुजरात में पकड़ी गई 1400 करोड़ रुपये की ड्रग्स, पकड़े गए 5 विदेशीस्मगलर, पाकिस्तान से जुड़ रहा कनेक्शन

नई दिल्ली  नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने नौसेना और गुजरात एटीएस के साथ मिलकर ड्रग्स …