दक्षिण के द्वार से ‘Exit’ हो गई बीजेपी, कर्नाटक में कांग्रेस को बहुमत का अनुमान

नई दिल्ली,

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए बुधवार को दिनभर चले मतदान के बाद शाम को एग्जिट पोल के नतीजे भी आ गए. आज तक के एग्जिट पोल के मुताबिक कर्नाटक में कांग्रेस को स्पष्ट बहुमत मिलता नजर आ रहा है. एग्जिट पोल के अनुसार दक्षिण के द्वार कहे जाने वाले कर्नाटक से बीजेपी की विदाई के संकेत नजर आ रहे हैं. 224 सीटों वाले कर्नाटक में कांग्रेस को 122 से 140, बीजेपी को 62 से 80 और जेडीएस को 20 से 25 सीटें मिलती दिख रही हैं. वहीं, 3 सीटें अन्य के खाते में जा सकती हैं. आइए आपको बताते हैं की रीजन के हिसाब से किस पार्टी के हिस्से कितनी सीटें आ सकती हैं.

तटीय कर्नाटक में BJP को बढ़त
कर्नाटक के तटीय इलाके करावल की बात करें तो यहां बीजेपी का वोट प्रतिशत 50 फीसदी, कांग्रेस का 40 फीसदी, जेडीएस का 6 फीसदी और अन्य का 4 फीसदी रह सकता है. तटीय इलाके में बीजेपी को 19 में से 16 सीट मिलने की उम्मीद है. 3 सीटें कांग्रेस के खाते में जा सकती हैं.

मध्य कर्नाटक में कांग्रेस को बढ़त
राज्य के मध्य-कर्नाटक इलाके में बीजेपी का वोट प्रतिशत 35 फीसदी, कांग्रेस का 41 फीसदी, जेडीएस का 17 फीसदी और अन्य का 7 फीसदी रह सकता है. यहां कांग्रेस को 23 में से 12 सीटें मिलने का अनुमान है. बीजेपी के खाते में 10 सीटें आ सकती हैं. जेडीएस के खाते में यहां एक सीट जा सकती है.

बेंगलुरु रीजन में भी कांग्रेस आगे
कर्नाटक के बेंगलुरु रीजन में बीजेपी को 30 फीसदी वोट शेयर मिल सकता है. वहीं, कांग्रेस का 44, जेडीएस का 15 और अन्य का वोट शेयर 3 फीसदी रह सकता है. इस रीजन की 28 सीटों में से 17 सीटें कांग्रेस की झोली में जा सकती हैं. बीजेपी को यहां से 10 सीटें मिलने की संभावना है. वहीं, जेडीएस के खाते में यहां भी 1 ही सीट जाती दिख रही है.

हैदराबाद: कांग्रेस को 40 में 32 सीट
कर्नाटक के हैदराबाद रीजन में कांग्रेस को जबरदस्त बढ़त मिल सकती है. यहां पार्टी 40 में से 32 सीटें जीत सकती है. वहीं भाजपा के खाते में यहां महज 7 सीटें ही जाने का अनुमान है. जेडीएस को यहां भी 1 ही सीट मिल सकती है. हैदराबाद रीजन में बीजेपी का वोट शेयर 36 फीसदी, कांग्रेस का 47 फीसदी, जेडीएस का 13 फीसदी और अन्य का 4 फीसदी रह सकता है.

महाराष्ट्र-कर्नाटक में कांग्रेस मजबूत
महाराष्ट्र-कर्नाटक रीजन की बात करें तो बीजेपी के खाते में 42 फीसदी, कांग्रेस के खाते में 45 फीसदी, जेडीएस के हिस्से में 8 फीसदी और अन्य के हिस्से 5 फीसदी वोट शेयर आ सकता है. वहीं, सीट के हिसाब से इस रीजन की 50 सीटों में से कांग्रेस को 28, बीजेपी को 21 और जेडीएस को एक सीट मिलती दिख रही है. बता दें कि कर्नाटक में बुधवार को 72 फीसदी से ज्यादा मतदान हुआ.

ओल्ड मैसूर में कांग्रेस को बढ़त
ओल्ड मैसूर रीजन में वोट प्रतिशत की बात की जाए तो बढ़त बनाते हुए कांग्रेस 40 फीसदी वोट शेयर हासिल कर सकती है. वहीं, बीजेपी को 25 फीसदी, जेडीएस को 28 फीसदी और अन्य को 7 फीसदी वोट प्रतिशत मिल सकता है. यहां की 64 सीटों में से 36 कांग्रेस को, बीजेपी को 6 और जेडीएस को 18 सीटें मिल सकती हैं. 4 सीटें अन्य के खाते में जाती दिख रही हैं.

 

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …