लखनऊ नहीं अब पटियाला में लगेगा राष्ट्रीय कुश्ती कैंप, कहीं बृज भूषण सिंह विवाद से कनेक्शन तो नहीं?

नई दिल्ली

भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्लयूएफआई) के प्रमुख बृजभूषण शरण सिंह के गढ़ में ट्रेनिंग को लेकर कई महिला पहलवानों के ‘असहजता’ जताने के बाद भविष्य में महिला राष्ट्रीय कुश्ती कैंप भारतीय खेल प्राधिकरण (SAI) के पटियाला केंद्र में आयोजित किया जाएगा। तदर्थ समिति के प्रमुख भूपेंद्र सिंह बाजवा ने बयान में कहा, ‘तदर्थ समिति ने यह भी फैसला किया कि भविष्य में राष्ट्रीय शिविर साइ सोनीपत (पुरुष ग्रीको रोमन और फ्रीस्टाइल) और साइ पटियाला (महिला कुश्ती) में आयोजित किए जाएंगे।’

पीटीआई ने मंगलवार को खबर दी थी कि सीनियर महिला कैंप के लखनऊ से शिफ्ट होने की पूरी संभावना है। लखनऊ SAI केंद्र में राष्ट्रीय शिविर में शामिल होने में कई महिला पहलवान असहज हैं और कई माता-पिता नहीं चाहते हैं कि सोनीपत में पुरुषों और महिलाओं के संयुक्त कैंप का आयोजन किया जाए।

एक सूत्र ने पीटीआई से कहा, ‘बैठक में संयुक्त राष्ट्रीय शिविर पर चर्चा की गई। पैनल के सदस्यों के संज्ञान में लाया गया कि महिला पहलवानों के माता-पिता सोनीपत में पुरुष पहलवानों के साथ अपनी बेटियों को प्रशिक्षण देने के पक्ष में नहीं थे।’ उन्होंने कहा, ‘माता-पिता को डर है कि अगर ऐसा होता है तो ‘प्रेम संबंधों’ के मामले बढ़ सकते हैं। यही कारण था कि डब्ल्यूएफआई ने 2013 में दोनों शिविर को अलग कर दिया था।’

महिला पहलवान दिल्ली के आईजी स्टेडियम में प्रशिक्षण को लेकर सहज हैं लेकिन यहां उनके ठहरने के लिए हॉस्टल नहीं है। पटियाला में साइ केंद्र में कुश्ती हॉल नहीं है क्योंकि इसे वेट लिफ्टिंग हॉल में मिला दिया गया था। सूत्र ने कहा, ‘महिलाओं के लिए राष्ट्रीय शिविर गांधी नगर (गुजरात) में आयोजित कराने का एक विकल्प है लेकिन यह देखना होगा कि क्या खिलाड़ी इतनी दूर जाने के लिए राजी होंगे।’ उन्होंने कहा, ‘यह भी प्रस्तावित किया गया था कि पुरुष पहलवानों को लखनऊ भेजा जाए और महिलाएं सोनीपत में ट्रेनिंग करें लेकिन कोच और रैफरी इसके लिए तैयार नहीं हुए।’

विनेश फोगाट, बजरंग पूनिया और साक्षी मलिक सहित देश के शीर्ष पहलवानों के दिल्ली के जंतर-मंतर पर धरने पर बैठने के बाद खेल मंत्रालय के निर्देशों पर 27 अप्रैल को भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) ने खेल के मामलों को चलाने के लिए तीन सदस्यीय तदर्थ पैनल का गठन किया था। प्रदर्शनकारी पहलवान एक नाबालिग सहित सात महिला पहलवानों के कथित यौन उत्पीड़न के आरोप में बृजभूषण की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं। बाजवा के अलावा समिति के अन्य सदस्य राइफल कोच सुमा शिरूर और उच्च न्यायालय के एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश हैं जिन्हें नियुक्त किया जाना बाकी है। तदर्थ समिति ने बुधवार को कहा कि किर्गिस्तान के बिश्केक में 10 से 18 जून तक होने वाली अंडर-17 और अंडर-23 एशियाई चैंपियनशिप के लिए चयन ट्रायल क्रमश: सोनीपत और पटियाला में 17 से 20 मई तक होंगे।

बाजवा ने बयान में कहा, ‘‘किर्गिस्तान के बिश्केक में 10 से 18 जून तक होने वाली आगामी अंडर-17 और अंडर-23 कुश्ती एशियाई चैंपियनशिप के लिए चयन ट्रायल भारतीय खेल प्राधिकरण (साइ) के सोनीपत और पटियाला केंद्रों में 17 से 20 मई तक आयोजित किए जाएंगे।’ महिलाओं के और पुरुषों की ग्रीको रोमन श्रेणियों के लिए चयन ट्रायल साइ के पटियाला केंद्र में होंगे जबकि पुरुषों के फ्रीस्टाइल वर्ग के लिए चयन ट्रायल सोनीपत में आयोजित किए जाएंगे। बाजवा ने कहा, ‘चयन ट्रायल संबंधित आयु और भार वर्ग के सभी पहलवानों के लिए खुला होगा। कार्यक्रम और अन्य विवरण जल्द दिया जाएगा।’

About bheldn

Check Also

6 गेंद 3 रन 3 विकेट! पंजा खोलकर शर्मा जी ने मचाई तबाही, घुटने पर आ गया मुंबई इंडियंस

जयपुर: मुंबई इंडियंस के खिलाफ मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स के स्टार तेज गेंदबाज संदीप शर्मा …