णिपुर में उग्रवादियों ने दो लोगों को किया अगवा, गोलीबारी में एक पुलिसकर्मी की मौत, चार अन्य घायल

इंफाल

मणिपुर के बिष्णुपुर जिले में तेरा खोंगफंगबी के पास गुरुवार को संदिग्ध उग्रवादियों की ओर से की गई गोलीबारी में एक पुलिसकर्मी की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए। अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि घायल पुलिसकर्मियों में से एक की हालत गंभीर है। अधिकारियों ने बताया कि यह घटना तोरबुंग से कुछ किलोमीटर दूर हुई, जहां राज्य में हाल ही में सबसे पहले हिंसा भड़की थी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने क्षेत्र से उग्रवादियों को खदेड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि तोरबुंग में संदिग्ध उग्रवादियों ने दो लोगों का कथित तौर पर अपहरण कर लिया। उन्होंने बताया क‍ि अपहरण किए जाने के समय दोनों हाल में हुई हिंसा में अपने लूटे गए घर से खाद्य सामग्री लाने गए थे। उनका पता लगाने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया गया।

बिग्यानंदा, बिष्णुपुर पुलिस कमांडो ने बताया क‍ि सुबह करीब 6:00 बजे हमारी नियमित पेट्रोलिंग चल रही थी। इस दौरान टी मोलकोट गांव के पीछे एक उग्रवादी समूह ने हमारी टीम पर घात लगाकर हमला किया। हमें वहां सहायता के लिए बुलाया गया था और हमारे पहुंचने से पहले ही एक व्यक्ति घायल हो चुका था और दूसरे की मौत हो गई थी।

राज्य में बहुसंख्यक मेइती समुदाय की ओर से उसे अनुसूचित जनजाति (एसटी) का दर्जा दिए जाने की मांग के विरोध में ‘ऑल ट्राइबल स्टूडेंट यूनियन मणिपुर’ (एटीएसयूएम) की ओर से तीन मई को आयोजित ‘आदिवासी एकजुटता मार्च’ के दौरान चुराचांदपुर जिले के तोरबंग क्षेत्र में हिंसा भड़क गई थी, जो रातोंरात पूरे राज्य में फैल गई थी।

About bheldn

Check Also

विजयन के टारगेट करने पर कांग्रेस ने साफ किया CAA पर स्टैंड, चिदंबरम ने बताया सरकार बनने पर क्या करेंगे

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस की अगुवाई वाली I.N.D.I.A अलायंस अगर सत्ता में आया तो पार्टी सीएए को …