गहलोत ने जिसे बनाया था मंत्री, वो अब पायलट के साथ, क्या दरकने लगा राजस्थान CM का किला?

जयपुर

वसुंधरा सरकार में भ्रष्टाचार को लेकर एक तरफ सचिन पायलट पहले से ही अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलकर आंदोलन कर रहे हैं। इस बीच कांग्रेस के विधायक और पूर्व मंत्री भरत सिंह ने भी भ्रष्टाचार के मामले में अपनी ही सरकार के एक मंत्री के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने भी सचिन पायलट की तरह कहा कि वे मंत्री के भ्रष्टाचार को लेकर सीएम गहलोत को कई बार चिट्ठियां लिख चुके हैं। लेकिन इसको लेकर सीएम गहलोत का कोई भी जवाब नहीं आया है। इस दौरान विधायक भरत सिंह ने सचिन पायलट के आंदोलन को लेकर अपना समर्थन दिया है और पायलट को भ्रष्टाचार के मुद्दे उठाने पर धन्यवाद भी दिया।

खनन मंत्री प्रमोद जैन भाया पर लगाए भ्रष्टाचार के आरोप
विधायक भरत सिंह ने कहा कि वे भी सचिन पायलट की तरह भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर कई बार मांग उठा चुके हैं। इस दौरान विधायक ने सरकार के खनन व गोपालन मंत्री प्रमोद जैन भाया पर भ्रष्टाचार का सीधा आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि ‘मैं प्रमोद जैन भाया के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले लगातार उजागर करता आ रहा हूं। मैं कई बार भाया के भ्रष्टाचार को लेकर बोल चुका हूं। प्रमोद भाया ने खूब पैसा खाया है। इसके लिए मैं सीएम अशोक गहलोत को भी कई बार चिट्ठियां लिख चुका हूं। लेकिन आज तक उन चिट्ठियों का कोई जवाब नहीं आया। उन्होंने कहा कि प्रमोद जैन भाया द्वारा किए गए भ्रष्टाचार को बांरा-झालावाड़ में स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है।’

पायलट ने भ्रष्टाचार को लेकर मेरे मन की बात उठाई
विधायक भरत सिंह ने वसुंधरा सरकार में हुए भ्रष्टाचार के मामले में पायलट के आंदोलन को पूरी तरह जायज बताया है। उन्होंने कहा कि पायलट ने भ्रष्टाचार को लेकर मेरे मन की बात कही है। उन्होंने भ्रष्टाचार के मुद्दे को लेकर सचिन पायलट का पूरी तरह से समर्थन दिया है। इसके अलावा इस मुद्दे को लेकर सचिन पायलट को धन्यवाद भी दिया है। उन्होंने कहा कि पायलट भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ते हैं और मैं भी भ्रष्टाचार के खिलाफ खूब बोल चुका हूं।

प्रमोद जैन भाया पर भ्रष्टाचार के आरोप से सियासत में हड़कंप
सचिन पायलट द्वारा गहलोत पर वसुंधरा के साथ मिलीभगत के आरोप को लेकर कांग्रेस में पहले ही बवाल मचा हुआ है। जिसको लेकर सचिन पायलट ने 11 मई से भ्रष्टाचार के खिलाफ जन संघर्ष यात्रा शुरू कर दी है। इसी बीच कांग्रेस के विधायक भरत सिंह ने खनन मंत्री प्रमोद जैन भाया पर भ्रष्टाचार के सीधे आरोप लगाकर सियासी हलकों में बड़ी बहस को जन्म दे दिया है। इस दौरान भरत सिंह ने पायलट की भांति सीएम गहलोत पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ मंत्री की शिकायत को लेकर सीएम को कई बार चिट्ठियां लिखी गई। लेकिन उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। चुनावी साल के चलते कांग्रेस अपने ही विधायकों द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों से बुरी तरह से घिर चुकी है। अब देखना है कि आगामी विधानसभा चुनाव में सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार का मुद्दा कांग्रेस को कितना भारी पड़ता हैं।

About bheldn

Check Also

विजयन के टारगेट करने पर कांग्रेस ने साफ किया CAA पर स्टैंड, चिदंबरम ने बताया सरकार बनने पर क्या करेंगे

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस की अगुवाई वाली I.N.D.I.A अलायंस अगर सत्ता में आया तो पार्टी सीएए को …