BharatPe पर अशनीर ग्रोवर का पलटवार, बोले- ‘खत्म हो गई वैल्यू…’

नई दिल्ली,

चर्चित बिजनेस शो शार्क टैंक इंडिया के पूर्व जज और भारत-पे के को-फाउंडर अशनीर ग्रोवर को बड़ा झटका लगा है. आर्थिक अपराध शाखा (EOW) ने धोखाधड़ी के मामले में अशनीर, उनकी पत्नी माधुरी जैन समेत परिवार के अन्य सदस्यों पर विभिन्न धाराओं में एफआईआर (FIR) दर्ज की है. उनके ऊपर ये कार्रवाई एक फिनटेक यूनिकॉर्न द्वारा की गई शिकायत के आधार पर की गई है. बीते साल भारत-पे और अशनीर ग्रोवर विवाद खासा चर्चा में रहा था.

Ashneer Grover ने अपने और परिवार के सदस्यों पर की दर्ज की गई एफआईआर के बाद एक इंटरव्यू में फिनेटक फर्म भारतपे (BharatPe) और कंपनी के चेयरमैन रजनीश कुमार (Rajnish Kumar) पर पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि भारतपे अब एक 3 अरब डॉलर का राइट-ऑफ मात्र है और इसकी वैल्यू को खत्म कर दिया गया है.

81 करोड़ की धोखाधड़ी का है मामला
बिजनेस टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, फिनटेक कंपनी BharatPe ने अशनीर ग्रोवर और उनके परिवार के सदस्यों पर 81 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाया है. EOW की कार्रवाई पर भारत-पे की ओर से एक जारी किए गए एक बयान में इस कदम का स्वागत किया गया है. कंपनी प्रवक्ता ने कहा कि हम ग्रोवर, उनकी पत्नी माधुरी जैन और परिवार के अन्य सदस्यों द्वारा आपराधिक अपराधों के संबंध में कंपनी की शिकायत में दिल्ली पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा द्वारा प्राथमिकी दर्ज किए जाने का स्वागत करते हैं.

अशनीर फैमिली पर लगे ये आरोप
हालांकि, इस मामले में अब तक अशनीर ग्रोवर की ओर से कोई टिप्पणी नहीं की गई है. बता दें BharatPe ने दिसंबर 2022 में अशनीर के खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की थी. गबन, धोखाधड़ी, पैसों की हेरा-फेरी, जालसाजी समेत उनके, उनकी पत्नी माधुरी और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. इसके अलावा फिनटेक फर्म ने उनपर झूठे बिल बनाने, फर्जी वेंडरों को लिस्ट करने और हायरिंग के लिए कंपनी से अधिक पैसे वसूलने का भी आरोप लगाया.

कौन-कौन बनाए गए आरोपी?
दर्ज की गई एफआईआर में अशनीर ग्रोवर समेत उनके परिवार के पांच सदस्यों को शामिल किया गया है. इनमें ग्रोवर की पत्नी माधुरी जैन ग्रोवर, उनके साले श्वेतांक जैन, दीपक गुप्ता और सुरेश जैन शामिल हैं. केस दर्ज होने के बाद अब आर्थिक अपराध शाखा के पास सभी आरोपियों को गिरफ्तार करने का भी अधिकार है.

FIR की मुख्य बातें
अशनीर ग्रोवर और अन्य पर 86 जाली और झूठे चालानों के आधार पर फर्जी एचआर कंसल्टेंटों को 7.6 करोड़ रुपये का अवैध भुगतान करने का आरोप लगाया है. भारत-पे के को-फाउंडर पर परिवार के सदस्यों द्वारा यूज की गई ट्रैवल एजेंसियों की सेवाओं के एवज में अवैध भुगतान करने का भी आरोप लगाया है.इसके अलावा आर्थिक अपराध शाखा ने अशनीर ग्रोवर की पत्नी माधुरी जैन ग्रोवर पर मामले से संबंधित तमाम सबूतों को नष्ट करने का आरोप लगाया है.

10 साल तक की हो सकती है सजा!
अशनीर ग्रोवर और उनके परिवार के सदस्यों पर जिन गंभीर आरोपों के तहत मामला दर्ज किया गया है, अगर वो साबित हो जाता है, तो उन्हें 10 साल तक की जेल हो सकती है. अपराधिक मामले के तहत अशनीर ग्रोवर और उनकी पत्नी पर 409 (लोक सेवक या बैंकर, व्यापारी या एजेंट द्वारा विश्वास का आपराधिक उल्लंघन), 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति की डिलीवरी के लिए प्रेरित करना) धारा 467 (बहुमूल्य सुरक्षा, वसीयत आदि की जालसाजी), 120बी (आपराधिक साजिश) समेत आठ धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की गई है.

 

About bheldn

Check Also

भारत के 4 मसालों में कैंसर पैदा करने वाला केमिकल, विदेश में लगा बैन, घरों में खूब होता है इस्तेमाल

भारत के मसालों का जिक्र किए बिना दुनिया का इतिहास पूरा नहीं किया जा सकता …