‘सोनिया गांधी मुझसे मिलने जेल आई थीं और कहा…’, बंपर जीत पर शिवकुमार भावुक

नई दिल्ली,

कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस की बंपर जीत पर प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार की प्रतिक्रिया आई है. मीडिया से बात करते हुए वह भावुक भी हो गए. शिवकुमार ने कहा कि मैंने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से जो वादा किया था, वह निभाया. इसी के साथ उन्होंने विश्वास दिखाने के लिए गांधी परिवार और सिद्धारमैया का शुक्रिया भी किया. बता दें कि कांग्रेस की जीत के बाद अब कर्नाटक का सीएम कौन बनेगा इसपर सस्पेंस बना हुआ है.

चुनावी नतीजों के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार ने कहा कि मैंने सोनिया गांधी और राहुल गांधी से जो वादा किया था, वो मैंने निभा दिया. मैं कर्नाटक की जनता से उनके पैरों में पड़कर आशीर्वाद मांगता हूं और उन्हें समर्थन के लिए धन्यवाद देता हूं.

शिवकुमार ने आगे कहा लोगों ने हमपर विश्वास किया और वोट दिया. कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने पुराना किस्सा भी याद किया. वह बोले कि मैं नहीं भूल सकता, जब सोनिया गांधी मुझसे मिलने के लिए जेल आई थीं. उन्होंने मुझपर भरोसा जताया था. मैं विश्वास दिखाने के लिए गांधी परिवार और सिद्धारमैया समेत सभी पार्टी नेताओं का धन्यवाद करता हूं.

कर्नाटक में किसको कितनी सीट
कर्नाटक में कांग्रेस सेंचुरी लगा चुकी है. वह 101 सीट जीत चुकी है. वहीं 35 सीटों पर आगे चल रही है. दूसरे नंबर पर भारतीय जनता पार्टी है. उसने 48 सीटें अबतक जीती हैं. वहीं 16 पर पार्टी आगे है. तीसरे नंबर पर क्षेत्रीय पार्टी जनता दल सेक्यूलर (JDS) है, उसे अबतक 16 सीट मिली हैं.

आक्रमक प्रचार के बावजूद बीजेपी की हार
कर्नाटक में कांग्रेस ने बीजेपी के सत्ता में वापसी के सपने को तोड़ दिया है. इतना ही नहीं बीजेपी के कई बड़े नेताओं और मंत्रियों को शिकस्त मिली है. कर्नाटक चुनाव में हार के बाद सीएम बसवराज बोम्मई को बयान भी आ गया है. उन्होंने हार की जिम्मेदारी ली और कहा कि पार्टी मीटिंग में इसपर चर्चा की जाएगी कि क्या हमारे खिलाफ गया. बोम्मई ने आगे कहा कि अंदरूनी लड़ाई के साथ-साथ कुछ अन्य कारण थे जिसकी वजह से ऐसा हुआ. बोम्मई बोले कि पार्टी अब लोकसभा चुनाव की तैयारी में जुटेगी. शिगांव विधानसभा सीट से अपनी जीत पर बोम्मई बोले, ‘मुझे चौथी बार जीत दिलाने के लिए शिगांव की जनता का शुक्रिया.’

दूसरी तरफ कांग्रेस के लिए यह जीत खास है. कर्नाटक कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे का भी राज्य है. उन्होंने जीत के बाद खुद को वैसे ही कर्नाटक का भूमिपुत्र बताया जैसा कि पीएम मोदी खुद को गुजरात का बेटा बताते हैं. कांग्रेस की जीत पर राहुल गांधी का बयान भी आया है. उन्होंने कहा कि नफरत का बाजार बंद हो गया.

सीएम पर सस्पेंस
नतीजों से साफ है कि कर्नाटक में कांग्रेस सरकार बना रही है. लेकिन अभी सीएम फेस पर सस्पेंस है. कांग्रेस की तरफ से डीके शिवकुमार और सिद्धारमैया का नाम आगे चल रहा है. डी के शिवकुमार कर्नाटक के प्रदेश अध्यक्ष हैं, तो वहीं पूर्व सीएम सिद्धारमैया कर्नाटक के बड़े नेता हैं. अब तक की जानकारी के मुताबिक, पार्टी विधायक सीएम चुनने का फैसला कांग्रेस आलाकमान पर छोड़ेंगे.

सीएम पद के लिए शिवकुमार के दावे को मजबूत किया जा रहा है. उनके समर्थक बोल रहे हैं कि सिद्धारमैया ने जब 2019 में हार के बाद कांग्रेस विधायक दल के नेता से इस्तीफा दिया था कब शिवकुमार ने इस चुनौती को संभाला था. समर्थकों का कहना है कि कोविड में भी शिवकुमार ने 24 घंटे काम किया, इसी के साथ सोनिया और खगड़े की तरफ से भी उनको सपोर्ट है. एक समर्थक ने कहा, ‘शिवकुमार ने जेल जाने को बीजेपी ज्वाइन करने से बेहतर समझा और हमेशा पार्टी के साथ खड़े रहे.’

 

About bheldn

Check Also

सात फेरों की गांठ खोलकर दुल्‍हन बोली- शादी नहीं करनी, वजह सुनकर सब रह गए हैरान

कानपुर: कानपुर में बाराती उस समय हैरान रह गए जब दुल्‍हन ने चौथा फेरा लेने …